आतंकी
राष्ट्रीय

Delhi Terror Alert: दिल्‍ली में आतंकी हमला करने पहुंचे 4 संदिग्‍ध आतंकी गिरफ्तार, बड़ा धमाका करने की थी योजना

नई दिल्‍ली, राकेश कुमार सिंह। दिल्‍ली पुलिस की स्‍पेशल सेल को एक बड़ी सफलता मिली है। स्‍पेशल सेल के जवानों की मुस्‍तैदी ने दुर्गापूजा के पहले दिल्‍ली को दहलाने की साजिश नाकाम कर दिया है। स्‍पेशल सेल ने चार आतंकियों को गिरफ्तार किया है। ये सभी आतंकी गजावत उल हिंद से ताल्‍लुक रख रहे हैं। मिली जानकारी के अनुसार हाल में ही अलकायदा ने इस संगठन को बनाया है। ये सभी आतंकी 29 सितंबर को दिल्‍ली आए थे।

यहां आकर उन्‍होंने हथियार और कारतूस जुटाया। इनकी योजना के खुलासे के बाद से दिल्‍ली पुलिस सहित कई सुरक्षा एजेंसियां अलर्ट हो गई हैं। दिल्‍ली पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार ये देश की राजधानी में आतंकी हमले की फिराक में थे। चारों के पास से चार पिस्‍टल, 120 कारतूस बरामद किए गए हैं।

यह भी पढ़े — Bigg Boss 14:कंटेस्टेंट्स को जान कुमार सानू की वॉर्निंग घर में एंट्री लेने से पहले, ‘मुझे हल्के में न लें’

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने अंसार गजवत उल हिंद आतंकी संगठन के चार संदिग्ध आतंकियों को आइटीओ रिंग रोड से गिरफ्तार किया है। यह अलकायदा का नया संगठन है। चारों जम्मू-कश्मीर के रहने वाले हैं। इनकी योजना दिल्ली में आतंकी हमले को अंजाम देने की थी। हमले के लिए इन्होंने दिल्ली में हथियार व कारतूस जुटा लिए थे, लेकिन त्योहार से पूर्व सक्रिए स्पेशल सेल की टीम ने पुराना पुलिस मुख्यालय से कुछ दूरी पर चारों को दबोच आतंकी हमले की इनकी बड़ी योजना को विफल कर दिया। चारों को कोर्ट में पेश कर पूछताछ के लिए रिमांड पर लिया गया है।

चारों जम्‍मू के रहने वाले

आतंकी

डीसीपी स्पेशल सेल प्रमोद सिंह कुशवाहा के मुताबिक गिरफ्तार किए गए संदिग्ध आतंकियों के नाम अल्ताफ अहमद डार (25, पुलवामा), इश्फाक मजीद कोका (28, शोपियां, अनंतनाग) , मुश्ताक अहमद गनी (27, शोपियां, जम्मू-कश्मीर) व अकीब सफी (22, शोपियां, जम्मू-कश्मीर) है। इनके पास से प्वाइंट 32 बोर की तीन पिस्टल, 9 एमएम की एक पिस्टल, 120 कारतूस, पांच मोबाइल फोन व जम्मू कश्मीर नंबर की बलेनो कार मिली है।

पहाड़गंज में रुके थे चारों आतंकी

यहां इन्होंने पहाड़गंज के एक होटल में अपना ठिकाना बनाया हुआ था। संगठन के हैंडलर ने इश्फाक मजीद कोका के खाते में तीन लाख रुपये डाल दिए जिससे उसने स्थानीय कुछ लोगों की मदद से हथियार व कारतूस खरीद लिया था। इनकी योजना दिल्ली में आतंकी हमले की थी। मकसद में कामयाब होने पर अलकायदा इन्हें जम्मू कश्मीर में अंसार गजवत उल हिंद में औपचारिक रूप से शामिल करता।

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जाने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है |