Ukraine will be discussed again in UNSC, meeting has been called for the second time in a week
दुनिया

UNSC में फिर होगी यूक्रेन पर चर्चा, एक सप्ताह में दूसरी बार बुलाई गई है बैठक

Khaskhabar/यूक्रेन के आग्रह पर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने भारतीय समयानुसार गुरुवार सुबह 8 बजे एक आपात बैठक बुलाई है। यूक्रेन ने UNSC सेे रूसी हमले के खतरे को लेकर यह आग्रह किया है। दूसरी ओर क्रेमलिन ने दावा किया है कि पूर्वी यूक्रेन के विद्रोही नेताओं की ओर से मास्को से सैन्य सहायता की मांग की गई है ताकि कीव के खिलाफ कार्रवाई की जा सके।

Khaskhabar/यूक्रेन के आग्रह पर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने भारतीय समयानुसार गुरुवार सुबह 8 बजे एक आपात बैठक बुलाई है। यूक्रेन ने UNSC सेे रूसी हमले के खतरे को लेकर यह आग्रह
UNSC-posted by khaskhabar

बैठक स्थानीय समयानुसार बुधवार रात 9.30 बजे के लिए निर्धारित की गई

विदेश मंत्री मित्रो कुलेबा (Dmytro Kuleba) ने रूस के UNSC दूत वास्सिलि नेबेन्जिया (Vassily Nebenzia) को पत्र लिखकर बैठक की अपील की जो फरवरी में परिषद की अध्यक्षता कर रहे हैं। यह बैठक स्थानीय समयानुसार बुधवार रात 9.30 बजे के लिए निर्धारित की गई है।

परिषद के सभी राजनयिक एक मसौदा तैयार कर रहे

दो दिन पहले 15 सदस्यीय परिषद की ओपन मीटिंग बुलाई गई थी। इस मीटिंग में रूसी राष्ट्रपति व्लादीमिर पुतिन के पूर्वी यूक्रेन में विद्रोही इलाकों को स्वतंत्र देश घोषित करनेे और वहां शांति बनाने के लिए रूसी सैनिकों को भेजने वाले फैसले को समर्थन नहीं मिला था। बता दें कि परिषद के सभी राजनयिक एक मसौदा तैयार कर रहे हैं।

रूस ने UN चार्टर, अंतरराष्ट्रीय कानून और मिंस्क समझौते का उल्लंघन किया

इनका कहना है कि इसमें यह स्पष्ट दिखाया जाएगा कि रूस ने UN चार्टर, अंतरराष्ट्रीय कानून और मिंस्क समझौते का उल्लंघन किया है। रूसी सैनिकों के यूक्रेन की सीमा में दाखिल होने और कीव स्थित रूसी दूतावास खाली किए जाने के कारण डोनेस्क और लुहांस्क के जिन इलाकों पर यूक्रेन की सेना का कब्जा है, वहां से लोगों का पलायन शुरू हो गया है।

जरूरी सामानों की बिक्री बढ़ गई

यूक्रेन की राजधानी कीव समेत यहां के प्रमुख शहरों और सीमावर्ती इलाकों में लोग चिंतित हैं। जरूरी सामानों की बिक्री बढ़ गई है और लोग सुरक्षित स्थानों पर जाने लगे हैं।जर्मनी की राजधानी बर्लिन और फ्रांस की राजधानी पेरिस में कई प्रमुख इमारतों को यूक्रेन के समर्थन में नीले और पीले रंग से पेंट किया गया है।

यह भी पढ़े —भारत पहुंचे तीन और राफेल लड़ाकू विमान; 36 में से 35 की हुई डिलीवरी

यूक्रेन पर इन दिनों रूस के हमले का खतरा बना हुआ

यूक्रेन का नीले और पीले रंग का राष्ट्रध्वज है। बर्लिन में ब्रैंडेनबर्ग गेट तो पेरिस में सिटी हाल को यूक्रेन के ध्वज के रंग में पेंट करके यूक्रेन के प्रति समर्थन व्यक्त किया है। यूक्रेन पर इन दिनों रूस के हमले का खतरा बना हुआ है।

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जानने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है|