Big announcement for Agniveers, 10% reservation in Central forces and Assam Rifles, age relaxation too
राष्ट्रीय

अग्निवीरों के लिए बड़ा ऐलान, केंद्रीय बलों और असम राइफल्स में मिलेगा 10% आरक्षण, आयु में भी छूट

Khaskhabar/अग्निपथ योजना के विरोध के चलते हुए बवाल के बाद केंद्र सरकार के गृह मंत्रालय ने पहली बार अग्निवीरों के लिए एक निश्चित आरक्षण का ऐलान कर दिया है। गृह मंत्रालय ने ऐलान किया है कि केंद्रीय सशस्त्र बलों और असम राइफल्स की भर्ती में अग्निवीरों को 10 फीसदी आरक्षण दिया जाएगा। इसके अलावा उम्र सीमा में भी छूट मिलेगी। आपको बता दें कि सरकारी संस्थानों और राज्य सरकारों ने अग्निवीरों को प्राथमिकता देने की बात कही है लेकिन पहली बार गृह मंत्रालय ने स्पष्ट रूप से 10 प्रतिशत आरक्षण का ऐलान किया है।

Khaskhabar/अग्निपथ योजना के विरोध के चलते हुए बवाल के बाद केंद्र सरकार के गृह मंत्रालय ने पहली बार अग्निवीरों के लिए एक निश्चित आरक्षण का ऐलान कर दिया
Posted by khaskhabar

अग्निवीर के पहले बैच के लिए उम्र में छूट निर्धारित ऊपरी आयु सीमा से 5 वर्ष के लिए होगी

इसके अलावा, अर्ध सैनिक बलों और असम राइफल्स में भर्ती के लिए अग्निवीरों को तय ऊपरी आयु सीमा से आरक्षण 3 साल की छूट दी जाएगी। अग्निवीर के पहले बैच के लिए उम्र में छूट निर्धारित ऊपरी आयु सीमा से 5 वर्ष के लिए होगी।गृह मंत्रालय एक अधिकारी ने कहा, “अर्धसैनिक बलों और असम राइफल्स में 10% सीटें आरक्षित करने का निर्णय उन युवाओं को कुछ हद तक ‘स्थायी नौकरी’ का आश्वासन देगा, जो देश भर में ‘अग्निपथ’ योजना का हिंसक विरोध कर रहे हैं।

भर्ती की घोषित नई ‘अग्निपथ योजना’ का देश के कई हिस्सों में युवा विरोध कर रहे

आयु में 3 साल की छूट भी अधिकतर अग्निवीरों को सीएपीएफ में आने में मदद करेगी, जिनकी सशस्त्र बलों में चार साल की सर्विस पूरी हो चुकी है।”आपको बता दें कि सेना में भर्ती की घोषित नई ‘अग्निपथ योजना’ का देश के कई हिस्सों में युवा विरोध कर रहे हैं। अग्निपथ के खिलाफ बिहार में प्रदर्शन कर रहे छात्र संगठनों ने आज ‘राज्य बंद’ का आह्वान किया है।

अग्निपथ भर्ती योजना के विरोध में सड़कों पर आंदोलन कर रहे

राजद की बिहार इकाई के अध्यक्ष जगदानंद सिंह ने वाम दलों के नेताओं की उपस्थिति में ‘बिहार बंद’ के आह्वान को अपनी पार्टी के समर्थन की घोषणा की। उन्होंने कहा कि हम उन छात्रों के समर्थन में हैं जो अग्निपथ भर्ती योजना के विरोध में सड़कों पर आंदोलन कर रहे हैं।विरोध प्रदर्शन के दौरान शुक्रवार को तेलंगाना के सिकंदराबाद में पुलिस की गोलीबारी में एक व्यक्ति की मौत हो गई।

जान गंवाने वाले युवक की पहचान वारंगल जिले के रहने वाले 24 वर्षीय राकेश के रूप में हुई

आक्रोशित युवाओं के प्रदर्शन के दौरान कई ट्रेनों में आग लगा दी गई, निजी, सार्वजनिक वाहनों, रेलवे स्टेशन में तोड़फोड़ की गई और राजमार्गों व रेलवे लाइन को अवरूद्ध कर दिया गया। शुक्रवार को जान गंवाने वाले युवक की पहचान वारंगल जिले के दबीरपेट गांव के रहने वाले 24 वर्षीय राकेश के रूप में हुई है। बुधवार से शुरू हुए हिंसक प्रदर्शन के बाद मौत का यह पहला मामला सामने आया है।

यह भी पढ़े —नूपुर शर्मा हो सकती हैं गिरफ्तार,दिल्ली पहुंची मुंबई पुलिस ने कहा अरेस्ट के लिए पर्याप्त सबूत

अधिकारियों ने कहा कि प्रदर्शनकारी अब तक सात ट्रेनों के डिब्बों को आग लगा चुके

रेलवे अधिकारियों ने आरक्षण कहा कि 340 ट्रेन का परिचालन प्रभावित हुआ और अब तक 234 ट्रेन रद्द की जा चुकी हैं। अधिकारियों ने कहा कि प्रदर्शनकारी अब तक सात ट्रेनों के डिब्बों को आग लगा चुके हैं। प्रदर्शनकारियों ने पूर्व मध्य रेलवे (ईसीआर) जोन में तीन चलती ट्रेनों के डिब्बों और उसी जोन के कुल्हरिया में एक खाली बोगी को क्षतिग्रस्त कर दिया। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश के बलिया में धुलाई के लिये कतार में खड़ी एक ट्रेन की एक बोगी को भी नुकसान पहुंचाया गया। ईसीआर जोन में अब तक 64 ट्रेन को गंतव्य से पहले ही रोक दिया गया है।

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जानने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है
 |