Indian photojournalist killed in Kandahar, Afghanistan, killed during firing between army and opponents
राष्ट्रीय

अफगानिस्‍तान के कंधार में मौजूद भारतीय फोटो पत्रकार की हत्‍या,सेना और विरोधियों के बीच गोलीबारी के दौरान मौत

Khaskhabar/अफगानिस्‍तान के कंधार में मौजूद भारतीय फोटो पत्रकार की हत्‍या कर दी गई है। पत्रकार का नाम दानिश सिद्दकी बताया गया है। जानकारी के मुताबिक वो अंतरराष्‍ट्रीय समाचार एजेंसी रायटर से जुड़े हुए थे। वो अफगानिस्‍तान की ताजा गतिविधियों पर कवरेज के लिए कुछ दिनों से वहां पर गए थे। दानिश एक अवार्ड विनिंग जर्नलिस्‍ट थे। उनकी मौत अफगान सेना और विरोधियों के बीच हुई गोलीबारी के दौरान हुई है। इस दौरान गोली लगने से उनकी मौत हुई है। 

Khaskhabar/अफगानिस्‍तान के कंधार में मौजूद भारतीय फोटो पत्रकार की हत्‍या कर दी गई है। पत्रकार का नाम दानिश सिद्दकी बताया गया है। जानकारी के मुताबिक वो अंतरराष्‍ट्रीय समाचार एजेंसी रायटर से जुड़े हुए थे।
Posted by khaskhabar

ताशकंद में अफगानिस्‍तान के मुद्दे पर चल रही थी खास कांफ्रेंस

दानिश की मौत ऐसे समय में हुई है जब ताशकंद में अफगानिस्‍तान के मुद्दे पर खास कांफ्रेंस चल रही थी। दो दिवसीय इस बैठक में भारत समेत पाकिस्‍तान के भी प्रतिनिधि मौजूद थे। भारत से इसमें विदेश मंत्री एस जयशंकर और पाकिस्‍तान की तरफ से इमरान खान ने इसमें शिरकत की थी। 

80 फीसद से अधिक इलाके पर कर चुका कब्‍जा

आपको बता दें कि अफगानिस्‍तान में बीते कुछ समय से तालिबान और अफगानिस्‍तान की सेना के बीच संघर्ष काफी बढ़ गया है। जब से अमेरिका ने यहां से अपनी फौजों को समेटना शुरू किया है तब से ही तालिबान ने यहां पर अपने पांव फैलाने शुरू कर दिए हैं। तालिबान के नेताओं के मुताबिक वो यहां के 80 फीसद से अधिक इलाके पर कब्‍जा कर चुका है। अफगानिस्‍तान में तालिबान के बढ़ते कदमों की आहट से इसके पड़ोसी देश काफी चिंतित हैं। 

यह भी पढ़े —भारतीय खिलाड़ियों व सहयोगी स्टाफ के पॉजिटिव होने पर उठे सवाल,टीम में हुई लापरवाही

अफगानिस्‍तान में मौजूद भारतीय दूतावास से भी करीब 56 भारतीयों को वापस स्‍वदेश लाया जा चुका

गौरतलब है कि अफगानिस्‍तान के हालात लगातार चुनौतीपूर्ण होते जा रहे हैं। ये न केवल यहां पर रहने वाले लोगों के लिए चुनौतीपूर्ण हैं बल्कि यहां पर काम करने वालों के लिए काफी चुनौतियों से भरे हैं। कुछ माह में यहांं पर काम करने वालों को तालिबान से खतरा भी काफी बढ़ गया है। खतरे के मद्देनजर अफगानिस्‍तान में मौजूद भारतीय दूतावास से भी करीब 56 भारतीयों को वापस स्‍वदेश लाया जा चुका है।  

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जानने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है|