राष्ट्रीय

बकाया धनराशि जारी करने की मांग को लेकर सोमवार को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के आवास के सामने धरने पर बैठे महापौर

Khaskhabar/बकाया धनराशि जारी करने की मांग को लेकर सोमवार को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के आधिकारिक आवास के बाहर धरने पर बैठे भाजपा के नेतृत्व वाले तीनों नगर निगमों के महापौर, उपमहापौर और कई अन्य वरिष्ठ नेता.निगम के ये नेता सिविल लाइंस इलाके में मुख्यमंत्री आवास के मुख्य द्वार के सामने धरने पर बैठे, जिसके कारण वहां बड़ी संख्या में सुरक्षा कर्मियों को तैनात किया गया है।

Khaskhabar/बकाया धनराशि जारी करने की मांग को लेकर सोमवार को मुख्यमंत्री
Posted by khaskhabar

दिल्ली भाजपा इकाई के मीडिया प्रभारी नवीन कुमार ने धरना स्थल से तस्वीरें और वीडियो पोस्ट किए हैं। उन्होंने कहा कि उत्तरी, दक्षिणी और पूर्वी दिल्ली नगर निगमों के वरिष्ठ नेता धरने में हिस्सा ले रहे हैं। तीनों नगर निगमों के महापौर जय प्रकाश (उत्तरी दिल्ली), अनामिका (दक्षिणी दिल्ली) और निर्मल जैन (पूर्वी दिल्ली), निगमों के उपमहापौर, स्थायी समिति के अध्यक्ष, सदन के नेता और अन्य सदस्यों ने बकाया रकम जारी करने की मांग करते हुए नारेबाजी की।

दरअसल, उत्तर दिल्ली के महापौर जय प्रकाश, दक्षिण दिल्ली की महापौर अनामिका मिथिलेश और पूर्वी दिल्ली के महापौर निर्मल जैन, बीजेपी उपाध्यक्ष हर्ष मल्होत्रा और कई महिला पार्षद सोमवार को फ्लैगस्टाफ रोड स्थित केजरीवाल के आवास के बाहर धरने पर बैठ गईं. महापौरों के साथ स्थायी समितियों के प्रमुख, सदनों के नेता तथा अन्य भी धरने पर बैठे हैं.

Khaskhabar/बकाया धनराशि जारी करने की मांग को लेकर सोमवार को मुख्यमंत्री
Posted by khaskhabar

दिल्ली बीजेपी की प्रवक्ता रेखा पांडे मिश्रा ने ट्वीट कर कहा, ‘दिल्ली के तीनों निगमों के महापौर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के घर के बाहर दिन रात बैठे हैं और दिल्ली के मलिक के पास उनसे मिलने का समय नहीं है! दिल्ली नगर निगम का 1300 करोड़ का बक़ाया देने का समय आ गया है! धरना जारी रहेगा.’

अनिश्चितकाल तक धरने पर बैठने के लिए तैयार

बीजेपी उपाध्यक्ष हर्ष मल्होत्रा ने कहा कि हमें बकाया राशि के भुगतान की हमारी मांग पर चर्चा करने के लिए मुख्यमंत्री या दिल्ली सरकार से कोई आश्वासन नहीं मिला है. हम अनिश्चितकाल तक धरने पर बैठने के लिए तैयार हैं. बीजेपी नेताओं ने कहा कि उन्होंने केजरीवाल की गाड़ी को उनके आवास में प्रवेश करने से रोक दिया था. वहीं महापौर निर्मल जैन ने कहा, ‘हमने अपने जारी नहीं किए गए बकाये के बारे में बात करने के लिए मुख्यमंत्री के साथ बैठक का अनुरोध किया था. हमें आश्वस्त किया गया था कि मुख्यमंत्री हमसे बात करेंगे जिसके बाद हमने उनकी गाड़ी को जाने दिया. लेकिन अब तक हमें कोई निमंत्रण नहीं मिला. प्रदर्शन अनिश्चितकाल के लिए जारी रहेगा.’

यह भी पढ़े—Barmer: पार्षद पर आरोप- नहाते समय महिला का बनाया वीडियो, फिर ब्लैकमेल कर बार-बार किया रेप

मुख्यमंत्री से मिलने आए पार्टी विधायकों को दिल्ली पुलिस ने पीटा

महापौरों और निगमों के अन्य नेताओं का दावा है कि दिल्ली सरकार पर तीनों निगमों का 13,000 करोड़ रुपये बकाया है. उत्तर दिल्ली के महापौर जय प्रकाश का कहना है कि धरना रात भर जारी रहेगा और तब तक जारी रहेगा जबतक दिल्ली सरकार और केजरीवाल मुद्दे का हल करने का वादा नहीं करते हैं. इस बीच, आप ने आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री से मिलने आए पार्टी विधायकों को दिल्ली पुलिस ने पीटा और उन्हें अपने साथ ले गई. आप विधायक अखिलेश पति त्रिपाठी ने आरोप लगाया कि उन्हें मुख्यमंत्री के आवास के बाहर से पुलिस घसीट कर ले गई जबकि नगर निगमों के प्रदर्शन कर रहे सदस्यों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई.

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जाने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है |