india-will-import-oxygen-tanker-from-singapore-and-uae
राष्ट्रीय स्वास्थ

Oxygen Crisis पर मोदी ने इंडस्ट्री लीडर्स के साथ की बैठक, सिंगापुर और यूएई से ऑक्सीजन टैंकर आयात करेगा भारत

Khaskhabar/प्रधानमंत्री मोदी ने शुक्रवार को ऑक्सिजन उत्पादन को लेकर इंडस्ट्री के दिग्गजों के साथ मीटिंग की। उन्होंने अपील की कि ऑक्सीजन टैंकर और ट्रांसपोर्टेशन को और बढ़ाया जाए। दूसरी तरफ गृह मंत्रालय ने राज्यों से कहा है कि वे अपने-अपने यहां के ऑक्सिजन प्लांट की सूची बनाएं और बंद पड़े प्लांट्स को फिर से चालू कराएं।मोदी ने उद्योग जगत से आने वाले दिनों में ऑक्सिजन की संभावित मांग की पूर्ति के लिए अपनी पूरी क्षमता का इस्तेमाल करने का आह्वान किया और कहा कि देश में ऑक्सीजन टैंकर की उपलब्धता बढ़ाने के साथ ही इनकी आवाजाही के उपायों को भी मजबूत करना होगा। दूसरी तरफ, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने भी शुक्रवार को कोरोना से लेकर ऑक्सिजन तक की स्थिति की समीक्षा की और इस गैस की सप्लाई बढ़ाने के लिए जरूरी निर्देश दिए।

Khaskhabar/प्रधानमंत्री मोदी ने शुक्रवार को ऑक्सिजन उत्पादन को लेकर इंडस्ट्री के दिग्गजों के साथ मीटिंग की। उन्होंने अपील की कि ऑक्सीजन टैंकर और ट्रांसपोर्टेशन को और बढ़ाया जाए। दूसरी तरफ गृह मंत्रालय ने राज्यों से कहा है कि वे अपने-अपने यहां के ऑक्सिजन प्लांट की सूची बनाएं और बंद पड़े प्लांट्स को फिर से चालू कराएं।मोदी ने उद्योग जगत से
Posted by khaskhabar

ऑक्सिजन उत्पादनकर्ताओं और सरकार के बीच बेहतर समन्वय की आवश्यकता

प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से जारी एक बयान के मुताबिक, मोदी ने ऑक्सिजन उत्पादनकर्ताओं और सरकार के बीच बेहतर समन्वय की आवश्यकता पर जोर दिया। प्रधानमंत्री ने पिछले कुछ सप्ताहों में ऑक्सिजन का उत्पादन बढ़ाने के लिए उद्योग जगत के प्रतिनिधियों की सराहना की तथा इस दिशा में उठाए गए कदमों का संज्ञान लिया। उन्होंने औद्योगिक इस्तेमाल की ऑक्सिजन को चिकित्सीय उपयोग के लिए भेजने के लिए उनका धन्यवाद किया।

केंद्र सरकार सिंगापुर और यूएई से उच्च क्षमता के ऑक्सीजन ले जाने वाले टैंकरों को आयात

बढ़ते मामलों के बीच कई राज्यों में ऑक्सीजन की कमी को देखते हुए केंद्र सरकार सिंगापुर और यूएई से उच्च क्षमता के ऑक्सीजन ले जाने वाले टैंकरों को आयात करने के लिए बातचीत कर रही है। इसके साथ ऑक्सीजन के उत्पादन को बढ़ाने के लिए केंद्र ने राज्यों को बंद ऑक्सीजन संयंत्रों को पुनर्जीवित करने का निर्देश दिया है।

केंद्र ने ऑक्सीजन की मांग वाली जगहों पर निर्बाध आपूर्ति सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया है। बयान में कहा गया है कि ऑक्सीजन की सुगम आवाजाही के लिए गृमंत्रालय भारतीय वायु सेना के परिवहन विमानों के जरिए सिंगापुर और यूएई सहित अन्य देशों से उच्च क्षमता वाले टैंकर मंगवाने के लिए समन्वय कर रहा है।

ऑक्सीजन वाहनों के परिवहन के लिए बनाए विशेष गलियारा

गृह मंत्री ने समीक्षा बैठक में ऑक्सीजन की आपूर्ति बढ़ाने के लिए कई उपाय सुझाए। गृह मंत्रालय का एक विशेषज्ञ समूह भी सक्रिय मामलों को ध्यान में रखते हुए ऑक्सीजन की आवाजाही और आवंटन को राज्यों के अनुकूल व तर्कसंगत बनाने में लगा है।

बयान में कहा गया है कि केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को निर्देश दिया है कि वे ऑक्सीजन परिवहन वाहनों की पर्याप्त सुरक्षा सुनिश्चित कराएं। इन वाहनों के परिवहन के लिए विशेष गलियारों के लिए प्रावधान करते हुए उनसे एंबुलेंस की तरह व्यवहार करें।

यह भी पढ़े –चीन सीमा से सटे चमोली की मलारी घाटी में टूटा हिमखंड,टीम मौके के लिए रवाना; अलर्ट जारी

केंद्रीय गृह सचिव ने राज्यों के मुख्य सचिव को लिखा पत्र

केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला ने राज्यों के मुख्य सचिवों को लिखे पत्र में कहा है कि ऑक्सीजन उत्पादक संयंत्र देश के कई जिलों में उपलब्ध हैं।उन्होंने कहा कि इन सुविधाओं का उपयोग स्थानीय अस्पतालों में ऑक्सीजन की आपूर्ति के लिए भी किया जा सकता है। मैं आपसे निवेदन करता हूं कि ऐसी सभी सुविधाओं को तुरंत चिन्हित किया जाए।जिला अधिकारियों व उपायुक्तों को उन सभी प्लांट को सूचीबद्ध करने के लिए कहा जाना चाहिए, जिनमें ऑक्सीजन पैदा होती है। भल्ला ने कहा कि अगर कुछ संयंत्र बंद हो जाते हैं, तो उन्हें भी सूचीबद्ध किया जाना चाहिए और उनके पुनरुद्धार के लिए आवश्यक कार्रवाई की जानी चाहिए।

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जानने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है|