Despite curfew in Sri Lanka, 600 arrested, police fired tear gas shells
दुनिया

श्रीलंका में कर्फ्यू के बावजूद बिगड़े हालात, 600 गिरफ्तार, पुलिस ने दागे आंसू गैस के गोले

Khaskhabar/श्रीलंका में 36 घंटों के राष्ट्रव्यापी कर्फ्यू का उल्लंघन करने और देश के सबसे गंभीर आर्थिक संकट के मद्देनजर सरकार विरोधी रैली आयोजित करने का प्रयास करने के लिए रविवार को देश के पश्चिमी प्रांत में 600 से अधिक व्यक्तियों को गिरफ्तार कर लिया गया। सरकार द्वारा लगाए गए सप्ताहांत कर्फ्यू का उल्लंघन करने के लिए विपक्षी सांसदों ने अपने नेता सजित प्रेमदासा के नेतृत्व में ऐतिहासिक इंडिपेंडेंस स्क्वायर की ओर विरोध मार्च निकाला था।

Khaskhabar/श्रीलंका में 36 घंटों के राष्ट्रव्यापी कर्फ्यू का उल्लंघन करने और देश के सबसे गंभीर आर्थिक संकट के मद्देनजर सरकार विरोधी रैली आयोजित करने का प्रयास
Posted by khaskhabar

सरकार द्वारा सार्वजनिक सुरक्षा अध्यादेश का दुरुपयोग करने का विरोध

सरकार ने विरोध प्रदर्शन के इस पूर्व नियोजित कार्यक्रम के मद्देनजर शनिवार को कर्फ्यू की घोषणा की थी। प्रेमदासा का कहना था, ‘हम प्रदर्शन करने से संबंधित जनता के अधिकारों का हनन करने के लिए सरकार द्वारा सार्वजनिक सुरक्षा अध्यादेश का दुरुपयोग करने का विरोध कर रहे हैं।’ ‘कोलंबो गजट’ में प्रकाशित एक रिपोर्ट के अनुसार, रविवार को पश्चिमी प्रांत में कुल 664 व्यक्तियों को गिरफ्तार किया गया।

राष्ट्रपति गोटाबाया राजपक्षे के निजी आवास के बाहर बिजली के खंभे पर चढ़ गया

इस दौरान घंटों बिजली आपूर्ति बाधित रहने के विरोध में रविवार को एक 53 वर्षीय व्यक्ति नशे की हालत में राष्ट्रपति गोटाबाया राजपक्षे के निजी आवास के बाहर बिजली के खंभे पर चढ़ गया और तेज करंट की चपेट में आ गया। राष्ट्रपति राजपक्षे ने शुक्रवार देर रात एक विशेष गजट अधिसूचना जारी कर श्रीलंका में एक अप्रैल से आपातकाल लगा दिया था।

सोमवार सुबह छह बजे तक 36 घंटे का कर्फ्यू लगाया था

साथ ही शनिवार शाम छह बजे से सोमवार सुबह छह बजे तक 36 घंटे का कर्फ्यू लगाया था।सरकार ने रविवार को इंटरनेट मीडिया तक जनता की पहुंच को खत्म करने के लिए इंटरनेट सेवा पर भी रोक लगाने का आदेश दिया था और लोगों के एक जगह इकट्ठा होने पर रोक लगा दी थी। लेकिन करीब 15 घंटे बाद इंटरनेट सेवा बहाल कर दी गई।

लोग इंटरनेट मीडिया साइट से जुड़ने के लिए वीपीएन का इस्तेमाल करेंगे

राजपक्षे के भतीजे और खेल मंत्री नमल राजपक्षे का कहना था कि इंटरनेट सेवा पर प्रतिबंध अनुपयोगी है क्योंकि बहुत सारे लोग इंटरनेट मीडिया साइट से जुड़ने के लिए वीपीएन का इस्तेमाल करेंगे।वहीं रायटर की रिपोर्ट के मुताबिक एक संघीय सांसद ने बताया कि पुलिस ने रविवार को मध्य श्रीलंका में सैकड़ों प्रदर्शनकारी छात्रों पर आंसू गैस के गोले दागे।

श्रीलंका अपने इतिहास के सबसे बड़े आर्थिक संकट का सामना कर रहा

मालूम हो कि श्रीलंका अपने इतिहास के सबसे बड़े आर्थिक संकट का सामना कर रहा है। कम आपूर्ति के चलते ईंधन, रसोई गैस और जरूरी सामान के लिए लंबी कतारें लगी हैं। घंटों बिजली गुल रहती है और आम लोग हफ्तों से ऐसे हालात का सामना कर रहे हैं। 

यह भी पढ़े —उत्तर प्रदेश में स्वास्थ्य सुविधाओं को मिलेगी बूस्टर डोज,अगले साल 14 नए मेडिकल कालेजों से होगा लैस

भारत-श्रीलंका के बीच अपनी उड़ानों की संख्या प्रति सप्ताह 16 से घटाकर 13 करेगी

समाचार एजेंसी पीटीआइ के मुताबिक एयर इंडिया ने रविवार को कहा कि वह मांग में कमी के चलते नौ अप्रैल से भारत-श्रीलंका के बीच अपनी उड़ानों की संख्या प्रति सप्ताह 16 से घटाकर 13 करेगी। एयर इंडिया के प्रवक्ता ने बताया कि प्रति सप्ताह दिल्ली से संचालित होने वाली उड़ानों की संख्या सात से घटाकर चार कर दी जाएंगी। जबकि चेन्नई से संचालित होने वाली उड़ानों की संख्या में कोई कमी नहीं की जाएगी, वहां से प्रति सप्ताह नौ उड़ानों का संचालन होता रहेगा।

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जानने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है|