Battle in Kharkiv on fifth day, Russian missiles ready for nuclear attack, no agreement reached in talks
दुनिया

पांचवें दिन खार्कीव में घमासान, रूसी मिसाइलें परमाणु हमले को तैयार,वार्ता में नहीं बनी सहमति

Khaskhabar/परमाणु हथियारों के लिए जिम्मेदार रणनीतिक बल को हाई अलर्ट पर लाने के बाद रूस ने सोमवार को एटम बमों से लैस मिसाइलों को हमले के लिए तैयार रखने का आदेश दे दिया। परमाणु हमले से संबंधित यूनिट के कर्मियों की छुट्टियां रद कर दी गई हैं और उन्हें पूरे 24 घंटे अलर्ट मोड में रहने के आदेश दिया गया है। रूस के कदम से सतर्क हुए अमेरिका ने अपने दूतावास कर्मियों को परिवार वापस भेजने के लिए कहा है।

Khaskhabar/परमाणु हथियारों के लिए जिम्मेदार रणनीतिक बल को हाई अलर्ट पर लाने के बाद रूस ने सोमवार को एटम बमों से लैस मिसाइलों को हमले के लिए तैयार रखने का आदेश दे दिया।
russia ukrane war-Posted by khaskhabar

वार्ता में दोनों पक्षों कोई सहमति नहीं बन पाई

साथ ही बेलारूस का दूतावास बंद कर दिया है।बेलारूस में साढ़े तीन घंटे चली वार्ता में यूक्रेन ने रूस से क्रीमिया और डोनबास (डोनेस्क और लुहांस्क) से सेना हटाने के लिए कहा है। वार्ता में दोनों पक्षों कोई सहमति नहीं बन पाई है। इस बीच यूक्रेन में छिड़े युद्ध में रूस ने सोमवार को बर्डीक्स और एनेरहोडर कस्बों पर कब्जा कर लिया।

कीव पर मिसाइल हमले के साथ ही गुरुवार को युद्ध की शुरुआत हुई थी

बर्डीक्स में यूक्रेन का नौसैनिक अड्डा भी है, वह भी रूसी सेना के कब्जे में आ गया है। राजधानी कीव पर रूसी सेना के चौतरफा हमले बदस्तूर जारी हैं।यूक्रेन पर रूसी हमला पांचवे दिन भी जारी है। कीव पर मिसाइल हमले के साथ ही गुरुवार को युद्ध की शुरुआत हुई थी लेकिन महज एक दिन में कीव के नजदीक पहुंची रूसी सेना चार दिन में पूरा जोर लगाने के बावजूद यूक्रेनी राजधानी में दाखिल नहीं हो पाई है।

रविवार और सोमवार की पूरी रात भारी रूसी गोलाबारी हुई

दूसरे बड़े शहर खार्कीव में दाखिल होने के कुछ घंटे बाद ही कड़े प्रतिरोध के चलते रूसी सेना को बाहर निकलना पड़ा। वहां पर रविवार और सोमवार की पूरी रात भारी रूसी गोलाबारी हुई है। अन्य प्रमुख शहरों पर भी कब्जे के लिए रूसी सेना ऐसे ही हमले कर रही है।समाचार एजेंसी एएफपी ने परमाणु खार्कीव के गवर्नर के बयान के हवाले से बताया कि यूक्रेन के इस दूसरे बड़े शहर में रूसी सैनिकों की गोलीबारी में 11 नागरिकों की मौत हो गई।

यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने अगले 24 घंटे यूक्रेन के लिए बहुत महत्वपूर्ण बताए

वहीं समाचार एजेंसी एपी की रिपोर्ट के मुताबिक यूक्रेनी जवानों के पास भले ही भारी हथियारों की कमी हो लेकिन मजबूत इरादों से लबरेज इन रणबांकुरों ने राजधानी कीव समेत दूसरे शहरों में रूसी सेना की रफ्तार रोक दी है।ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जानसन से टेलीफोन वार्ता में यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने अगले 24 घंटे यूक्रेन के लिए बहुत महत्वपूर्ण बताए हैं।

आर्थिक प्रतिबंधों के जरिये रूस को अलग-थलग करने की मुहिम भी जारी

इस बीच रूस के आसपास के 36 देशों ने उसके विमानों के लिए हवाई प्रतिबंध लगा दिया है। इसके चलते कई दिशाओं में रूस का रास्ता रुक गया है। कड़े आर्थिक प्रतिबंधों के जरिये रूस को अलग-थलग करने की मुहिम भी जारी है।इन्हीं परिस्थितियों में बेलारूस के राष्ट्रपति एलेक्जेंडर लुकाशेंकों ने विश्व युद्ध छिड़ने की आशंका जताई है। पश्चिमी देशों ने रूस के मित्र देश बेलारूस पर भी प्रतिबंध लगाए जाने के संकेत दिए हैं।

14 बच्चों समेत कुल 352 लोगों के मारे जाने और 1,684 लोगों के घायल होने की खबर

इस बीच बेलारूस में हुए जनमत संग्रह में 65 प्रतिशत से ज्यादा लोगों ने परमाणु हथियार विहीन देश का दर्जा त्यागने के पक्ष में मत दिया है।यूक्रेन ने दावा किया है कि हमले के लिए आए 5,300 रूसी सैनिकों को मार गिराया गया है। इसके अतिरिक्त 151 रूसी टैंक, 29 लड़ाकू विमान और 29 ही हेलीकाप्टर भी जवाबी कार्रवाई में नष्ट किए गए हैं। जबकि रूसी हमले में यूक्रेन के 14 बच्चों समेत कुल 352 लोगों के मारे जाने और 1,684 लोगों के घायल होने की खबर है।

यह भी पढ़े —Ukraine Crisis : UNSC का विशेष सत्र, इस बार भी मतदान प्रक्रिया से बाहर रहा भारत

पोप फ्रांसिस के कार्यालय ने कहा है कि युद्ध रोकने के लिए वह मध्यस्थता करने को तैयार

एक अनुमान के अनुसार यूक्रेन में अभी तक रूस की ओर से 350 से ज्यादा मिसाइल हमले हुए हैं।संयुक्त राष्ट्र ने यूक्रेन से पांच लाख से ज्यादा लोगों के पलायन की बात कही है। कहा है कि ये लोग यूक्रेन के पड़ोसी देशों में पहुंचे हैं। अगर पलायन इसी गति से जारी रहा, तो आने वाले दिनों में बड़ी समस्या पैदा हो सकती है। इस बीच वेटिकन में पोप फ्रांसिस के कार्यालय ने कहा है कि युद्ध रोकने के लिए वह मध्यस्थता करने को तैयार है। पोप ने तेजी से बिगड़ रहे हालात पर भी चिंता जताई है।

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जानने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है|