Japan_Earthquake
राष्ट्रीय

7.2 तीव्रता के भूकंप से दहला जापान,जोरदार झटकों से थर्राया होंशू द्वीप, सुनामी की चेतावनी जारी

Khaskhabar/जापान की राजधानी टोक्यो शनिवार को भूकंप के तेज झटकों से दहल गई। रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 7.2 रही है। भूकंप का केंद्र मियागी प्रांत में जमीन से 60 किलोमीटर नीचे था। भूकंप की तीव्रता को देखते हुए तटीय इलाकों में सुनामी की चेतावनी जारी कर दी गई है।

Khaskhabar/जापान की राजधानी टोक्यो शनिवार को भूकंप के तेज झटकों से दहल गई। रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 7.2 रही है। भूकंप का केंद्र मियागी प्रांत में जमीन से 60 किलोमीटर नीचे था। भूकंप की तीव्रता को देखते हुए तटीय इलाकों में सुनामी की चेतावनी जारी कर दी गई है।
Posted by khaskhabar

भूकंप से तुरंत किसी बड़े नुकसान की खबर नही

जापान में भूकंप के जोरदार झटकों से तटवर्ती इलाकों में दहशत फैल गई. यहां रिक्टर स्केल पर 7.2 तीव्रता का भूकंप दर्ज किया गया. हालांकि इस भूकंप से तुरंत किसी बड़े नुकसान की खबर नही हैं, लेकिन भूकंप के तुरंत बाद प्रशासन ने सुनामी की चेतावनी जारी की और लोगों को तटवर्ती इलाकों से दूर रहने को कहा है. इस साथ ही मछुवारों को भी समंदर में न उतरने के निर्देश दिये गए हैं. 

धरती में 60 किमी नीचे था भूकंप का केंद्र

डेलीमेल की खबर के मुताबिक, जापान में आया भूकंप इतना तेज था कि राजधानी टोक्यो समेत होंशू द्वीप की अधिकतर इमारतें हिलने लगीं. इस बीच अधिकारियों ने ओनागावा न्यूक्लियर प्लांट को बंद कर दिया और उसकी पूरी जांच के बाद ही उसे शुरू किया गया. हालांकि अभी नुकसान की कोई खबर नहीं है. 

जापान के नेशनल सेंटर फॉर सेस्मोलॉजी ने बताया कि भूकंप को देखते हुए तटीय इलाकों में सुनामी की चेतावनी जारी कर दी गई है। अधिकारियों ने कहा कि प्रशांत क्षेत्र भूकंप का केंद्र होने की वजह से झटकों के बाद करीब एक मीटर ऊंची सुनामी लहरें उठने की आशंका है, जिसे लेकर एडवाइजरी जारी कर दी गई है।

प्रशांत महासागर का रिंग ऑफ फायर कहा जाता है

फिलहाल मियागी में भूकंप के कारण नुकसान की कोई खबर नहीं मिली है। वहीं स्थानीय अधिकारी क्षेत्र में स्थित परमाणु संयंत्र की स्थिति के बारे में पता कर रहे हैं। बता दें, जापान तीव्र भूकंप क्षेत्र में आता है। इसे प्रशांत महासागर का रिंग ऑफ फायर कहा जाता है। यह दक्षिण-पूर्व एशिया से लेकर पूरे प्रशांत क्षेत्र तक फैली है। पिछले साल भी इसी इलाके में जोरदार भूंकप के झटके आए थे, जिसमें दर्जनों श्रमिक घायल हो गए थे।

यह भी पढ़े—विमान पर लगाई एक्टर की तस्वीर,हवाई कंपनी स्पाइसजेट ने सोनू सूद को कुछ यूं किया सलाम

देश दस साल पहले आए भयावह भूकंप और सुनामी की 10वीं बरसी मना रहा

खास बात ये है कि जापान में भूकंप और उसके बाद सुनामी की चेतावनी ऐसे मौके पर आई है, जब देश दस साल पहले आए भयावह भूकंप और सुनामी की 10वीं बरसी मना रहा है। जापान में आज से 10 साल पहले 11 मार्च 2011 को 9 तीव्रता का भूकंप आया था, जिसके बाद आई सुनामी में कई लोगों की जान चली गई थी और यहां कका फुकुशिमा परमाणु संयंत्र तबाह हो गया था।

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जाने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है|