Central University will be established in Ladakh at a cost of Rs 750 crores
कारोबार राष्ट्रीय

लद्दाख में 750 करोड़ रुपये की लागत से की जाएगी सेंट्रल यूनिवर्सिटी की स्थापना

Khaskhabar/पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्‍व में केंद्रीय मंत्रिमंडल के फैसले की जानकारी देते हुए केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख में 750 करोड़ की लागत से सेंट्रल यूनिवर्सिटी की स्थापना की जाएगी। ये यूनिवर्सिटी वहां अन्य शिक्षण संस्थानों के लिए भी एक मॉडल का कार्य करेगी। इस फैसले से स्थानीय युवाओं को मिलेगा। यूनिवर्सिटी के अंतर्गत लेह, कारगिल, लद्दाख के इलाके आएंगे। 

Khaskhabar/पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्‍व में केंद्रीय मंत्रिमंडल के फैसले की जानकारी देते हुए केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख में 750 करोड़ की लागत से सेंट्रल यूनिवर्सिटी की स्थापना

सेंट्रल यूनिवर्सिटी की स्थापना से लद्दाख में विकास तेज़ी से हो पाएगा

उन्‍होंने कहा कि इंटीग्रेटेड बहुउद्देशीय कॉरपोरेशन की स्थापना का निर्णय लिया गया है। ये कॉरपोरेशन लद्दाख में पर्यटन, उद्योग, परिवहन सुविधाओं के विकास और स्थानीय उत्पादों और हस्तशिल्प की मार्केटिंग जैसे महत्वपूर्ण कार्य और इन्फ्रास्ट्रक्चर निर्माण में करेगा। अनुराग ठाकुर ने बताया कि सेंट्रल यूनिवर्सिटी की स्थापना से लद्दाख में विकास तेज़ी से हो पाएगा। इसे कंपनी एक्ट के तहत लाया गया है, कॉरपोरेशन के पास 25 करोड़ रुपये तक का बजट होगा।

ईद की छुट्टी होने के कारण ये बैठक गुरुवार को

ज्ञात हो कि इस समय संसद का मानसून सत्र चल रहा है, ऐसे समय में संसद सत्र के बीच में यह कैबिनेट बैठक हुई है। आमतौर पर कैबिनेट बैठक बुधवार को होती है, लेकिन बीते दिन ईद की छुट्टी होने के कारण ये बैठक गुरुवार को हुई। पिछली कैबिनेट बैठक में केंद्र सरकार ने केंद्रीय कर्मचारियों के DA बढ़ाने जैसा अहम फैसला लिया था।

यह भी पढ़े —किसानों के प्रदर्शन के बिच यूपी गेट से सामने आई एक बेहद ही खूबसूरत तस्वीर, सोशल मीडिया पर हो रही जमकर तारीफ

योजना पांच साल के लिए 6 हजार करोड़ रुपये से अधिक

कैबिनेट ने स्टील उद्योग को देखते हुए एक अहम फैसला लिया है. केंद्र सरकार ने स्टील के आयात को कम करने के लिए PLI योजना का ऐलान किया है। ये योजना पांच साल के लिए 6 हजार करोड़ रुपये से अधिक होगी, इसकी मदद से 40 हजार करोड़ रुपये का निवेश भी आएगा।

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जानने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है|