traumatic-accident-in-nashik-11-patients-on-ventilator-died-due-to-oxygen-leakage
राष्ट्रीय

नासिक में दर्दनाक हादसा,ऑक्सीजन लीक होने से वेंटिलेटर पर रहे 22 मरीजों की गई जान,पीड़ितों को 5 लाख का मुआवजा

Khaskhabar/महामारी के इस काल में एक दुखद घटना में, महाराष्ट्र (Maharashtra) के नासिक (Nashik) जिले के एक अस्पताल में वेंटिलेटर पर रहे 22 मरीजों की बुधवार को मृत्यु हो गई। महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे के अनुसार, इन मौत के पीछे ऑक्सीजन टैंकर से गैस लीक (Oxygen Leak) होने का कारण बताया जा रहा है। मंत्री इस पूरी घटना की जांच के आदेश भी दिए हैं। पहले खबर आई थी कि 11 लोगों की मौत हुई, अब ये आंकड़ा बढ़ गया है।

Khaskhabar/महामारी के इस काल में एक दुखद घटना में, महाराष्ट्र (Maharashtra) के नासिक (Nashik) जिले के एक अस्पताल में वेंटिलेटर पर रहे 22 मरीजों की बुधवार को मृत्यु हो गई। महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे के अनुसार, इन मौत के पीछे ऑक्सीजन टैंकर से गैस लीक (Oxygen Leak) होने का कारण बताया जा रहा है।
Posted by khaskhabar

ऑक्सीजन टैंक लीकेज की वजह से हादसा दिल दहला देने वाला

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री कार्यालय (CMO) ने घोषणा की कि मृतक के परिजनों को 5-5 लाख रुपये की आर्थिक सहायता दी जाएगी। नासिक की घटना की जांच के लिए एक उच्च-स्तरीय जांच का आदेश दिया गया है।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने घटना पर दुख जताते हुए कहा, “नासिक के एक अस्पताल में ऑक्सीजन टैंक लीकेज की वजह से हादसा दिल दहला देने वाला है। उससे होने वाले जानमाल के नुकसान से परेशान हूं। इस दुख की घड़ी में शोक संतप्त परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूं।”

नासिक के अस्पताल में वेंटिलेटर पर रहे 11 मरीजों की मौत

COVID-19 रोगियों के लिए नासिक नगर निगम (NMC) के डॉ. जाकिर हुसैन अस्पताल में मरीजों का इलाज किया जा रहा था। मीडिया से बात करते हुए टोपे ने कहा, “हमारे पास मौजूद जानकारी के अनुसार, नासिक के अस्पताल में वेंटिलेटर पर रहे 11 मरीजों की मौत हो गई है।”

उन्होंन बताया, “ये लीकेज ऑक्सीजन टैंक में हुआ है, जिसके जरिए इन मरीजों को ऑक्सीजन की सप्लाई की रही थी। सप्लाई पर प्रभाव पड़ने को ही इन 11 मौतों का कारण कहा जा सकता है।” उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र सरकार इस मामले की विस्तृत जांच करेगी। टोपे ने कहा, “जांच खत्म होने के बाद, हम एक बयान जारी करेंगे।”इस बीच महाराष्ट्र के खाद्य और औषधि प्रशासन मंत्री डॉ. राजेंद्र शिंगणे ने इस घटना को दुर्भाग्यपूर्ण करार दिया और कहा कि जांच का आदेश दिया गया है। उन्होंने कहा, “हमें प्राथमिक जानकारी मिली है कि इस घटना में 11 मरीज़ों की मौत हुई है। इस घटना की जांच करने के बाद दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।”

ऑक्सीजन टैंक भरते समय हुआ हादसा

वहीं केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने नासिक ऑक्सीजन टैंकर लीकेज की घटना में जान गंवाने वाले लोगों को श्रद्धांजली देते हुए कहा, “”दुर्घटना की खबर सुनकर काफी परेशान हूं। मैं इस घटना में अपने प्रियजनों को खोने वाले परिवारों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त करता हूं।”

यह भी पढ़े –अब कपड़े की तरह बार-बार पहनी जा सकेगी मास्क और पीपीई किट,आइआइटी मंडी शोधार्थियों ने किया शोध

राज्य जूझ रहे आॅक्सीजन की किल्लत से.

आॅक्सीजन की किल्लत महाराष्ट्र से लेकर मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, गुजरात सहित कई राज्यों में है।दिल्ली के कई अस्पतालों में तो कुछ ही घंटों का आॅक्सीजन बचा हुआ है। 

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जाने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है|