Nag Panchami
राष्ट्रीय

Nag Panchami 2020: आज नाग पंचमी पर है सर्वार्थ सिद्धि का प्रबल योग, आप भी जरूर करें यह काम

Nag Panchami 2020 सावन, शुक्‍ल पक्ष, पंचमी तिथि। दिन शनिवार। आज पुरे देश में Nag Panchami का पर्व मनाया जा रहा है। नाग-सर्पों के पूजन के इस खास दिन को भारत में इसलिए मनाया जाता है क्योंकि सावन, भगवान शिव को प्रिय इस विशेष महीने में जबरदस्त बारिश होती है। इस वजह से, खेत-मैदान पूरी तरह जलमग्‍न हो जाते हैं। इस दौरान सांप अपने बिल से बाहर निकल आते हैं। बिल में पानी भर जाने के कारण सांपाें को सुरक्षित जगह की तलाश होती है। ऐसे में भगवान भोलेनाथ को प्रिय नाग अक्सर बारिश की वजह से आबादी के आसपास दिखते हैं और निवास स्थान तलाश करते है ।

Nag Panchami 2020 know shubh muhurat and where it is celebrated - KhasKhabar.online

हिंदू धर्म में आज का दिन अभीष्‍ट माना गया है। पौराणिक मान्‍यताओं के अनुसार आज नाग-नागिन के साक्षात दर्शन-पूजन से जीवन में सर्वार्थ सिद्धि की कामना पूरी हो जाती है। जटिल से जटिल काल सर्प दोष नाग पंचमी के दिन चांदी में बने नाग-नागिन के जोड़े को जल प्रवाह करने से हमेशा के लिए मिट जाता है।

 Nag Panchami 2020: आज नाग पंचमी पर सर्वार्थ सिद्धि का प्रबल योग, आप भी जरूर करें यह काम - khaskhabar.online
Posted By – Khas Khabar

यह भी पढ़े — Monsoon Update: भागलपुर में ढाई हाईस्कूल की बिल्डिंग,कई राज्यों में बाढ़ से हाहाकार

इस दिन भगवान शिव का रुद्राभिषेक भक्‍तों को आम से खास बना देता है। उनके जीवन में धन-धान्‍य की कभी कमी नहीं होने देता। मनोयोग और पूरे विधि-विधान से भगवान भोलेनाथ की पूजा-अर्चना करने से जीवन के सारे कष्‍ट दूर हो जाते हैं।


आज Nag Panchami है। नागों-सर्पों को पूजने-प्रसन्‍न करने का दिन। सावन शुक्‍ल पक्ष पंचमी तिथि को मनाया जाने वाला यह खास पर्व देवों के देव महादेव भगवान शिव की कृपा पाने का सुयोग्‍य अवसर माना जाता है। आज प्रबल योग में नाग पंचमी की पूजा करने और भगवान भोलेनाथ का रुद्राभिषेक करने से जटिल से जटिल काल सर्प दोष भी मिट जाता है। आज के दिन नाग-नागिन के जोड़े की पूजा करने से विषैले जीव-जंतु के काटने का भय मिट जाता है।

सावन मास शुक्ल पक्ष पंचमी तिथि को नाग पंचमी मनाया जाता है। इस दिन नाग-नागिन की पूजा का विधान है। मान्यता है कि नाग पंचमी के दिन नाग-नागिन की पूजा करने से सालों भर विषैले जीव-जंतुओं के काटने का भय नहीं रहता है। साथ ही, पूजन से शनि, राहु पाप ग्रह के नकारात्मक प्रभाव से मुक्ति मिलती है। इस बार नाग पंचमी तिथि 25 जुलाई को है।

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जाने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar
फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है।