america-north-koreas-missile-launch-not-an-inflammatory-move-biden
दुनिया

उत्तर कोरिया ने दागी मिसाइलें, अमेरिका ने कहा- यह ‘सामान्य परीक्षण’ है,हम बातचीत को तैयार

Khaskhabar/उत्तर कोरिया ने हाल ही में दो कम दूरी वाली मिसाइलों का परीक्षण किया है। अमेरिकी और दक्षिण कोरियाई आधिकारियों ने इसकी जानकारी दी है। हालांकि, अमेरिका इसके बावजूद बातचीत के लिए तैयार है। जो बाइडन के राष्ट्रपति बनने के बाद उत्तर कोरिया ने पहली बार मिसाइल का परीक्षण किया है।

Khaskhabar/उत्तर कोरिया ने हाल ही में दो कम दूरी वाली मिसाइलों का परीक्षण किया है। अमेरिकी और दक्षिण कोरियाई आधिकारियों ने इसकी जानकारी दी है। हालांकि, अमेरिका इसके बावजूद बातचीत के लिए तैयार है। जो बाइडन के राष्ट्रपति
Posted by khaskhabar

बातचीत तबतक मुमकिन नहीं है जबतक अमेरिका उसके प्रति विरोधी नीतियों को नहीं छोड़ता

बता दें कि पिछले दिनों उत्तर कोरिया ने बातचीत के प्रस्ताव को ठुकरा दिया था। उसने कहा था कि बातचीत तबतक मुमकिन नहीं है जबतक अमेरिका उसके प्रति विरोधी नीतियों को नहीं छोड़ता। अमेरिका बातचीत के लिए विभिन्न माध्यमों से संपर्क कर चुका है, लेकिन कोई सफलता नहीं मिली है। 

रक्षा अधिकारियों ने इसे “हमेशा की तरह व्यवसाय” कहा।

योंगहाप समाचार एजेंसी ने रविवार को सियोल में सैन्य स्रोतों का हवाला देते हुए प्योंगयांग को अपने पश्चिमी तट से दो क्रूज मिसाइलें दागीं। बिडेन के पदभार संभालने के बाद से यह पहली बार है। बीबीसी ने बुधवार को बताया कि बिडेन ने कहा कि रक्षा अधिकारियों ने इसे “हमेशा की तरह व्यवसाय” कहा। दक्षिण कोरिया और अमेरिका के सशस्त्र बलों द्वारा संयुक्त सैन्य अभ्यास के मद्देनजर रविवार को परीक्षण हुआ। नौ दिवसीय कमान अभ्यास, जिसमें क्षेत्र प्रशिक्षण शामिल नहीं था, पिछले सप्ताह गुरुवार को समाप्त हुआ। 

बाइडन प्रशासन के के दो वरिष्ठ अधिकारियों ने मंगलवार को बताया कि उत्तर कोरिया ने ऐसे मिसाइलों की परीक्षण की है, जिनपर यूएन सुरक्षा परिषद का प्रतिबंध नहीं है।दक्षिण कोरिया की सेना ने कहा कि रविवार को उत्तर कोरिया के पश्चिमी तट से दो क्रूज मिसाइलें दागी गईं। 

उत्तर कोरिया ने पहली बार किया मिसाइल परीक्षण

जनवरी में बाइडन के अमेरिकी राष्ट्रपति का पदभार संभालने के बाद से उत्तर कोरिया ने पहली बार मिसाइल का परीक्षण किया। इसे लेकर अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि बहुत कुछ नहीं बदला है। उन्होंने जो किया वह कोई नई बात नहीं है। बाइडन ने यह बात ओहायो की यात्रा से लौटने पर संवाददाताओं से कही। इस दौरान उनसे पूछा गया कि क्या उत्तर कोरिया द्वारा किया गया परीक्षण उकसाने के लिए था?

यह भी पढ़े—प्रयागराज के फूलपुर की यूरिया बनाने वाली फैक्ट्री इफको प्‍लांट में फटा ब्वायलर, दो लोगों की मौत, कई घायल

किम जोंग उन की प्रभावशाली बहन किम यो जोंग ने सैन्य अभ्यास की की निंदा

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बिडेन ने कोलंबस, ओहियो में संवाददाताओं से कहा, हमने सीखा है कि बहुत कुछ नहीं बदला है। उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन की प्रभावशाली बहन किम यो जोंग ने सैन्य अभ्यास की निंदा की थी और नए अमेरिकी प्रशासन पर पहले कदम के रूप में परेशानी पैदा करने का आरोप लगाया था। 

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जाने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है|