अस्त्र मिसाइल
राष्ट्रीय

चीन से खतरे को भांपते हुए भारत ने तैनात की अपनी “अस्त्र” मिसाइल, देखिए इनकी ताकत

चीन के साथ बढ़ रहे तनाव के साथ भारत अपनी स्थिति मजबूत करने पर जोर दे रहा है| ताकि किसी भी हमले की स्थिति में माकूल जवाब दिया जा सके| भारत ने सीमा पर अपनी मिसाइलो के साथ ही T-९० भीष्म टैंक की भी तैनाती कर दी है |भारत ने साथ ही साथ अस्त्र मिसाइल को भी अपने लड़ाकू विमानों से लैस कर दिया है ताकि हमले के वक्त उसे किया जा सके |

डीआरडीओ
sources — indian express

ये मिसाइल पूरी तरह से स्‍वदेशी तकनीक से निर्मित है। आपको बता दें कि अस्‍त्र मिसाइल की शुरुआत 1990 में हुई थी। 1998 में पहली बार भारत में एयरो इंडिया में इसको सार्वजनिक किया गया था। इसको डीआरडीओ के अलावा हिंदुस्‍तान एयरनॉटिक्‍स लिमिटेड और इलेक्‍ट्रानिक्‍स कारपोरेशन ऑफ इंडिया ने मिलकर तैयार किया है। 2003 में इसका पहला टेस्‍ट तेजस से किया गया था। गौरतलब है कि ये एक क्रूज मिसाइल है जो कई तरह की खूबियों से लैस है। आइये जानते हैं इस मिसाइल की खूबियां।

यह भी पढ़े — चीन ने WTO जाने की दी धमकी चायनीज एप बैन होने पर हे नाराज , भारत ने दिया करारा जवाब

डीआरडीओ
  • स्‍वदेशी तकनीक से निर्मित अस्‍त्र मिसाइल को मुख्‍य रूप से भारत के रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन ने तैयार किया है। ये एक आल वेदर बियोंड विजुअल रेंज एयर टू एयर मिसाइल है।
  • बीते वर्ष सितंबर में भी इस मिसाइल का ओडिशा के बालासोर तट से सफलतापूर्वक टेस्‍ट किया गया था। उस वक्‍त इसको सुखोई 30 एमकेआई से लॉन्‍च किया गया था। हिन्दुस्तान एरोनटिक्स लिमिटेड ने इस मिसाइल के लिए सुखोई में कुछ खास बदलाव किए हैं। इस दौरान इस मिसाइल ने 70 किमी का सफर तय कर अपने टार्गेट पर जबरदस्‍त हमला किया था।
  • अस्त्र मिसाइल को मिराज 2000, मिग 29, मिग 21, तेजस और सुखोई 30 से भी दागा जा सकता है।
  • यह मिसाइल पूरी तरह से स्वदेशी तकनीकी से निर्मित है। ये मिसाइल 5555 किमी. प्रति घंटे की रफ्तार से गति चल सकती है।
  • ये मिसाइल हर तरह के मौसम में दुश्‍मन पर सटीक हमला करने में सक्षम है। ये आवाज की गति से भी तेज चलते हुए दुश्‍मन पर वार करती है।
  • अस्‍त्र मिसाइल करीब 3.8 मीटर लंबी और महज 7 इंच चौड़ी है। छोटे आकार की वजह से इसको कई परिस्थितियों में इस्‍तेमाल किया जा सकता है। इसका वजन महज 154 किग्रा है।