Uttar Pradesh gets first place in developing smart city
राष्ट्रीय

संचालित स्मार्ट सिटी को विकसित करने में उत्तर प्रदेश को पहला स्थान हुआ प्राप्त

Khaskhabar/स्मार्ट सिटी मिशन के तहत संचालित स्मार्ट सिटी को विकसित करने में उत्तर प्रदेश ने पहला स्थान प्राप्त किया है। दूसरे स्थान पर मध्य प्रदेश और तीसरे स्थान पर तमिलनाडु रहा है।स्मार्ट सिटी मिशन, अमृत योजना और प्रधानमंत्री शहरी आवास योजना की छठी वर्षगांठ के मौके पर शुक्रवार को स्मार्ट सिटी अवार्ड-2020 घोषित किया गया।देश के सभी स्मार्ट शहरों में पहला स्थान संयुक्त रूप से मध्य प्रदेश के इंदौर और गुजरात के सूरत शहर को हासिल हुआ है। केंद्रशासित प्रदेशों में चंडीगढ़ अव्वल घोषित किया गया है।

Khaskhabar/स्मार्ट सिटी मिशन के तहत संचालित स्मार्ट सिटी को विकसित करने में उत्तर प्रदेश ने पहला स्थान प्राप्त किया है। दूसरे स्थान पर मध्य प्रदेश और तीसरे स्थान पर तमिलनाडु रहा है।
Posted by khaskhabar

अहमदाबाद, वाराणसी और रांची को स्मार्ट सिटी लीडरशिप का अवार्ड प्राप्त हुआ

कोरोना संक्रमण के चलते पिछले साल अवार्ड की घोषणा नहीं की जा सकी थी।स्मार्ट सिटी मिशन के तहत शहरों को अवार्ड देने के लिए चयन का आधार वहां के गवर्नेंस, कल्चर, शहरी वातावरण, अर्थव्यवस्था, रोजगार, पेयजल आपूर्ति और शहरी परिवहन को बनाया गया है।अहमदाबाद, वाराणसी और रांची को स्मार्ट सिटी लीडरशिप का अवार्ड प्राप्त हुआ है.इस बार कोरोना प्रबंधन को इसमें जोड़ा गया है।

शहरी विकास मंत्री हरदीप ¨सह पुरी ने अवार्ड प्राप्त करने वाले राज्यों व शहरों के नामों की घोषणा करते हुए कहा, ‘हमने 2018 में इसकी शुरुआत की थी। इंडिया स्मार्ट सिटीज अवार्ड कांटेस्ट से शहरों को यह मौका मिलता है कि उनकी ओर से व्यवस्था को सुधारने के लिए क्या-क्या नए प्रयोग किए गए हैं, यह बताएं। अवार्ड प्राप्त करने वाले शहरों की उपलब्धियों को दूसरे शहर अपने यहां लागू करते हैं।’

स्मार्ट सिटी की रैकिंग में संयुक्त रूप से हासिल किया सर्वोच्च स्थान

कोरोना से निपटने के लिए कंट्रोल सेंटर को भी इसके लिए एक आधार बनाया गया है। इसके अलावा इंटेलिजेंस ट्रैफिक मैनेजमेंट, अर्बन एन्वायरमेंट, स्मार्ट वाटर मैनेजमेंट, वेस्ट टू एनर्जी जनरेशन और कुछ मानकों को भी शामिल किया गया है।

स्मार्ट सिटी अवा‌र्ड्स 2020 के लिए पांच कैटेगरी तय

बता दें कि स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत इंदौर में 5,099.6 करोड़ रुपये की परियोजनाओं पर काम चल रहा है। सूरत में 2,597 करोड़ रुपये की परियोजना पर काम जारी है।स्मार्ट सिटी अवा‌र्ड्स 2020 के लिए पांच कैटेगरी तय की गई हैं। इंदौर और सूरत ने एक बार फिर से स्मार्ट सिटी की रैकिंग में संयुक्त रूप से सर्वोच्च स्थान हासिल किया है। इससे पहले सूरत ने 2018 में यह अवार्ड हासिल किया था।

स्मार्ट शहरों को ‘फोर स्टार’ रे¨टग से नवाजा गया

देश में कुल एक सौ स्मार्ट सिटी विकसित हो रहे हैं। इनमें से नौ प्रमुख स्मार्ट शहरों को ‘फोर स्टार’ रे¨टग से नवाजा गया है। इनमें सूरत, इंदौर, अहमदाबाद, पुणे, विजयवाड़ा, राजकोट, विशाखापत्तनम, ¨पपरी-¨चचवाड़ और वडोदरा प्रमुख हैं।उत्तर प्रदेश के सहारनपुर को भी इसी कैटेगरी में राउंडवाइज विजेता घोषित किया गया।

यह भी पढ़े —जेपी के 20,000 निवेशकों को बुधवार को बड़ी राहत,स्टेक होल्डर की 10 दिन चली वोटिंग

जल संरक्षण और पेयजल आपूर्ति के मामले में साझा विजेता घोषित

स्वच्छता कैटेगरी में तिरुपति और इंदौर को संयुक्त विजेता घोषित किया गया है। उत्तर प्रदेश के आगरा को आर्थिक रूप से विकसित करने वाले में दूसरा स्थान हासिल हुआ है। वहां माइक्रो स्किल डेवलपमेंट सेंटर को पहचान मिली है। देहरादून और वाराणसी को जल संरक्षण और पेयजल आपूर्ति के मामले में साझा विजेता घोषित किया गया है। कोविड इनोवेशन अवार्ड पाने वालों में वाराणसी व महाराष्ट्र के कल्याण-डोंबीवली को संयुक्त अवार्ड मिला है।

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जानने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है|