After affecting big cities, Covid-19 is now hitting India's rural areas
राष्ट्रीय स्वास्थ

केंद्र ने कहा-गंगा में शव प्रवाहित करना गलत और खतरनाक,यूपी और बिहार लगाएं रोक

Khaskhabar/उत्तर प्रदेश और बिहार में गंगा के किनारे सैकड़ों शव मिलने के बाद केंद्र ने इस मामले में दखल दिया है। केंद्र सरकार ने दोनों राज्यों से कहा है कि वे गंगा और उसकी सहायक नदियों में शव प्रवाहित करने पर रोक लगाएं। साथ ही शवों का सुरक्षित और सम्मानजनक तरीके से दाह संस्कार कराने पर ध्यान दें।

Khaskhabar/उत्तर प्रदेश और बिहार में गंगा के किनारे सैकड़ों शव मिलने के बाद केंद्र ने इस मामले में दखल दिया है। केंद्र सरकार ने दोनों राज्यों से कहा है कि वे गंगा और उसकी सहायक नदियों में शव प्रवाहित करने पर
Posted by khaskhabar

15 और 16 मई को हुई समीक्षा बैठक में केंद्र ने कहा कि हाल में गंगा और उसकी सहायक नदियों में शवों और अधजली लाशें प्रवाहित करने की सूचना मिली है। यह बहुत गलत और खतरनाक है।

गांवों में कोरोना रोकने के लिए नई गाइडलाइन

अभी तक शहरों में मौतों की वजह बन रहा कोरोना गांवों में तेजी से फैलने लगा है। ऐसे में केंद्र सरकार ने रविवार को गांवों के लिए अलग से गाइडलाइन जारी की, ताकि इसका संक्रमण रोका जा सके। इस गाइडलाइन के मुताबिक, आशा कार्यकर्ताओं को जुकाम-बुखार की मॉनिटरिंग और संक्रमित मामलों में कम्युनिटी हेल्थ अफसर को फोन पर केस देखने के निर्देश दिए गए हैं। इसके अलावा एएनएम को भी रैपिड एंटीजन टेस्ट की ट्रेनिंग दिए जाने की बात कही गई है।

यह भी पढ़े –माउंटबेटन की डायरी को सावर्जनिक करने से UK का इनकार,नेहरू-एडविना-भारत को लेकर राज खुलने का डर!

PG फर्स्ट इयर के 30 लाख स्टूडेंट्स को बगैर परीक्षा के प्रमोट करने की तैयारी

देश में कोरोना की दूसरी लहर के बीच राहत की खबर है। उत्तर प्रदेश सरकार UG में फर्स्ट और सेकेंड इयर वालों के साथ PG फर्स्ट इयर के 30 लाख स्टूडेंट्स को बगैर परीक्षा के प्रमोट करने की तैयारी में है। UG फाइनल इयर के स्टूडेंट्स को परीक्षाएं देनी होंगी, जो जून-जुलाई में हो सकती हैं।इससे संक्रमण के ट्रांसमिशन की स्पीड काफी कम हो जाएगी।अगर सबकुछ प्लानिंग से चलता रहा तो देश जल्द ही इस महामारी को मात दे देगा।

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जानने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है|