राष्ट्रीय

Kanpur Police Encounter: कानपुर में देर रात पुलिस और बदमाशों के बीच हुई मुठभेड़,आठ जवान शहीद |

Kanpur Police Encounter : कानपुर में देर रात पुलिस और बदमाशों के बीच हुई मुठभेड़ में एक डीएसपी, एक थाना प्रभारी, एक चौकी प्रभारी व एक सब इंस्पेक्टर समेत आठ पुलिस जवान शहीद हो गए|आपको बता दे की यह घटना कानपुर के चौबेपुर स्थित बिकरु गांव की है |

Kanpur Police Encounter
source-google image

जहा गुरुवार देर रात हिस्ट्रीशीटर बदमाश विकास दुबे को पकड़ने गई पुलिस टीम पर बदमाशों ने ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी |जिसके बाद माहरे सुरक्षा बल को भारी नुकशान झेलना पड़ा |बताय जा रहा है की उत्तर प्रदेश के 40 साल के इतिहास में यह दूसरा सबसे बड़ा एनकाउंटर है|

वही यूपी के पूर्व डीजीपी विक्रम सिंह ने कहा- ये बहुत ही दुखद, अप्रत्याशित और अनहोनी घटना है। इस ऑपरेशन में बहुत बड़ी चूक हुई है।उनके मुताबिक एक टुच्चा सा अपराधी इतनी बड़ी घटना कर दे ये बेहद चिंता की बात है। इसके पीछे पुलिसि द्वारा चूक की लंबी श्रृंखला है।

Kanpur Police Encounter
source-google image

 हिस्ट्रीशीटर बदमाश विकास दुबे ने की थी मंत्री की हत्या

विक्रम सिंह के मुताबिक हिस्ट्रीशीटर बदमाश विकास दुबे एक खूंखार अपराधी है |उसी को पकड़ने पुलिस टीम गई थी, उस पर कुल 60 मुकदमे थे।इसने कानपुर देहात के थाना शिवली में वर्ष 2001 में राज्यमंत्री दर्जा प्राप्त संतोष शुक्ला की कार्रबाइन से फायरिंग कर हत्या की थी।

इसके बाद इसे आजीवन कारावास हुआ था। लेकिन हैरानी की बात यह है की किस तरह यह खूंखार अपराधी आजीवन कारावास से कैसे बेल पर बाहर आया|यह बहुत ही चिंता और जांच का विषय है।

Kanpur Police Encounter
source-google image

ये घटना बताती है कि हमारी निगरानी और सर्विलांस तंत्र में स्थानीय पुलिस द्वारा बहुत लापरवाही बरती गई है। इसी वजह से ये दोबारा बड़ा अपराधी बन गया।आसा है की सुरक्षा बल के साथ सर्कार भी इस विषय को गम्भीरता से लेने के साथ ,इस बात पर जल्द कार्यवाही करेगी |

पहले से थी पुलिस ऑपरेशन की भनक

Kanpur Police Encounter.
source-google image

अपने पैसे और राजनीतिक रसूख के बल पर इसने अपना सूचना तंत्र इतना मजबूत कर लिया था कि इसे पहले से ही पुलिस ऑपरेशन की भनक लग गई थी। यही वजह है कि उसने पुलिस के पहुंचने से पहले ही रास्ता ब्लॉक करने के लिए जेसीबी मशीन लगा दी थी।

यह भी पढ़े-चीन से खतरे को भांपते हुए भारत ने तैनात की अपनी “अस्त्र” मिसाइल, देखिए इनकी ताकत

पुलिस टीम के वह पहुंचने पर उनपर हमला करने के लिए इसने हथियार और कारतूस के साथ अपने लोगों को पहले ही छतो पर एकत्र कर लिया था।हलाकि पुलिस एनकाउंटर में उसके कुछ साथियो के मारे जाने की भी खबर है ,पर वह पुलिस क चंगुल से बच निकलने में कामयाब हुआ है |