India's retaliate against Pakistan, said- Pakistan should pay attention to the security of minorities
Uncategorized

भारत का पाक पर करारा पलटवार, कहा- अल्पसंख्यकों की सुरक्षा पर ध्यान दे पाकिस्‍तान

Khaskhabar/भारत ने सोमवार को पाकिस्तान की टिप्पणियों पर करारा पलटवार किया। विदेश मंत्रालय (Ministry of External Affairs) के प्रवक्‍ता अरिंदम बागची ने कहा कि भारत सरकार सभी धर्मों के प्रत‍ि सम्मान का भाव रखती है। पाकिस्‍तान को अल्पसंख्यकों की सुरक्षा पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए।

Khaskhabar/भारत ने सोमवार को पाकिस्तान की टिप्पणियों पर करारा पलटवार किया। विदेश मंत्रालय (Ministry of External Affairs) के प्रवक्‍ता अरिंदम बागची ने कहा कि भारत सरकार

प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ और विदेश मंत्रालय के बयानों को खारिज कर दिया

इसके साथ ही अरिंदम बागची ने पैगंबर मोहम्मद पर भाजपा के दो ‘पूर्व’ नेताओं की कथित विवादित टिप्पणियों पर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ और विदेश मंत्रालय के बयानों को खारिज कर दिया।इस मसले पर पाकिस्‍तान के बयानों को लेकर पूछे गए सवालों का जवाब देते हुए विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची (Arindam Bagchi) ने कहा कि हमने पाकिस्तान के बयानों को देखा है।

पाकिस्‍तान में चरमपंथियों और कट्टरपंथियों के सम्मान में स्मारक बनाए जाते हैं

अल्पसंख्यकों के अधिकारों का लगातार उल्लंघन करने वाले एक देश (पाकिस्‍तान) का किसी दूसरे देश पर सवाल उठाना गले नहीं उतर रहा है। यह दुनिया पाकिस्तान में हिंदुओं, सिखों, ईसाइयों और अहमदियों सहित अल्पसंख्यकों पर किए जाने वाले जुल्‍मों और उत्पीड़न का गवाह रही है।

यह भी पढ़े —इस्लामाबाद में हाई अलर्ट पर सुरक्षा एजेंसियां,पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान की हत्या की आशंका

पाकिस्‍तान में चरमपंथियों और कट्टरपंथियों के सम्मान में स्मारक बनाए जाते हैं

बागची (Ministry of External Affairs spokesman Arindam Bagchi) ने पाकिस्‍तान को आईना दिखाते हुए कहा कि भारत सरकार सभी धर्मों के प्रति सर्वोच्च सम्मान का भाव रखती है। वहीं दूसरी ओर पाकिस्तान में कट्टरपंथियों को बढ़ावा दिया जाता है। पाकिस्‍तान में चरमपंथियों और कट्टरपंथियों के सम्मान में स्मारक बनाए जाते हैं। हमारा पाकिस्तान से इतना ही कहना है कि वह भारत में सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने की कोशिशें करने से बाज आए और अपने यहां अल्पसंख्यक समुदायों की सुरक्षा पर ध्यान दे।

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जानने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है
 |