china-lost-control-with-its-rocket-threat-of-falling-on-these-countries
दुनिया

अंतरिक्ष में चीन ने खोया अपने रॉकेट से नियंत्रण, इन देशों पर मलबा गिरने का खतरा

Khaskhabar/चीन की की वजह से दुनिया को कोरोना का सामना करना पड़ा. कई देश देखते ही देखते लाशों के ढेर में तब्दील हो गए. इसके बाद भी आज तक चीन ने नहीं माना कि उसने कैसे इस वायरस को दुनिया में फैलाया? अब चीन द्वारा लॉन्च एक रॉकेट तबाही मचा सकता है. चीन ने 29 अप्रैल को स्पेस में Long March रॉकेट लॉन्च किया था. अब एक्सपर्ट्स का कहना है कि चीन का कंट्रोल इससे हट गया है. ये रॉकेट आउट ऑफ कंट्रोल होकर टूट गया है और आसमान से इसके बड़े-बड़े टुकड़े नीचे गिर रहे हैं. ये टुकड़े धरती पर कई देशों पर बरस कर तबाही मचा सकते हैं.

Khaskhabar/चीन की की वजह से दुनिया को कोरोना का सामना करना पड़ा. कई देश देखते ही देखते लाशों के ढेर में तब्दील हो गए. इसके बाद भी आज तक चीन ने नहीं माना कि उसने कैसे इस वायरस को दुनिया में
Posted by khaskhabar

करीब 100 फीट लंबा है. इसका वजन करीब 21 टन

अंतरिक्ष में भेजा गया चीन का रॉकेट किसी भी दिन वापस धरती पर अनियंत्रित प्रवेश कर सकता है. यह रॉकेट का मुख्य हिस्सा यानी कोर है. यह करीब 100 फीट लंबा है. इसका वजन करीब 21 टन है. पिछली साल मई महीने में चीन का एक रॉकेट पश्चिमी अफ्रीका और अटलांटिक महासागर में गिरा था. पश्चिमी अफ्रीका के एक गांव को इस रॉकेट बर्बाद कर दिया था. हालांकि अच्छी बात ये है इस गांव में कोई नहीं रहता था.

धरती के ऊपर 170 किलोमीटर से 372 किलोमीटर की ऊंचाई के बीच तैर रहा

चीन के इस रॉकेट का नाम है लॉन्ग मार्च 5बी वाई2 (Long March 5B Y2 Rocket). फिलहाल यह रॉकेट धरती के चारों तरफ लो-अर्थ ऑर्बिट में चक्कर लगा रहा है. यानी यह धरती के ऊपर 170 किलोमीटर से 372 किलोमीटर की ऊंचाई के बीच तैर रहा है. इसकी गति 25,490 किलोमीटर प्रति घंटा है यानी 7.20 किलोमीटर प्रति सेकेंड. रॉकेट के इस कोर की चौड़ाई 16 फीट है.

एक्सपर्ट्स रख रहे हैं नजर

Jonathan McDowell, जो स्पेस की गतिविधियों पर नजर रखते हैं, ने स्पेस न्यूज को बताया कि चीन का रॉकेट टूट चुका है. इसका मलबा अंतरिक्ष में फैला है और ये तेजी से धरती की तरफ गिर रहा है. जोनाथन ने मलबे की हालत देख कहा कि ये धरती पर बरस कर कई देशों में तबाही मचा सकता है. जिन देशों को ये मलबा निशाने पर लेगा उसमें न्यूयॉर्क, मेड्रिड, बीजिंग, चिली और न्यूजीलैंड का कुछ हिस्सा है.

कहीं भी हो सकता है विस्फोट

एक्सपर्ट्स का कहना है कि चीन का 100 फुट लंबा रॉकेट चार मील प्रति सेकंड की रफ़्तार से नीचे गिर रहा है. इसके टुकड़े कहीं भी गिर सकते हैं. हो सकता है कि ये भारी जनसंख्या वाली जगह पर गिरे. या ऐसा भी हो सकता है कि ये किसी खाली जगह पर गिरे. एक्सपर्ट्स लगातार इसपर नजर बनाए हुए हैं. चीन ने Long March 5B को 29 अप्रैल को लॉन्च किया था. इसके जरिये चीन अंतरिक्ष में नया स्पेस स्टेशन बनाना चाहता था.

यह भी पढ़े –तुर्की से बढ़ रहा तनाव,मिस्र ने फ्रांस के साथ 30 राफेल फाइटर जेट खरीदने का किया करार

क्या था चीन का प्लान?

चीन ने प्लान किया था कि इस रॉकेट के जरिये स्पेस में Tiangong नाम का चीनी स्पेस स्टेशन बनाया जाएगा, जो 2022 तक पूरा हो जाएगा. इसके बाद ये स्पेस स्टेशन पृथ्वी के चक्कर लगाकर पृथ्वी की जानकारी स्पेस से देगा. लेकिन अब खबर है कि ये रॉकेट अपना कंट्रोल खो चुका है और इसके मलबे कई देशों पर गिरकर तबाही मचा सकते हैं. एक्सपर्ट्स के मुताबिक, चीन को भी इसकी जानकारी है लेकिन अभी तक उसने इसे लेकर कोई चेतावनी जारी नहीं की है.

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जानने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है|