Lucky Draw Among Strategies To Boost Covid Vaccine Coverage
राष्ट्रीय स्वास्थ

सरकार ने कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज लगवा चुके लोगों के लिए लकी ड्रा समेत बनाई कई योजना

Khaskhabar/लोगों को पूर्ण टीकाकरण के प्रति प्रोत्साहित करने के लिए सरकार ने कोरोना की दोनों डोज लगवा चुके लोगों के लिए साप्ताहिक या मासिक लकी ड्रा समेत कई उपायों की योजना बनाई है। लकी ड्रा में रसोई उपकरण, राशन किट, यात्रा पास, नकद राशि जैसे पुरस्कार शामिल हो सकते हैं।

Khaskhabar/लोगों को पूर्ण टीकाकरण के प्रति प्रोत्साहित करने के लिए सरकार ने कोरोना की दोनों डोज लगवा चुके लोगों के लिए साप्ताहिक या मासिक लकी ड्रा समेत कई उपायों की योजना बनाई
Posted by khaskhabar

दोनों डोज लगवा चुके लोगों को बैज उपलब्ध कराना शामिल

 सूत्रों ने रविवार को यह जानकारी दी।केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने अन्य उपायों की योजना भी बनाई है जिनमें कार्यस्थलों पर टीकाकरण और दोनों डोज लगवा चुके लोगों को बैज उपलब्ध कराना शामिल हैं। इन बैज पर लिखा होगा, ‘मैंने पूर्ण टीकाकरण करवा लिया है, क्या आपने भी पूर्ण टीकाकरण कराया है।’

दोनों टीके लगवा चुके प्रभावशाली लोगों को भी इसमें शामिल करने की योजना

राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को जल्द ही इन उपायों को अपनाने का सुझाव दिया जा सकता है। इसके अलावा जिलों या गावों के स्तर पर दोनों टीके लगवा चुके प्रभावशाली लोगों को भी इसमें शामिल करने की योजना है, ताकि वे लोगों को टीके लगवाने के लिए प्रेरित कर सकें।अधिकारियों के मुताबिक, देश में 82 प्रतिशत पात्र आबादी को कोरोना की पहली डोज और 43 प्रतिशत लोगों को दोनों डोज लग चुकी हैं।

दूसरी डोज नहीं लगवाई और उनकी दोनों डोज के बीच निर्धारित अंतराल की अवधि भी बीत चुकी

 12 करोड़ से ज्यादा लोग ऐसे हैं जिन्होंने पहली डोज तो लगवाई है, लेकिन दूसरी डोज नहीं लगवाई और उनकी दोनों डोज के बीच निर्धारित अंतराल की अवधि भी बीत चुकी है।केंद्र सरकार ने सीरम इंस्टीट्यूट आफ इंडिया (एसआइआइ) को संयुक्त राष्ट्र के कोवैक्स वैश्विक टीकाकरण कार्यक्रम के तहत नेपाल, ताजिकिस्तान और मोजाम्बिक को कोविशील्ड की 50 लाख डोज के निर्यात की अनुमति प्रदान कर दी है।

यह भी पढ़े —केरल में ब्रेकअप से खफा गर्लफ्रेंड ने किया एसिड अटैक,शादी करने से किया था इंकार

पुणे स्थित उनकी कंपनी ने कोविशील्ड की 24,89,15,000 डोज का उत्पादन कर स्टाक कर लिया है

 इन देशों के अलावा कोवैक्स के तहत बांग्लादेश को भी कोविशील्ड का निर्यात किया जाएगा। एसआइआइ के सरकार एवं नियामक मामलों के निदेशक प्रकाश कुमार सिंह ने हाल ही में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय को लिखे पत्र में सूचित किया था कि पुणे स्थित उनकी कंपनी ने कोविशील्ड की 24,89,15,000 डोज का उत्पादन कर स्टाक कर लिया है और यह स्टाक दिन प्रतिदिन बढ़ रहा है।

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जानने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है|