RBI's action on 2 banks, limit on withdrawal of money
कारोबार

2 बैंकों पर RBI का एक्शन, पैसा निकालने पर लगी लिमिट

khaskhabar/बैंकिंग नियमों (Banking Rules) का सही से पालन नहीं करने के कारण RBI अक्सर बैंकों के ऊपर कार्रवाई करते रहता है. रिजर्व बैंक ने इन बैंकों से पैसों की निकासी को लेकर लिमिट तय कर दिए हैं. बैंक अपनी वित्तीय स्थिति में सुधार होने तक प्रतिबंधों के साथ बैंकिंग कारोबार को जारी रखेंगे.

khaskhabar/बैंकिंग नियमों (Banking Rules) का सही से पालन नहीं करने के कारण RBI अक्सर बैंकों के ऊपर कार्रवाई करते रहता है. रिजर्व बैंक ने इन बैंकों से पैसों की निकासी
Posted by khaskhabar

बिगड़ती वित्तीय स्थिति को देखते हुए उन पर धन निकासी (Withdrawal Limit) सहित कई प्रतिबंध लगाए

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने देश के तीन सहकारी बैंकों के खिलाफ कड़ा एक्शन लिया है. रिजर्व बैंक ने तीन सहकारी बैंकों की बिगड़ती वित्तीय स्थिति को देखते हुए उन पर धन निकासी (Withdrawal Limit) सहित कई प्रतिबंध लगाए हैं. रिजर्व बैंक ने कहा कि तीनों बैंकों पर की गई कार्रवाई को बैंकिंग लाइसेंस रद्द करने के रूप में नहीं माना जाना चाहिए.

प्रतिबंध लगने के चलते जमाकर्ता अपने खातों से राशि नहीं निकाल पाएंगे.

हालांकि, रिजर्व बैंक ने इन बैंकों से पैसों की निकासी को लेकर लिमिट तय कर दिए हैं. अगर आपका भी इनमें से किसी भी बैंक में खाता है, तो आप भी रिजर्व बैंक द्वारा तय निकासी रकम से अधिक नहीं निकाल पाएंगे. केंद्रीय बैंक ने एक बयान में कहा कि जयप्रकाश नारायण नगरी सहकारी बैंक (Jaiprakash Narayan Nagari Sahakari Bank) बासमतनगर पर प्रतिबंध लगने के चलते जमाकर्ता अपने खातों से राशि नहीं निकाल पाएंगे.

सोलापुर में जिनका अकाउंट है, वो अपने खातों से केवल 10,000 रुपये ही निकाल सकते

इसके अलावा द करमाला अर्बन को-ऑपरेटिव बैंक (The Karmala Urban Co-operative Bank) सोलापुर में जिनका अकाउंट है, वो अपने खातों से केवल 10,000 रुपये ही निकाल सकते हैं. आरबीआई ने दुर्गा को-ऑपरेटिव अर्बन बैंक, विजयवाड़ा पर भी प्रतिबंध लगाया है. इसके ग्राहक अपनी जमा राशि से 1.5 लाख रुपये तक की निकासी कर सकते हैं.

1949 के तहत तीन बैंकों पर लगाए गए प्रतिबंध छह महीने तक लागू रहेंगे

बैंकिंग विनियमन अधिनियम, 1949 के तहत तीन बैंकों पर लगाए गए प्रतिबंध छह महीने तक लागू रहेंगे. हालांकि, इनकी समीक्षा की जा सकती है. बैंक अपनी वित्तीय स्थिति में सुधार होने तक प्रतिबंधों के साथ बैंकिंग कारोबार को जारी रखेंगे.

सही से पालन नहीं करने के कारण RBI अक्सर बैंकों के ऊपर कार्रवाई

रिजर्व बैंक छह महीने बीत जाने के बाद तय करेगा कि पाबंदियो को हटाया या नरम किया जाना चाहिए अथवा नहीं. बैंकिंग नियमों (Banking Rules) का सही से पालन नहीं करने के कारण RBI अक्सर बैंकों के ऊपर कार्रवाई करते रहता है.

यह भी पढ़े —पाक की पहली हिंदू महिला डीएसपी मनीषा रोपेटा ने पितृसत्ता से लड़ने का लिया संकल्प

दोनों बैंकों की भी वित्तीय स्थिति खराब

पिछले दिनों आरबीआई ने उत्तर प्रदेश के लखनऊ अर्बन को-ऑपरेटिव बैंक (Lucknow Urban Co-operative Bank) और अर्बन को-ऑपरेटिव बैंक लिमिटेड, सीतापुर (Urban Co-operative Bank Limited, Sitapur) पर प्रतिबंध लगाए हैं.इन दोनों बैंकों की भी वित्तीय स्थिति खराब है. इस वजह से केंद्रीय बैंक ने इनपर प्रतिबंध लगाए हैं. इन बैंकों के ग्राहकों पर भी खाते से पैसे निकालने पर लिमिट लगाई है.

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जानने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है
 |