shani-vakri-2021-shani-vakri-prabhav-on-these-5-zodiac-signs
धर्म

शुरू हुई शनि की उल्टी चाल,23 मई से 11 अक्टूबर तक जानिए आपके जीवन पर क्या होगा असर

Khaskhabar/भारतीय धर्मग्रंथों के अनुसार शनि देव गुस्सैल स्वभाव के हैं और रुष्ठ होने पर बहुत कठोर दंड देते हैं। यही वजह है कि उनका नाम सुनते ही अधिकतर लोग डर जाते हैं। हालांकि, शनिदेव जिस पर मेहरबान हो जाते हैं उसका भाग्य चमक जाता है। ऐसे व्यक्ति की दिन दुगनी रात चौगुनी तरक्की होती है। 23 मई से शनिदेव व्रकी होने जा रहे हैं। इसका मतलब है कि उनकी चाल उल्टी हो जाएगी। ऐसी स्थिति में शनिदेव खुद पीड़ित हो जाते हैं और शुभ फल नहीं दे पाते।

Khaskhabar/भारतीय धर्मग्रंथों के अनुसार शनिदेव गुस्सैल स्वभाव के हैं और रुष्ठ होने पर बहुत कठोर दंड देते हैं। यही वजह है कि शनि का नाम सुनते ही अधिकतर लोग डर जाते हैं। हालांकि, शनिदेव जिस पर मेहरबान हो जाते हैं उसका भाग्य चमक जाता है। ऐसे व्यक्ति की दिन दुगनी रात चौगुनी तरक्की होती है।
Posted by khaskhabar

23 मई 2021 रविवार की दोपहर 02.50 मिनट पर शनि वक्री होकर उल्टी चाल चलने लगेंगे। करीब 5 महीने तक उल्टी चाल चलने के बाद 11 अक्टूबर 2021 को शनि फिर से मार्गी होंगे या सीधी चाल चलेंगे। वह एक राशि में लगभग ढाई वर्ष तक गतिशील रहते हैं। इस वजह से इस साल शनिदेव राशि परिवर्तन नहीं करेंगे।

इन राशि वालों को रहना होगा संभलकर

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार तुला राशि, मिथुन राशि पर शनि की ढैय्या और धनु, मकर और कुंभ राशि पर शनि की साढ़ेसाती बनी हुई है. इसलिए इन 5 राशियों को विशेष ध्यान रखने की जरूरत है.ज्योतिष शास्त्र के अनुसार जिस राशि पर शनि दी साढ़ेसाती या ढैय्या चल रही है उन्हें शनि की उल्टी चाल के दौरान सबसे ज्यादा सावधान रहना चाहिए। शनि की उल्टी चाल का सबसे ज्यादा प्रभाव भी इन तीनों राशियों पर पड़ेगा। इन तीनों राशि के जातकों को उनकी उल्टी चाल के दौरान कोई नया काम नहीं शुरू करना चाहिए और साथ ही धन निवेश से भी बचना चाहिए।

शनि ढैय्या और साढ़े साती से बचने के लिए करें ये उपाय

इस दौरान उनके प्रकोप से बचने के लिए हर दिन हनुमान चालीसा का पाठ करना चाहिए. इसके साथ ही शनि के मंत्रों का भी जाप करना चाहिए. निवार को शनि देव से जुड़ी वस्तुओं का दान करें. शनि देव भगवान शिव, भगवान कालभैरव और हनुमान जी की पूजा से प्रसन्न होते हैं.

यह भी पढ़े –Bandish Bandits अभिनेता अमित मिस्त्री का निधन, कार्डियक अरेस्ट के चलते गंवाई जान

मिथुन और तुला राशि के लोगों को भी हो सकती है परेशानी

मिथुन और तुला राशि वालों पर शनि की ढैय्या चल रही है। इन्हें भी अगले 6 महीने सावधान रहने की जरूरत है। उनकी उल्टी चाल के दौरान इन 2 राशि के लोगों को मानसिक तनाव हो सकता है। साथ ही जीवन में उतार चढ़ाव का सामना करना पड़ सकता है। संभव है कि कई बार बहुत ज्यादा मेहनत करने के बाद भी आपको सफलता न मिले।

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जाने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है|