union-govt-has-given-y-category-security-to-adar-poonawalla-of-serum-institute-of-india-then-why-he-left-india-know-the-reason
कारोबार राष्ट्रीय

केंद्र सरकार ने सीरम इंस्टीट्यूट के अदार पूनावाला को दी थी Y कैटिगरी सुरक्षा, फिर भी क्यों छोड़ा देश? जानिए वजह

Khaskhabar/सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के सीईओ अदार पूनावाला लदंन पहुंच गए हैं. उन्हें कुछ समय पहले ही केंद्र सरकार ने वाई श्रेणी की सुरक्षा उपलब्ध कराई थी. लेकिन अदार पूनावाला ने भारत से बाहर जाने का फैसला लिया और वो लंदन में हैं. लंदन में उन्होंने बयान दिया कि उन्हें लगातार धमकी भरे कॉल आ रहे थे, जिसमें वैक्सीन की मांग की जा रही थी. ऐसे में वो लंबे समय तक लंदन में ही रहेंगे, क्योंकि उन्हें भारत में रहना सुरक्षित नहीं लग रहा.

Khaskhabar/सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के सीईओ अदार पूनावाला लदंन पहुंच गए हैं. उन्हें कुछ समय पहले ही केंद्र सरकार ने वाई श्रेणी की सुरक्षा उपलब्ध कराई थी. लेकिन अदार पूनावाला ने भारत से बाहर जाने का
Posted by khaskhabar

पॉवरफुल लोगों की तरफ से मिल रहीं धमकियां

अदार पूनावाला ने कहा कि भारत में कोरोना वैक्सीन की डिमांड बहुत ज्यादा है. देश कोरोना महामारी की दूसरी लहर से जूझ रहा है. ऐसे में उनपर पॉवरफुल लोग दबाव बना रहे हैं कि उन्हे कोरोना वैक्सीन कोविशील्ड सप्लाई की जाए, जो कि मुमकिन नहीं है. उनके लंदन जाने के पीछे इन्हीं धमकियों को जिम्मेदार माना जा रहा है.

भारत से बाहर ले जाएंगे वैक्सीन बनाने का सेंटर? 

अदार पूनावाला ने संकेत दिया वो वैक्सीन बनाने का सेंटर भारत से बाहर भी ले जा सकते हैं. इसमें से ब्रिटेन भी वो जगह हो सकती है. जहां वो वैक्सीन उत्पादन केंद्र स्थापित कर सकते हैं. बुधवार को ही सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया ने राज्यों को बेचे जाने वाले टीके की कीमत घटाने का ऐलान किया था। इससे राज्यों को अब टीके के लिए पहले घोषित 400 रुपये प्रति डोज (खुराक) की जगह 300 रुपये प्रति खुराक की दर से मूल्य चुकाने होंगे। कंपनी की कीमत नीति का लेकर व्यापक स्तर पर आलोचना के बाद यह कदम उठाया गया है क्योंकि सीरम इंस्टिट्यूट अपनी वैक्सीन कोविशील्ड केंद्र सरकार को 150 रुपये प्रति खुराक की दर से बेचती आ रही है।

‘कब तक यहां रहूंगा, मुझे नहीं पता’

अदार पूनावाला ने कहा कि मैं अभी लंदन में ही हूं. कब तक यहां रहूंगा, मुझे नहीं पता. अभी हालात खराब हैं. सारा भार मेरे कंधों पर है. पर मैं ये सब अकेले नहीं कर सकता. पूनावाला ने कहा कि मैं अपना काम कर रहा हूं, लेकिन हर किसी की मांग को पूरा कर पाना मेरे लिए संभव नहीं. उन्होंने कहा कि सब लोग वैक्सीन चाहते हैं, लेकिन हर किसी से पहले.

‘लोगों की उम्मीद और उग्रता का स्तर वास्तव में अभूतपूर्व’

सीरम इंस्टिट्यूट के सीईओ पूनावाला ने इंटरव्यू में आगे कहा, ‘लोगों की उम्मीद और उग्रता का स्तर वास्तव में अभूतपूर्व है। यह बहुत ज्यादा है। सभी को लगता है कि उन्हें वैक्सीन मिलनी चाहिए। वे समझ नहीं सकते कि उनसे पहले किसी और को यह क्यों मिलनी चाहिए।’ उन्होंने इंटरव्यू में संकेत दिया कि उनकी लंदन यात्रा भारत के बाहर वैक्सीन निर्माण बढ़ाने की व्यावसायिक योजनाओं से भी जुड़ी हुई है और लंदन उनकी पसंद में शामिल हो सकता है। 

यह भी पढ़े-सिंगापुर से बंगाल के पनागर में 3 ऑक्सीजन कंटेनरों को भारतीय वायु सेना ने किया एयरलिफ्ट

अदार पूनावाला के डर की वजह क्या? कितना जायज है उनका डर?

बता दें कि 1 मई से देश में 18+ लोगों के लिए भी वैक्सीनेशन की शुरुआत कर दी गई है। देश के कुछेक हिस्सों को छोड़कर अभी ज्यादातर राज्यों ने वैक्सीन के अभाव में 18+ लोगों के वैक्सीनेशन की शुरुआत को लेकर कोई घोषणा नहीं की है। भारत में वैक्सीनेशन के लिए फिलहाल सीरम इंस्टिट्यूट की कोविशील्ड और भारत बायोटेक की कोवैक्सीन का ही सहारा है। ऐसे में साफ है कि इन दोनों कंपनियों पर वैक्सीन उत्पादन का अभूतपूर्व दबाव है।

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जानने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है|