Omicron's subvariant BA.4 found in India, new wave of corona has come from this in many countries
स्वास्थ

भारत में पाया गया ओमिक्रोन का सबवैरिएंट BA.4, कई देशों में इसी से आई है कोरोना की नई लहर

khaskhabar/इंडियन सार्स-कोव-2 जीनोमिक्स कंसोर्टियम (इन्साकाग) ने हैदराबाद में पाए गए ओमिक्रान सबवेरिएंट BA.4 के भारत में पहले मामले को लेकर पुष्टी कर दी है। कोरोनाी वायरस का यह स्ट्रेन BA.2 सबवेरिएंट की तरह ही है। भारतीय SARS-CoV-2 जीनोमिक्स कंसोर्टियम (INSACOG) ने कहा कि BA.4 ओमिक्रोन वैरिएंट की पहचान हैदराबाद में एक कोविड पाजिटिव व्यक्ति के नमूने में की गई। इस व्यक्ति का 9 मई को सैंपल लिया गया था।

khaskhabar/इंडियन सार्स-कोव-2 जीनोमिक्स कंसोर्टियम (इन्साकाग) ने हैदराबाद में पाए गए ओमिक्रान सबवेरिएंट BA.4 के भारत में पहले मामले को लेकर पुष्टी कर दी है।
Posted by khaskhabar

अमेरिका और यूरोप में कोरोना संक्रमण की एक नई लहर है

जनवरी के बाद से ओमिक्रोन के BA.4 और BA.5 वैरिएंट दक्षिण अफ्रीका में कोरोना की पांचवीं कोरोना लहर के रूप में देखा गया है। इन वैरिएंट के चलते ही अमेरिका और यूरोप में कोरोना संक्रमण की एक नई लहर है। यह पहली बार है जब भारत में ओमिक्रोन के BA.4 वैरिएंट की जानकारी सामने आई है।

ओमिक्रोन वैरिएंट को वैरिएंट आफ कंसर्न (VoC) घोषित किया था

अभी हाल ही में 12 मई को यूरोपियन सेंटर फार डिजीज प्रिवेंशन एंड कंट्रोल (ECDPC) ने BA.4 और BA.5 ओमिक्रोन वैरिएंट को वैरिएंट आफ कंसर्न (VoC) घोषित किया था। ईसीडीपीसी ने BA.4 और BA का जिक्र करते हुए कहा था कि इन वैरिएंट के स्पष्ट साक्ष्य उपलब्ध हैं जो ट्रांसमिशन, गंभीरता और प्रतिरक्षा पर एक महत्वपूर्ण प्रभाव का संकेत देते हैं।

दक्षिण अफ्रीका के स्वास्थ्य अधिकारियों ने क्रमशः जनवरी और फरवरी में रिपोर्ट किया

बता दें कि ओमिक्रोन के BA.4 और BA.5 वैरिएंट को सबसे पहले दक्षिण अफ्रीका के स्वास्थ्य अधिकारियों ने क्रमशः जनवरी और फरवरी में रिपोर्ट किया था। तब से दोनों वैरिएंट दक्षिण अफ्रीका, अमेरिका, ब्रिटेन, जर्मनी और डेनमार्क आदि सहित यूरोप के देशों में कोरोना की नई लहर के रूप में देखा गया है। इन देशों में ओमिक्रोन के ये सबवैरिएंट ही कोरोना की लहर के लिए जिम्मेदार भी रहे हैं।

यह भी पढ़े —रामबन नेशनल हाइवे पर निर्माणाधीन टनल का हिस्सा ढह गया, 1 को बचाया गया, कई लोग फंसे

नए ओमिक्रोन वैरिएंट (BA.4 और BA.5) ने ओमिक्रोन के BA.2 वैरिएंट को बदल दिया

रिसर्च की रिपोर्ट के आधार पर सबवेरिएंट BA.4 और BA.5 सबवैरिएंट ओमिक्रोन के मूल वैरिएंट से काफी अलग हैं, जिसके कारण वे पिछले संक्रमण से उत्पन्न प्रतिरक्षा से बचने की क्षमता रखते हैं। नए ओमिक्रोन वैरिएंट (BA.4 और BA.5) ने ओमिक्रोन के BA.2 वैरिएंट को बदल दिया है, जो कई देशों में सक्रिय कोरोना वायरस था। 

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जानने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है
 |