Terrorists targeted the people of Shia community, bombed a mosque in Kandahar
राष्ट्रीय

आतंकियों ने शिया समुदाय के लोगों को निशाना बनाकर,कंधार में एक मस्जिद में किया बम धमाका

Khaskhabar/आतंकियों ने शिया समुदाय के लोगों को निशाना बनाकर इस हमले को अंजाम दिया। यह घटना उस वक्‍त हुई जब लोग जुमे की नमाज पढ़ रहे थे।तालिबान की वापसी के बाद से अफगानिस्‍तान में हालात बेहद खराब होते जा रहे हैं। अफगानिस्‍तान में आतंकी हमलों में तेजी से बढ़ोतरी देखी जा रही है। समाचार एजेंसी एएनआइ के मुताबिक आतंकियों ने शुक्रवार को कंधार में एक मस्जिद में बम धमाका किया जिसमें 16 लोगों की मौत हो गई है जबकि 70 अन्‍य घायल हुए हैं। 

Khaskhabar/आतंकियों ने शिया समुदाय के लोगों को निशाना बनाकर इस हमले को अंजाम दिया। यह घटना उस वक्‍त हुई जब लोग जुमे की नमाज पढ़ रहे थे।तालिबान की वापसी
Posted by khaskhabar

कट्टरपंथी समूह तालिबान के शासन का विरोधी

एसोसिएटेड प्रेस से फोन पर बात करते हुए मुर्तज़ा ने बताया कि मस्जिद में जुमे की नमाज़ करीब 500 लोग अदा करते हैं। यह कट्टरपंथी समूह तालिबान के शासन का विरोधी है और शिया समुदाय को मूर्तद (धर्मत्यागी) मानता है, जिन्हें मार दिया जाना चाहिए। घायलों में कई की हालत नाजुक बताई जा रही है। स्‍थानीय नेताओं का कहना है कि मृतकों की संख्‍या और बढ़ सकती है। 

उत्तरी शहर कुंदुज में एक शिया मस्जिद पर हुए आत्मघाती बम हमले

तालिबान सरकार के गृह मंत्रालय के प्रवक्ता कारी सईद खोस्ती ने कहा कि अधिकारी इस हमले का विवरण एकत्र कर रहे हैं। यह हमला इस्लामिक स्टेट द्वारा उत्तरी शहर कुंदुज में एक शिया मस्जिद पर हुए आत्मघाती बम हमले के कुछ दिनों बाद हुआ है।प्रत्‍यक्षदर्शियों के मुताबिक तेज आवाज के साथ हुए बम धमाके के बाद मस्जिद धुएं से भर गई थी। धुंआ छंटने पर जब आसपास के लोग मस्जिद के भीतर पहुंचे तो लोगों के क्षत विक्षत शव पड़े थे।

आतंकी समूह इस्लामिक स्टेट ने इस हमले की ली जिम्‍मेदारी

हाल ही में कुंदूज शहर में मस्जिद के भीतर बम विस्फोट हुआ था जिसमें 80 लोग मारे गए थे ज‍बकि कई घायल हुए थे। आतंकी समूह इस्लामिक स्टेट ने इस हमले की जिम्‍मेदारी ली थी। यह बम धमाका भी शुक्रवार को दोपहर के समय उस वक्‍त हुआ जब इलाके के शिया मुसलमान बड़ी संख्या में नमाज पढ़ने के लिए मस्जिद में जमा हुए थे।

यह भी पढ़े —ग्रेटर नोएडा से कर्मचारियों को लेकर आ रही बस फ्लाईओवर से गिरी नीचे,एक की मौत; 9 लोग घायल

सबसे बड़ा हमला 26 अगस्त काबुल एयरपोर्ट के नजदीक हुआ

 गौरतलब है कि 15 अगस्त को काबुल पर तालिबान का कब्जा होने के बाद से अफगानिस्तान में आइएस के लगातार हमले हो रहे हैं। सबसे बड़ा हमला 26 अगस्त काबुल एयरपोर्ट के नजदीक हुआ था जिसमें 169 अफगान और 13 अमेरिकी सैन्यकर्मी मारे गए थे।यही नहीं महीने की शुरुआत में काबुल में मस्जिद के प्रवेश द्वार पर बम विस्फोट हुआ था जिसमें 12 लोगों की मौत हो गई थी। यह विस्फोट तब हुआ था जब काबुल की ईदगाह मस्जिद में सत्तारूढ़ तालिबान के प्रवक्ता जबीउल्ला मुजाहिद की मां की मौत के बाद नमाज पढ़ी जा रही थी।

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जानने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है|