Ruckus on Assam-Mizoram border, Chief Ministers sought intervention of Union Home Minister by tweeting on this issue
राष्ट्रीय

असम-मिजोरम सीमा पर बवाल,मुख्‍यमंत्रियों ने इस मसले पर ट्वीट करके केंद्रीय गृह मंत्री से हस्‍तक्षेप करने की मांग

Khaskhabar/असम-मिजोरम सीमा पर सोमवार को फि‍र हिंसा भड़क गई। सीमा पर (Assam-Mizoram border) झड़प और वाहनों पर हमला किए जाने की भी खबरें हैं। दोनों ही राज्‍यों के मुख्‍यमंत्रियों ने इस मसले पर ट्वीट करके केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से हस्‍तक्षेप करने की मांग की है। इस घटना का एक वीडियो सामने आया है जिसमें लोग लाठियां लिए नजर आ रहे हैं। हालिया तनाव ने दशकों पहले से चले आ रहे विवाद को हवा दे दी है। इसको लेकर सियासत गर्म हो गई है।  

Khaskhabar/असम-मिजोरम सीमा पर सोमवार को फि‍र हिंसा भड़क गई। सीमा पर (Assam-Mizoram border) झड़प और वाहनों पर हमला किए जाने की भी खबरें हैं। दोनों ही राज्‍यों के मुख्‍यमंत्रियों ने इस मस
Posted by khaskhabar

चाहर के रास्‍ते मिजोरम लौटते वक्‍त निर्दोष दंपति पर गुंडों ने हमला

मिजोरम के मुख्‍यमंत्री जोरामथांगा ने मामले में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के हस्‍तक्षेप करने की मांग की है। उन्‍होंने ट्वीट कर कहा कि इसे तुरंत ही रोका जाना चाहिए। एक अन्‍य ट्वीट में उन्‍होंने लिखा- चाहर के रास्‍ते मिजोरम लौटते वक्‍त निर्दोष दंपति पर गुंडों ने हमला बोल दिया और उनकी गाड़ी में तोड़फोड़ की। आखिरकार इस तरह की हिंसक घटनाओं को आप किस तरह न्‍यायोचित ठहराएंगे.

पनी पोस्‍ट से तब तक हटने के लिए कहा है जब तक उनके नागरिक बात नहीं सुनते

वहीं असम के मुख्‍यमंत्री हिमंता बि‍स्‍व शरमा ने ट्वीट कर मिजोरम के मुख्‍यमंत्री से शिकायत करके उनसे मामले में दखल देने की अपील की है। उन्‍होंने कहा- आदरणीय जोरामथांगाजी… कोलासिब (मिजोरम) के एसपी ने हमें अपनी पोस्‍ट से तब तक हटने के लिए कहा है जब तक उनके नागरिक बात नहीं सुनते और हिंसा नहीं रुक जाती। आप बताइए ऐसी परिस्थितियों में हम किस तरह सरकार चला सकते हैं। मुझे उम्‍मीद है आप जल्‍द से जल्‍द इस मामले में दखल देंगे.

सौहार्दपूर्ण बैठक के बाद आश्चर्यजनक रूप से असम पुलिस की दो कंपनियों ने नागरिकों पर लाठीचार्ज

जोरामथांगा ने जवाब दिया और असम पुलिस पर सवाल खड़े किए। उन्‍होंने लिखा- प्रिय हिमंताजी माननीय अमित शाह जी की ओर से मुख्यमंत्रियों की सौहार्दपूर्ण बैठक के बाद आश्चर्यजनक रूप से असम पुलिस की दो कंपनियों ने नागरिकों पर लाठीचार्ज किया। यही नहीं असम पुलिस ने नागरिकों पर आंसू गैस के गोले भी दागे। उन्होंने मिजोरम की सीमा में सीआरपीएफ कर्मियों और मिजोरम पुलिस पर भी धावा बोला।

यह भी पढ़े —सदन एक घंटे के लिए करनी पड़ी स्थगित,विपक्ष ने उठाया पेगासस मुद्दा

हाल ही में अमित शाह ने पूर्वोत्‍तर का दौरा किया

बता दें कि दोनों पड़ोसी राज्यों के बीच सीमा विवाद पुराना है। दोनों राज्‍यों के बीच सीमा विवाद को खत्‍म करने के लिए सन 1995 के बाद से कई वार्ताएं हुई हैं लेकिन इनका कोई फायदा नहीं हुआ है। मिजोरम के तीन जिले आइजोल, कोलासिब और ममित और असम के तीन जिले कछार, करीमगंज और हैलाकांडी एक दूसरे से सटे हुए हैं। दोनों ही राज्‍यों के ये जिले एक दूसरे के साथ लगभग 164.6 किलोमीटर लंबी सीमा साझा करते हैं। मौजूदा विवाद ऐसे वक्‍त में सामने आया है जब हाल ही में अमित शाह ने पूर्वोत्‍तर का दौरा किया था।

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जानने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है|