Defense Minister invites American companies to join India's 'Make for World' campaign
राष्ट्रीय

भारत के ‘मेक फार व‌र्ल्ड’ अभियान में शामिल होने के लिए रक्षा मंत्री ने अमेरिकी कंपनियों को किया आमंत्रित

khaskhabar/रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भारत और अमेरिका के बीच वाणिज्यिक और आर्थिक स्तंभो को मजूबत करने के महत्व को रेखांकित किया है। गुरुवार को उन्होंने कहा कि दोनों देश रक्षा महत्वपूर्ण और उभरते हुए क्षेत्रों में जुड़ाव बढ़ा रहे हैं। इसके साथ ही उन्होंने कंपनियों का भी भारत की नीतिगत पहलों का लाभ उठाने के लिए ‘मेक इन इंडिया’ से ‘मेक फार व‌र्ल्ड’ की ओर से तेजी से बढ़ने का आह्वान किया।

khaskhabar/रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भारत और अमेरिका के बीच वाणिज्यिक और आर्थिक स्तंभो को मजूबत करने के महत्व को रेखांकित किया है। गुरुवार को उन्होंने कहा कि दोनों देश रक्षा महत्वपूर्ण
Posted by khaskhabar

दोनों देशों के बीच हाल ही में संपन्न टू प्लस टू की बैठक के ठीक बाद हुई

राजनाथ सिंह अमेरिकन चैंबर आफ कामर्स इन इंडिया (एएमसीएचएम) की वार्षिक आम बैठक में यह टिप्पणी की। यह बैठक दोनों देशों के बीच हाल ही में संपन्न टू प्लस टू की बैठक के ठीक बाद हुई। बैठक में रक्षा मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और राष्ट्रपति जो बाइडन के बीच सकारात्मक बातचीत ने दोनों देशों को अधिक महत्वाकांक्षी और रणनीतिक जुड़ाव की तरफ आगे बढ़ने में सक्षम बनाया है।

सह उत्पादन और निवेश के लिए अमेरिकी नेतृत्व की प्रतिक्रिया सकारात्मक

रक्षा मंत्री सिंह ने कहा कि उन्होंने अपनी यात्रा के दौरान पाया कि भारत में अनुसंधान और उद्योग में सह विकास, सह उत्पादन और निवेश के लिए अमेरिकी नेतृत्व की प्रतिक्रिया सकारात्मक है।टू प्लस टू वार्ता के बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा कि दोनों देशों ने रक्षा के कुछ महत्वपूर्ण और उभरते हुए क्षेत्रों में जुड़ाव को बढ़ाने का फैसला किया है। उन्होंने कहा कि दोनों देशों ने अंतरिक्ष में नए जुड़ाव के अवसर को बढ़ाने के लिए अंतरिक्ष की स्थिति संबंधी जागरुकता पर समझौता किया गया है।

यह भी पढ़े —गृहमंत्री अमित शाह ने किया गुरु तेग बहादुर जी के 400वें प्रकाश पर्व को समर्पित कार्यक्रम को संबोधित

राजनाथ सिंह ने विश्वास के साथ कहा कि यह महज एक शुरुआत

एएमसीएचएम की वार्षिक आम बैठक में राजनाथ सिंह ने कहा कि हाल में कुछ अमेरिकी कंपनियों ने ‘मेक इन इंडिया, मेक फॉर द वर्ल्ड’ के लक्ष्य को हासिल करने के लिए भारतीय उद्योगों के साथ हिस्सेदारी में अपनी उपस्थिति को तेजी से बढ़ाई है। रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने विश्वास के साथ कहा कि यह महज एक शुरुआत है। साथ ही उन्होंने कहा कि बढ़ते व्यवसाय के साथ भारत में अमेरिकी कंपनियों द्वारा अधिक निवेशों की वह उम्मीद करते हैं। 

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जानने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है|