कारोबार

Vodafone-Idea:को मिली नयी पहचान Vi, नए नाम के साथ नया लोगो और ऐप लॉन्‍च

Khaskhabar/Vodafone-Idea को अब VI नाम से जाना जाएगा। सोमवार को कंपनी ने अपना नया ब्रांड नेम और लोगो लॉन्‍च किया। VI नाम को दोनों कंपनियों के शुरुआती अक्षर, यानी Vodafone के V और Idea के I को मिलाकर बनाया गया है। दो साल पहले विलय के बाद से अब तक दोनों कंपनियां वोडाफोन-आइडिया नाम से काम कर रही थीं, लेकिन अब ये VI बन गई हैं।

Vodafone-Idea
Posted by khaskhabar

कंपनी ने कहा है कि आने वाले समय में वोडाफोन-आइडिया की संयुक्त पहचान VI होगी। कंपनी के पास मजबूत और विश्वसनीय नेटवर्क है। यह डिजिटल दौर में भारतीय ग्राहकों की उम्मीद पर खरा उतरेगी। 4G के साथ-साथ कंपनी के पास 5G रेडी टेक्नोलॉजी भी है। हालांकि, कंपनी 4G में भी निवेश जारी रखेगी।

नई ब्रैंडिंग की घोषणा के साथ ही Vodafone-Idea (VI) ने नया Vi App और नई वेबसाइट www.myvi.in भी लॉन्‍च की। हालांकि, कंपनी की पुरानी वेबसाइट भी काम करती रहेगी। बता दें कि वोडाफोन-आइडिया का विलय 31 अगस्‍त 2018 को हुआ था। विलय की गई कंपनी का नाम बदलकर वोडाफोन आइडिया लिमिटेड कर दिया गया था। अब इन्‍हें VI नाम दिया गया है।

Vodafone-Idea
Posted by khaskhabar

कंपनी के एमडी और सीईओ रविंदर ठक्कर ने कहा, ‘ब्रांड एकीकरण न केवल दुनिया के सबसे बड़े दूरसंचार विलय के पूरा होने का प्रतीक है, बल्कि हमें हमारे भविष्य के सफर में हमारे मजबूत 4 जी नेटवर्क पर 1 बिलियन भारतीयों को विश्व स्तरीय डिजिटल अनुभव प्रदान करने के लिए भी निर्धारित करता है.’

Vodafone-Idea:टैरिफ बढ़ोतरी के संकेत

नए नाम और नए लोगो की लॉन्चिंग के दौरान कंपनी ने नए प्लान्स की घोषणा तो नहीं की, लेकिन बेहतर सर्विस के साथ ही टैरिफ बढ़ोतरी के संकेत दिए हैं। सीईओ ठक्कर ने कहा है कि कंपनी टैरिफ में बढ़ोतरी के लिए तैयार है। नए टैरिफ से कंपनी को ARPU (एवरेज रेवेन्‍यू प्रति यूजर) सुधारने में मदद मिलेगी। वोडाफोन-आइडिया का ARPU अभी 114 रुपये है, जबकि एयरटेल और जियो का क्रमशः 157 रुपये और 140 रुपये है।

यह भी पढ़े —कानपुर आईसीडी में पंद्रह वर्षों से कंटेनर में बंद पड़ी है मिसाइलें, डिफ्यूज करने के लिए बुलाई गई पीएसी

वोडाफोन आइडिया के प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) रविंदर टक्कर ने कहा, ‘दो साल पहले वोडाफोन आइडिया का विलय हुआ था। उस समय से हम अपने दोनों के बड़े नेटवर्क, लोगों तथा प्रक्रियाओं के एकीकरण पर विचार कर रहे हैं।’ उन्होंने कहा कि ब्रांड एकीकरण से न केवल दुनिया का सबसे बड़ा दूरसंचार विलय पूरा हो गया है, बल्कि यह कंपनी के लिए भविष्य का रास्ता भी तैयार करेगा। हमारा लक्ष्य अपने 4जी नेटवर्क पर एक अरब भारतीयों को मजबूत डिजिटल अनुभव प्रदान करने का है।

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जाने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar
फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है|