Chief Minister Yogi Adityanath reached SGPGI, former Chief Minister Kalyan Singh's condition very critical
राष्ट्रीय स्वास्थ

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पहुंचे एसजीपीजीआई,पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह की हालत बेहद नाजुक

Khaskhabar/एसजीपीजीआइ के डाक्टरों ने कल्याण सिंह की वर्तमान स्थिति बेहद खराब होने की जानकारी मुख्यमंत्री समेत उनके परिवार के लोगों को भी दे दी है। शनिवार को देर शाम यह सूचना मिलने पर योगी आदित्यानाथ उन्हें देखने एसजीपीजीआइ पहुंचे। वहां उन्होंने निदेशक डा. आरके धीमन व अन्य डाक्टरों से उनकी तबीयत के बारे में जानकारी ली।

Khaskhabar/एसजीपीजीआइ के डाक्टरों ने कल्याण सिंह की वर्तमान स्थिति बेहद खराब होने की जानकारी मुख्यमंत्री समेत उनके परिवार के लोगों
Posted by khaskhabar

संजय गांधी स्नात्कोत्तर आयुर्विज्ञान संस्थान (एसजीपीजीआइ) में भर्ती पूर्व सीएम कल्याण सिंह की हालत शनिवार को बेहद नाजुक हो गई है। उनका बीपी अनियंत्रित हो गया है। शरीर के अन्य पैरामीटर भी गड़बड़ चल रहे हैं। उन्हें डायलिसिस भी दी जा रही है। 

हिम्मत बंधाते हुए पूर्व सीएम के स्वस्थ व दीर्घायु होने की कामना की

सीएम योगी के साथ चिकित्सा शिक्षामंत्री सुरेश खन्ना भी मौजूद रहे। मुख्यमंत्री ने कल्याण सिंह के परिवार के लोगों से भी बात की और उन्हें हिम्मत बंधाते हुए पूर्व सीएम के स्वस्थ व दीर्घायु होने की कामना की। एसजीपीजीआइ के निदेशक डा. आरके धीमन ने बताया कि पिछले कई दिनों से कल्याण सिंह की हालत चिंताजनक बनी हुई है। अब उनका बीपी भी आसामान्य हो गया है। डायलिसिस भी दी जा रही है। 

चिकित्सा शिक्षामंत्री ने आकर उनका हालचाल लिया

शरीर के ज्यादातर पैरामीटर गड़बड़ चल रहे हैं। सभी डाक्टरों की टीम बारीकी से उनकी सेहत पर निगरानी रख रही है। मुख्यमंत्री व चिकित्सा शिक्षामंत्री ने आकर उनका हालचाल लिया है। परिवारजनों से भी बातचीत की है। पूरी स्थिति पर नजर बनी है।एसजीपीजीआइ के डॉक्टरों के अनुसार प‍िछले शनिवार से 89 वर्षीय पूर्व सीएम व वरिष्ठ भाजपा नेता कल्याण सिंह की तबीयत चिंताजनक बनी हुई है।

यह भी पढ़े —काबुल एयरपोर्ट की चारदीवारी में एक अफगान बच्चे का वीडियो मीडिया में खूब हुआ वायरल,जाने क्यों

शरीर में संक्रमण अभी भी बना हुआ

अब वह खुद से ऑक्सीजन नहीं ले पा रहे हैं। इसकी वजह से उनके फेफड़ों और खून में पर्याप्त ऑक्सीजन की आपूर्ति नहीं हो पा रही है। फेफड़े, दिल, गुर्दा, लिवर पर दबाव बढ़ गया है। इसका असर दिमाग पर भी पड़ रहा है, जिसके चलते मंगलवार की रात डॉक्टरों ने कल्याण सिंह के गले में ट्यूब डालकर फेफड़ों को ऑक्सीजन देनी शुरू की। इसे चिकित्सा भाषा में इंट्यूबेट (मैकेनिकल वेंटिलेशन) कहते हैं। उनके शरीर में संक्रमण अभी भी बना हुआ है। उनके उपचार में दिल, गुर्दा, डायबिटीज, न्यूरो, यूरो, गैस्ट्रो व क्रिटिकल केयर मेडिसिन विभाग समेत 12 विशेषज्ञ डाक्टरों की टीम लगातार निगरानी में लगी हुई है।  

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जानने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है|