Even after the vaccine, more than 30 thousand cases are being received daily, most cases of infection are due to delta variant.
स्वास्थ

टीके के बाद भी रोज मिल रहे 30 हजार से ज्यादा मामले,संक्रमण के सबसे ज्यादा केस डेल्टा वैरिएंट के

Khaskhabar/भारतीय सार्स-सीओवी-2 जीनोमिक्स कंसोर्टियम (इंसकाग) ने वैरिएंट आफ कंसर्न और डेल्टा वैरिएंट आफ इंटरेस्ट का पता लगाने के लिए 30,230 नमूनों की जीनोम सिक्वेंसिंग की थी। इनमें से 20,324 मामले डेल्टा वैरिएंट के पाए गए। कोरोना महामारी की दूसरी लहर में भारी तबाही मचाने वाला डेल्टा वैरिएंट आज भी चिंता का कारण बना हुआ है। टीके के बाद संक्रमण यानी ब्रेकथ्रू इंफेक्शन के सबसे ज्यादा मामले डेल्टा वैरिएंट के ही मिले हैं। वर्तमान समय में भी प्रतिदिन संक्रमण के 30 हजार से ज्यादा नए मामले मिल रहे हैं। इनमें भी ज्यादातर मामले डेल्टा वैरिएंट के ही हैं। 

Khaskhabar/भारतीय सार्स-सीओवी-2 जीनोमिक्स कंसोर्टियम (इंसकाग) ने वैरिएंट आफ कंसर्न और डेल्टा वैरिएंट आफ इंटरेस्ट का पता लगाने के लिए 30,230 नमूनों की जीनोम सिक्वेंसिंग
Posted by khaskhabar

वैक्सीन गंभीर बीमारी और मौत को कम करने में बहुत प्रभावी

डेल्टा वैरिएंट को वैरिएंट आफ कंसर्न यानी चिंताजनक वैरिएंट की श्रेणी में रखा गया है। इंसकाग ने 16 अगस्त को जारी अपनी नवीनतम बुलेटिन में कहा है कि डेल्टा वैरिएंट संक्रमण के प्रसार को रोकने में वैक्सीन के प्रभाव को भी कम करता है। लेकिन वैक्सीन गंभीर बीमारी और मौत को कम करने में बहुत प्रभावी है। अभी भी ब्रेकथ्रू संक्रमण के मामलों की सीक्वेंसिंग में डेल्टा वैरिएंट के मामले ही ज्यादा पाए जा रहे हैं। किसी नए वैरिएंट को लेकर भी जांच जारी है।

भारत में मई में इस वैरिएंट ने भारी तबाही मचाई

भारत और अमेरिका के साथ दुनिया के 80 से ज्यादा देशों में डेल्टा वैरिएंट पाया गया है। मौजूदा समय में चीन और कोरिया में इसके ज्यादा मामले मिल रहे हैं। भारत में मई में इस वैरिएंट ने भारी तबाही मचाई थी। नए मामलों की संख्या चार लाख को पार कर गई थी और रोजाना हजारों मौैतें भी हो रही थीं। वैरिएंट के और भी कई नए वैरिएंट निकले हैं, लेकिन उनमें से डेल्टा प्लस वैरिएंट के 61 मामले ही अभी देश में पाए गए हैं।

यह भी पढ़े —स्क्रिप्ट राइटर प्रिया शर्मा ने भेजा कानूनी नोटिस,रणदीप पर उन्हें धमकाने का लगाया आरोप

रोजाना 30 हजार के आसपास मिल रहे मामले

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से शुक्रवार को सुबह आठ बजे अपडेट किए गए आंकड़ों के मुताबिक बीते 24 घंटे में 36 हजार से ज्यादा नए मामले मिले हैं और 540 लोगों की मौत हुई है। दूसरी लहर की तुलना में नए मामलों में कमी तो आई है, लेकिन अभी भी रोजाना 30 हजार के आसपास मामले मिल रहे हैं। हालांकि, पांच महीने बाद शुक्रवार को सक्रिय मामले सबसे कम 3,63,605 दर्ज किए गए। मरीजों के उबरने की दर भी लगातार बढ़ रही है। पहले की तुलना में हालात बेहतर हो रहे हैं, हालांकि इसकी रफ्तार कुछ धीमी जरूर हो गई है।

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जानने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है|