PM Modi's announcement from Red Fort, daughters will be able to enroll in military schools
राष्ट्रीय

लाल किले से PM मोदी का ऐलान,सैनिक स्कूलों में भी दाखिला ले सकेंगी बेटियां

 Khaskhabar/प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को घोषणा करते हुए कहा कि देश भर के सभी सैनिक स्कूलों में लड़कियों को अब प्रवेश दिया जाएगा। 75वें स्वतंत्रता दिवस के मैके पर लाल किले से राष्ट्र को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार ने फैसला किया है कि अब हर सैनिक स्कूल के दरवाजे देश की बेटियों के लिए खुले रहेंगे। उन्होंने कहा कि ये देश के लिए गौरव की बात है कि शिक्षा हो या खेल, बोर्ड्स के नतीजे हों या ओलपिंक का मेडल, हमारी बेटियां आज अभूतपूर्व प्रदर्शन कर रही हैं। आज भारत की बेटियां अपना स्पेस लेने के लिए आतुर हैं।

Khaskhabar/प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को घोषणा करते हुए कहा कि देश भर के सभी सैनिक स्कूलों में लड़कियों को अब प्रवेश दिया जाएगा। 75वें स्वतंत्रता दिवस के मैके पर लाल किले से राष्ट्र को संबोधित
Posted by khaskhabar

लाखों बेटियों से मुझे संदेश मिलता था कि वे भी सैनिक स्कूलों में पढ़ना चाहती हैं

पीएम मोदी ने आगे बताया कि उन्हें देश भर की लड़कियों से सैनिक स्कूलों में पढ़ने की इच्छा व्यक्त करने को लेकर कई अनुरोध प्राप्त हो रहे थे। उन्होंने कहा, ‘लाखों बेटियों से मुझे संदेश मिलता था कि वे भी सैनिक स्कूलों में पढ़ना चाहती हैं, उनके लिए भी सैनिक स्कूलों के दरवाजे खोल दिए जाने चाहिए। लगभग 2-2.5 साल पहले मिजोरम के सैनिक स्कूल में लड़कियों को प्रवेश देने का प्रयोग पहली बार किया गया था।

देश में 21वीं सदी की जरूरतों को पूरा करने के लिए एक नई ‘राष्ट्रीय शिक्षा नीति’

इस बीच, उन्होंने राष्ट्रीय शिक्षा नीति के बारे में बात करते हुए कहा कि यह गरीबी के खिलाफ लड़ाई में एक बड़ी ताकत बनेगी। प्रधानमंत्री ने कहा, ‘आज देश में 21वीं सदी की जरूरतों को पूरा करने के लिए एक नई ‘राष्ट्रीय शिक्षा नीति’ है। राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 गरीबी के खिलाफ लड़ाई में एक बड़ी ताकत बनेगी।’ उन्होंने आगे कहा कि जब गरीब परिवारों की बेटियां और बेटे अपनी मातृभाषा में पढ़कर पेशेवर बन जाएंगे, तो उनकी क्षमता के साथ न्याय होगा।

यह भी पढ़े —बिगड़ते हालात के बीच अफगानिस्तान ने बंद किया हवाई क्षेत्र,भारत की ओर से उड़ानें रद

पाठ्येतर के बजाय मुख्यधारा की शिक्षा का हिस्सा बनाया गया

नीति की विशेषता पर जोर देते हुए, पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति की एक और विशेष विशेषता है। इसमें खेल को पाठ्येतर के बजाय मुख्यधारा की शिक्षा का हिस्सा बनाया गया है। खेल भी उनमें से एक है और यह जीवन में आगे बढ़ने का सबसे प्रभावशाली माध्यम भी है।

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जानने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है|