राष्ट्रीय

Ram Mandir Parijat Tree:पीएम मोदी ने भूमि पूजन के बाद लगाया परिजात का पौधा ,जानिये क्या है विशेषता

Ram Mandir Parijat Tree:आज अयोध्‍या में भगवान श्री राम के भव्‍य और विशाल मंदिर की आधारशिला रखने के लिए भूमि पूजन संपन्‍न हुआ।दुल्‍हन की तरह सजाई गई अयोध्‍या की रंगत आज बेहद खास है। बीती रात यहां पर लाखों दीप प्रज्ज्‍वलित कर दीपावली मनाई गई थी। आज के इस खास और पावन अवसर पर कई गणमान्‍य लोग इस पल के साक्षी बने हैं।

Bhumi Pujan: Ayodhya Ram Mandir PM Modi Will Plant Parijat | Bhumi Pujan:  अयोध्या में पीएम मोदी लगाएंगे पारिजात का पौधा, जिसे देवराज इंद्र ने स्वर्ग  में किया था स्थापित
Posted by khaskhabar

भारत के 130 करोड़ से अधिक लोगों के लिए बुधवार 5 अगस्‍त का दिन बेहद खास बन गया है। खास इसलिए क्‍योंकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज अयोध्‍या में भगवान श्री राम के भव्‍य और विशाल मंदिर की आधारशिला रखने के लिए भूमि पूजन संपन्‍न किया |

साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राम मंदिर के प्रांगण में पारिजात का पौधा भी लगाया है। ये पौधा कोई सामान्‍य पौधा नहीं है। इस पौधे के बारे में कहा जाता है कि पारिजात पौधे को देवराज इंद्र ने स्वर्ग में लगाया था। इस पर सफेद रंग के फूल आते हैं, जो छोटे होते हैं। इस पर आने वाले फूल अन्‍य फूलों से अलग होते हैं। ये फूल रात में खिलते हैं और सुबह पौधे से खुद ही झड़ कर नीचे गिर जाते हैं।

Ram Mandir-परिजात का पौधा को धरती पर लेकर आए थे श्री कृष्‍ण, लक्ष्‍मी को है प्रिय\

images.jagran.com/naidunia/ndnimg/05082020/05_0...
Posted by khaskhabar

आपको बता दें कि परिजात फूल पश्चिम बंगाल का राजकीय पुष्प भी है।पीएम मोदी ने अयोध्‍या में परिजात का पौधा लगाकर उसके और यहां पर बनने वाले श्री राम के मंदिर की अहमियत को दर्शाया है।इस वृक्ष को लेकर हिंदू धर्म में कई तरह की मान्यताएं हैं। इनके मुताबिक, धन की देवी लक्ष्मी को पारिजात के फूल बेहद प्रिय हैं।

मान्‍यता ये भी है कि लक्ष्‍मी की पूजा करने के दौरान यदि उन्‍हें ये फूल चढ़ाए जाएं तो वो बेहद प्रसन्न होती हैं। पूजा के लिए परिजात के लिए उन्‍हीं फूलों का इस्‍तेमाल किया जाता है, जो खुद ही झड़कर नीचे जमीन पर गिर जाते हैं। इन फूलों को पौधे से तोड़कर पूजा में नहीं चढ़ाया जाता है।

PM Modi will plant Parijat in Ram Mandir premises which gets tired by  touching it- Ayodhya में PM मोदी लगाएंगे पारिजात का पौधा, जिसको छूने से ही  मिट जाती है थकान! जानें
Posted by khaskhabar

यह भी पढ़ें-राम मंदिर शिलान्यास से बुरी तरह से जला पाकिस्तान, इमरान के मंत्री ने दिया ये बेतुका बयान

यह औषधीय पौधा हिमालय के नीचे के तराई वाले क्षेत्रों में पाया जाता है। पारिजात का पेड़ 10 से 15 फीट ऊंचा होता है। हालांकि, कहीं-कहीं इसकी ऊंचाई 25 से 30 फीट भी होती है। आपको बता दें कि परिजात की तरह ही यहां पर बनने वाले श्री राम मंदिर की अपनी एक खास अहमियत है। सोशल मीडिया पर लोग सभी देशवासियों को इस दिन के लिए बधाई दे रहे हैं।

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जाने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar
फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है|