राष्ट्रीय

Indian Railway ऑपरेशन कायाकल्प में रेलवे ने गंदगी हटाकर लगाए फूलों के पौधे,जानिये

Indian Railway:अब रेलवे लाइन किनारे दुर्गंध का कटेगा टिकट ऑपरेशन कायाकल्प में रेलवे ने गंदगी हटाकर लगाए फूलों के पौधे। रेलवे ने लखनऊ से गोरखपुर तक तैयार की रंग बिरंगी फूलों की दीवार। राजधानी के ऐशबाग से लेकर मल्हौर तक रेल लाइन किनारे कूड़े के ढेर की जगह खिलखिलाते रंग-बिरंगे फूल नजर आएंगे।

Indian Railway.
source-google image

लखनऊ मंडल ने ऑपरेशन कायाकल्प के तहत लाइन किनारे खाली जमीन पर गंदगी खत्म कर बोगनविलिया के पौधे लगाने शुरू कर दिए हैं|योजना के तहत इस साल करीब डेढ़ लाख पौधे लगाए जायेंगे |

ऑपरेशन कायाकल्प के तहत

जिसमें लखनऊ के ऐशबाग, बादशाहनगर व गोमतीनगर होते हुए मल्हौर तक पांच हजार पौधे लगाए जाएंगे। कई बार यात्रियों को गंदगी से उठने वाली दुर्गंध का भी सामना करना पड़ता है। जब ट्रेनें लखनऊ स्टेशन पहुंचती हैं | गंदगी फैलाने का मुख्या स्रोत है लाइन किनारे बसी कालोनियों |कालोनियों का कूड़ा और गंदगी लोग पटरी की तरफ फेंक देते हैं।

Indian Railway
source-google image


डीआरएम डॉ. मोनिका अग्निहोत्री ने पटरी किनारे वर्षों से पड़ी गंदगी को हटाने और लाइन की सफाई के लिए ऑपरेशन कायाकल्प की शुरुआत की। इसके तहत रेलवे ने बोगनविलिया के पौधे लगाने का काम शुरू किया। इन रंग-बिरंगे फूल, पौधे वातावरण हरा-भरा रखेंगे। वहीं इसके कांटे की बाड़ गंदगी को पटरियों तक आने से रोकेगी। रेलवे करीब 1100 रूट किलोमीटर पटरी के किनारे इन पौधों को लगाएगा

यह भी पढ़े-प्रियंका गांधी वाड्रा को मिला एक महीने में सरकारी बंगला खाली करने का आदेश, सरकार ने भेजा नोटिस

लखनऊ पूर्वोत्तर रेलवे डीआरएम का बयान

लखनऊ पूर्वोत्तर रेलवे के डीआरएम डॉ. मोनिका अग्निहोत्री के मुताबिक, पटरियों के किनारे बोगनवेलिया के पौधे लगाने का काम शुरू किया जा चूका है। इससे हरियाली और सुगंध के साथ ही कांटे की बाड़ गंदगी को पटरी पर आने से रोकेगी।और यह बिनारी को न पनपने देने का सबसे सही तरीका भी ,जिससे की स्वक्ष भारत मिससँ को भी बढ़ावा मिलेगा|