India will raise issues like cross-border terrorism, terrorist funding with member countries in G20 meeting
दुनिया राष्ट्रीय

भारत जी-20 की बैठक में सदस्य देशों के साथ सीमा पार आतंकवाद, आतंकी फंडिंग जैसे मुद्दों को उठाएगा

khaskhabar/भारत जी-20 शिखर सम्मेलन में सदस्य देशों के साथ सीमा पार आतंकवाद, आतंकी फंडिंग और आतंकवाद से संबंधित गतिविधियों से संबंधित मुद्दों को उठाएगा। विदेश सचिव हर्ष वर्धन श्रृंगला ने गुरुवार को बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 29 अक्टूबर से दो नवंबर तक रोम और ग्लासगो के दौरे पर रहेंगे। 

khaskhabar/भारत जी-20 शिखर सम्मेलन में सदस्य देशों के साथ सीमा पार आतंकवाद, आतंकी फंडिंग और आतंकवाद से संबंधित गतिविधियों से संबंधित मुद्दों
Posted by khaskhabar

उन्‍होंने कहा कि मौजूदा वक्‍त में आतंकी फंडिंग और आतंकवाद की गतिविधियों का दुनिया पर प्रभाव पड़ रहा है जिसकी ओर भारत वैश्विक नेताओं का ध्‍यान आकर्षित कर सकता है।

रोम में आयोजित हो रहे 16वें G-20 सम्‍मेलन में लूंगा भाग

दौरे पर रवाना होने से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा- मैं रोम में आयोजित हो रहे 16वें G-20 सम्‍मेलन में भाग लूंगा। मैं G-20 नेताओं के साथ महामारी, सतत विकास और जलवायु परिवर्तन से वैश्विक आर्थिक और स्वास्थ्य सुधार पर होने वाली चर्चा में शामिल होऊंगा। मैं 29 से 31 अक्टूबर के दौरान रोम और वेटिकन सिटी का दौरा करूंगा।

वैश्विक स्वास्थ्य ढांचा और आर्थिक सुधार जैसे मुद्दों पर भी होगी चर्चा

इसके बाद मैं प्रधानमंत्री बोरिस जानसन के निमंत्रण पर पहली से दो नवंबर तक ग्लासगो की यात्रा पर रहूंगा।विदेश सचिव हर्षवर्द्धन श्रृंगला ने बताया कि जी-20 शिखर सम्मेलन में वैश्विक स्वास्थ्य ढांचा और आर्थिक सुधार जैसे मुद्दों पर भी चर्चा होगी। सम्‍मेलन से कोविड-19 महामारी से मुकाबले समेत दुनिया के सामने आने वाली चुनौतियों को लेकर ठोस नतीजे निकल सकते हैं। उन्‍होंने कहा कि जी-20 का मंच भारत के लिए दुनिया की महत्वपूर्ण अर्थव्यवस्थाओं के साथ सम्पर्क करने का महत्वपूर्ण मंच है।

यह भी पढ़े —SAIL के कर्मचारियों को शानदार तोहफा,10 हजार रुपए तक बढ़कर आएगी इन कर्मचारियों की सैलरी

जी-20 में उभरती हुई अर्थव्यवस्थाओं की बना रहेगा आवाज

विदेश सचिव हर्षवर्द्धन श्रृंगला ने यह भी कहा कि भारत विकासशील देशों के आम नागरिकों और जी-20 में उभरती हुई अर्थव्यवस्थाओं की आवाज बना रहेगा। इस सम्‍मेलन में भारत सदस्य देशों के साथ कोरोना महामारी समेत कई मुद्दों पर भी चर्चा करेगा। उन्‍होंने कहा कि भविष्य में कोरोना जैसी किसी महामारी आने और इससे निपटने के लिए अंतरराष्ट्रीय सहयोग एवं गठजोड़ को बल देने के लिए जी-20 किसी ढांचा के गठन के मसले पर भी चर्चा कर सकता है।

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जानने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है|