राष्ट्रीय

BREAKING:: तेज भूकंप के झटकों से हिली जम्मू-कश्मीर की धरती,5.1 रिक्टर स्केल की थी तीव्रता

Khaskhabar/जम्मू-कश्मीर में भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं. इसकी तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 5.1 मापी गई है. बता दें कि इस समय कश्मीर में काफी ठंड है. अधिकारियों ने कहा कि जम्मू-कश्मीर की ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर में न्यूनतम तापमान 0.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है.

Khaskhabar/जम्मू-कश्मीर में भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं. इसकी तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 5.1 मापी गई है. बता दें कि इस समय कश्मीर में काफी ठंड है. अधिकारियों ने कहा कि जम्मू-कश्मीर की ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर में न्यूनतम तापमान 0.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है.
Posted by khaskhabar

पर्यटन स्थल गुलमर्ग में न्यूनतम तापमान गिरकर शून्य से 9.6 डिग्री सेल्सियस नीचे चला गया. इससे पिछली रात गुलमर्ग का तापमान शून्य से नीचे 7.2 डिग्री सेल्सियस था. कश्मीर में भारी बर्फबारी हो रही है.

लोग अपने-अपने घरों से बाहर निकल आए

शनल इंस्टीट्यूट ऑफ सेसिमोलॉजी के मुताबिक सोमवार शाम 7 बजकर 32 मिनट पर कश्मीर के डोडा, किश्तवाड़ और रामबान में भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए. भूकंप के झटके इतनी तेज थे कि लोग अपने-अपने घरों से बाहर निकल आए. भूकंप का केंद्र क्या था फिलहाल इसकी जानकारी नहीं मिली है. इसके अलावा भूकंप में किसी तरह के जान-माल के नुकसान की भी खबर सामने नहीं आई है.

यह भी पढ़े—कृषि कानूनों की वैधता को लेकर कल सुप्रीम कोर्ट सुनाएगा फैसला

पिछले चार महीनों से भूंकप के झटके महसूस किए जा रहे

जम्मू-कश्मीर में पिछले चार महीनों से भूंकप के झटके महसूस किए जा रहे हैं।लद्दाख में आ रहे भूकंप का केंद्र भी लद्दाख में बन रहा है। अगर कोई बड़ा झटका आ गया तो नुकसान हो सकता है। रियासी में भी फाल्ट लाइन है। जम्मू संभाग का डोडा, भद्रवाह, किश्तवाड़ भी भूकंप के लिहाज से संवदेनशील है। जम्मू कश्मीर और लद्दाख में सिर्फ सितंबर महीने में ही दस बार भूकंप के झटके महसूस किए जा चुके है। विशेषज्ञ इसे चिंता का विषय मान रहे है। यह भी कह रहे है कि इससे दबाव कम होता है और बड़ा झटका के आने की संभावना कम होती है लेकिन लगातार आ रहे झटकों से खतरा भी बढ़ सकता है।

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जानने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है|