Doctorate degree to 8th pass Sapna, NIMS University honored
राष्ट्रीय

8वीं पास सपना को डॉक्टरेट की उपाधि, निम्स यूनिवर्सिटी ने दिया सम्मान

Khaskhabar/8वीं पास शख्स भी अपने काम के दम पर एक मुकाम हासिल कर डॉक्टरेट की उपाधि पा सकता है, इस बात की मिसाल बन गई हैं डांसर सपना चौधरी। मंगलवार को निम्स यूनिवर्सिटी ने नृत्य संगीत के क्षेत्र में उनके कार्य के लिए उनका सम्मान किया औऱ उन्हें डॉक्टरेट की उपाधि प्रदान की।सपना चौधरी को यूनिवर्सिटी के फेलिसिटेशन एंड कल्चरल इवेंट में चीफ गेस्ट के रूप में आंमत्रित किया गया था।

Khaskhabar/8वीं पास शख्स भी अपने काम के दम पर एक मुकाम हासिल कर डॉक्टरेट की उपाधि पा सकता है, इस बात की मिसाल बन गई हैं डांसर सपना चौधरी। मंगलवार को निम्स यूनिवर्सिटी
Posted by khaskhabar

यूनिवर्सिटी के चेयरमैन और चांसलर डॉ बलबीर सिंह तोमर ने इसे गर्व का पल बताया

इसी समारोह के दौरान उन्हें सम्मानित किया गया। इस दौरान यूनिवर्सिटी ने सपना चौधरी को दो फ्री ऑफर भी दिए, जिसमें छात्रों की मुफ्त पढ़ाई और मरीजों का मुफ्त इलाज शामिल है।निम्स यूनिवर्सिटी के चेयरमैन और चांसलर डॉ बलबीर सिंह तोमर ने इसे गर्व का पल बताया।

सपना चौधरी की सिंगिंग और डांसिंग की लोकप्रियता हर जगह सुनी

डॉ बी एस तोमर ने कहा – वो फिल्में और गाने ज्यादा नहीं देखते, लेकिन सपना चौधरी की सिंगिंग और डांसिंग की लोकप्रियता हर जगह सुनी है। उन्होंने कहा कि संघर्षों के बीच ऐसी लोकप्रियता हासिल करने के कारण ही एकेडेमिक काउंसलिंग और बोर्ड ऑफ मैनेजमेंट ने मुझसे बात करके यह फैसला किया कि हम ऐसी महान कलाकार को ‘डॉक्टर ऑफ फिलॉसफी’ की मानद उपाधि से सम्मानित किया जाए।

यूनिवर्सिटी एक्टर राजपाल यादव को प्रोफेसर की उपाधि से सम्मानित कर चुकी

उन्होंने कहा कि इससे सपना चौधरी ही नहीं बल्कि निम्स यूनिवर्सिटी भी गर्व महसूस कर रही है। आपको बता दें कि इससे पहले निम्स यूनिवर्सिटी एक्टर राजपाल यादव को प्रोफेसर की उपाधि से सम्मानित कर चुकी है।सपना चौधरी को सम्मानित करने के साथ-साथ निम्स यूनिवर्सिटी ने सपना से जुड़े दो फ्री ऑफर भी दिए।

भेजे गए अधिकतम 50 छात्रों को मुफ्त में पढ़ाया जाएगा

डॉ बी एस तोमर ने बताया कि- यूनिवर्सिटी सपना चौधरी द्वारा भेजे गए हर मरीज का फ्री में इलाज करेगी। साथ ही, उनके द्वारा भेजे गए अधिकतम 50 छात्रों को मुफ्त में पढ़ाया जाएगा। सबसे खास बात है कि मेडिकल, डेंटल सहित यूनिवर्सिटी में पढ़ाए जाने वाले करीब 400 कोर्स में से किसी में भी ये मुफ्त एडमिशन लिया जा सकता है।

चौधरी का शुरूआती जीवन काफी संघर्षपूर्ण रहा

किस कोर्स में एडमिशन देना है यह सपना चौधरी पर निर्भर करेगा।आपको बता दें कि सपना चौधरी का शुरूआती जीवन काफी संघर्षपूर्ण रहा है। असमय पिता की मौत की वजह से परिवार की पूरी जिम्मेदारी उनके सिर पर आ गई थी। सपना ने डांस कर परिवार का खर्च चलाना शुरू किया।

यह भी पढ़े —CM उद्धव ने बुलाई बैठक, कुछ ही देर में मातोश्री में होगा शिवसेना नेताओं के साथ मंथन

संघर्षों से निकल कर इस मुकाम तक पहुंचने के लिए ही निम्स यूनिवर्सिटी ने उन्हें सम्मानित किया

डांस में धीरे-धीरे सपना चौधरी की लोकप्रियता बढ़ने लगी। आज वो भारत ही नहीं, दुनिया की एक सेलेब्रिटी बन गई हैं।विदेशी लोग भी उनके गाने और डांस की कॉफी करते हैं। संघर्षों से निकल कर इस मुकाम तक पहुंचने के लिए ही निम्स यूनिवर्सिटी ने उन्हें सम्मानित किया है। कभी पारिवारिक जिम्मेदारी की वजह से 8वीं क्लास से आगे अपनी पढ़ाई नहीं बढा सकने वाली सपना चौधरी ने आज अपने काम के दम पर डॉक्टरेट की डिग्री हासिल कर लिया है।

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जानने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है
 |