UP government will provide free ration to poor in May and June with the facility of National Ration Portability
राष्ट्रीय

नेशनल राशन पोर्टेबिलिटी की सुविधा के साथ उत्तर प्रदेश सरकार देगी गरीबों को मई और जून में मुफ्त राशन

Khaskhabar/कोरोना महामारी काल में लोगों को राहत देने में जुटी उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार गरीबों के लिए बड़ा कदम उठाया है। राज्य सरकार पीडीएस अंतर्गत पात्र गृहस्थी और अंत्योदय कार्ड धारक को मई और जून माह में निशुल्क राशन देगी। सीएम योगी आदित्यनाथ ने निर्देश दिया है कि ई-पॉश मशीनों से नेशनल राशन पोर्टेबिलिटी की सुविधा के साथ अधिकाधिक लोगों को लाभांवित किया जाए। राज्य सरकार द्वारा दिया जा रहा यह राशन केंद्र सरकार के एनएफएसए अंतर्गत मई और जून माह के लिए घोषित निशुल्क राशन के अतिरिक्त होगा।

Khaskhabar/कोरोना महामारी काल में लोगों को राहत देने में जुटी उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार गरीबों के लिए बड़ा कदम उठाया है। राज्य सरकार पीडीएस अंतर्गत पात्र गृहस्थी और अंत्योदय कार्ड धारक को मई और जून माह में निशुल्क राशन देगी। सीएम योगी आदित्यनाथ ने निर्देश दिया है कि ई-पॉश मशीनों से नेशनल राशन पोर्टेबिलिटी की सुविधा के साथ
Posted by khaskhabar

सीएम योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को टीम 11 के साथ वर्चुअल बैठक में विभिन्न निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि ऑक्सीजन प्लांट की स्थापना के लिए निजी क्षेत्र की ओर से निवेश के कई बड़े प्रस्ताव मिले हैं। यह न केवल भविष्य में ऑक्सीजन उत्पादन को बढ़ाने वाले होंगे, बल्कि रोजगार सृजन के दृष्टिगत भी महत्वपूर्ण सिद्ध होंगे। उन्होंने कहा कि कोविड की पिछली लहर में आयुष विभाग की भूमिका सराहनीय रही थी। इस बार उन्हें उसी तत्परता के साथ सक्रिय होने की आवश्यकता है। लोगों को आयुष काढ़ा सहित अन्य उपयोगी औषधियां मुहैया कराई जाएं।

टीम वर्क से मिल रहे अच्छे परिणाम

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आइसीसीसी से भेजे गए मरीज को भर्ती करना अस्पतालों के लिए अनिवार्य है। रिक्त बेड्स के बारे में हर दिन दो बार सार्वजनिक रूप से जानकारी दी जाए। सरकारी अस्पताल में बेड नहीं खाली है तो निजी अस्पतालों में भर्ती कराया जाए, अगर मरीज भुगतान में सक्षम नहीं है तो राज्य सरकार भुगतान करेगी। लेकिन एक भी मरीज को इलाज से वंचित नहीं रखा जाएगा। सभी जिलों में यह व्यवस्था सुनिश्चित कराई जाए। उन्होंने कहा कि कोविड प्रबंधन की दिशा में टीम वर्क से अच्छे परिणाम मिल रहे हैं। लगभग एक सप्ताह से प्रदेश के रिकवरी दर में हर दिन सुधार देखने को मिल रहा है। सभी प्रदेशवासी कोविड विहेवियर के अनुरूप आचरण करें। मास्क, सैनिटाइजर और दो गज दूरी के सिद्धांत को व्यवहार में लाएं।

अस्पतालों और ऑक्सीजन प्लांट की सुरक्षा के इंतजाम

सीएम योगी आदित्यनाथ ने निर्देश दिया है कि अस्पतालों और ऑक्सीजन प्लांट की सुरक्षा के सभी जरूरी इंतजाम किए जाएं। इन संवेदनशील स्थलों पर पुलिस बल की तैनाती रहे। जिलों में कंटेनमेंट जोन और क्वारन्टीन सेंटरों की व्यवस्था को सुदृढ किया जाए। सभी गांवों में क्वारन्टीन सेंटर तैयार किये जाएं। आइसीसीसी और पब्लिक एड्रेस सिस्टम की व्यवस्था को बेहतर किए जाने की जरूरत है.

ऑक्सीजन की आपूर्ति हर दिन बेहतर

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सरकार सभी विकल्पों का प्रयोग कर रही है। प्रदेश के हर एक मरीज को चाहे वह अस्पताल में उपचाराधीन हो अथवा होम आइसोलेशन में हो, हम ऑक्सीजन, जीवनरक्षक दवा व अन्य सभी आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए सभी जरूरी प्रयास किए जा रहे हैं। प्रदेश में ऑक्सीजन की आपूर्ति हर दिन बेहतर करने का प्रयास किए जा रहें हैं कल लगभग 630 मीट्रिक टन ऑक्सीजन की आपूर्ति हुई है।

दो गुना की जाए टेस्टिंग क्षमता

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि चार करोड़ टेस्ट के साथ उत्तर प्रदेश सर्वाधिक कोविड टेस्ट करने वाला राज्य है। इसे लगातार बढ़ाये जाने की जरूरत है। सभी निजी और सरकारी प्रयोगशालाओं की क्षमता को दोगुना किया जाए। उन्होंने कहा कि  संक्रमण की दृष्टि से हमें सभी परिस्थितियों के लिए तैयार रहना होगा। अगले कुछ दिनों के भीतर प्रदेश में कोविड डेडिकेटेड बेड्स की वर्तमान क्षमता को दोगुना किया जाए। 

जीवनरक्षक दवाओं की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित हो

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि मेडिकल कॉलेजों, अस्पतालों को रेमेडेसीवीर आवंटित किया गया है। जरूरतममंदों की मदद के लिए डीएम और सीएमओ को भी रेमेडेसीवीर उपलब्ध कराया गया है। केंद्र सरकार ने 30 अप्रैल तक की अवधि के लिए उत्तर प्रदेश को रेमेडेसीवीर के 1,61000 वॉयल आवंटित किए हैं।

अधिकारी फोन जरूर रिसीव करें

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आपदा की स्थिति में हमें अतिरिक्त संवेदनशील होने की जरूरत है। यदि कोई मरीज अथवा परिजन क्षणिक आवेश में नाराजगी जाहिर करता है तो भी उससे संवेदना पूर्ण व्यवहार ही किया जाए। सभी अधिकारी फोन जरूर रिसीव करें। लगातार जनता से संपर्क में रहें। आइसीसीसी सहित सभी हेल्पलाइन को प्रभावी बनाया जाए। एम्बुलेंस और अन्य वाहन, लोगों की जरूरत पर यथाशीघ्र उपलब्ध होने चाहिए। 

यह भी पढ़े –लॉकडाउन में 11 किसानों ने लॉन्च किया ऑनलाइन ऐप;मार्केट बंद हुआ तो एक साल में 9 करोड़ पहुंचा टर्नओवर

50-50 लाख डोज के ऑर्डर

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उत्तर प्रदेश सर्वाधिक टीकाकरण करने वाला राज्य है। प्रदेश में टीकाकरण अभियान तेजी से चल रहा है। दोनों स्वदेशी वैक्सीन निर्माता कंपनियों से सतत संपर्क बनाए रखा जाए। 50-50 लाख डोज के ऑर्डर दे दिए गए हैं। आवश्यकतानुसार और आर्डर दिए जाएं। एक मई से 18 वर्ष से अधिक आयु के लोगों का टीकाकरण कराया जाना है। 

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जानने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है|