राष्ट्रीय

35.50 लाख किसानों के खाते में जाएंगे 1600 करोड़ रुपए,आंदोलन के बीच पीएम आज मध्यप्रदेश के किसानों से करेंगे संवाद 

Khaskhabar/शुक्रवार को राज्‍य में आयोजित होने वाले किसान सम्मेलनों में खरीफ 2020 में हुए फसलों के नुकसान की 1600 करोड़ रुपए की राहत राशि राज्य के लगभग 35.50 लाख किसानों के खातों में डाली जाएगी. इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एवं मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान राज्य के किसानों को संबोधित करेंगे.

Khaskhabar/मध्यप्रदेश के किसानों के लिए बड़ी खुशखबरी है. शुक्रवार को राज्‍य में आयोजित होने वाले किसान सम्मेलनों में खरीफ 2020 में हुए फसलों के नुकसान की 1600 करोड़ रुपए की राहत राशि राज्य के लगभग 35.50 लाख किसानों के खातों में
Posted by khaskhabar

इस मौके पर मुख्यमंत्री शिवराज चौहान के संबोधन के पश्चात प्रधानमंत्री मोदी वीडियो कॉन्फ्रेंस द्वारा किसानों को दोपहर लगभग 2 बजे संबोधित करेंगे.मध्यप्रदेश जनसंपर्क विभाग के एक अधिकारी ने बृहस्पतिवार को बताया कि मुख्यमंत्री चौहान ने 18 दिसंबर को राज्य में हो रहे चार स्तरीय किसान कल्याण कार्यक्रम और सम्मेलनों के संबंध में वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से विस्तृत निर्देश दिए.

Khaskhabar/मध्यप्रदेश के किसानों के लिए बड़ी खुशखबरी है. शुक्रवार को राज्‍य में आयोजित होने वाले किसान सम्मेलनों में खरीफ 2020 में हुए फसलों के नुकसान की 1600 करोड़ रुपए की राहत राशि राज्य के लगभग 35.50 लाख किसानों के खातों में
Posted by khaskhabar

करीब 35.50 लाख किसानों को होगा लाभ

अधिकारी ने बताया, ‘‘इन किसान सम्मेलनों में खरीफ 2020 में हुए फसलों के नुकसान की 1600 करोड़ रुपए की राहत राशि किसानों के खातों में अंतरित की जाएगी. इससे करीब 35.50 लाख किसानों को लाभ होगा.” उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री रायसेन में राज्य स्तरीय मुख्य कार्यक्रम में शामिल होंगे, जिसमें लगभग 20,000 किसान सम्मिलित होंगे. अन्य जिलों में मंत्री इन कार्यक्रमों में किसानों को राहत राशि का वितरण करेंगे. इसी तरह के कार्यक्रम ब्लॉक और ग्रामीण स्तर पर भी होंगे.

कोविड-19 महामारी के चलते मुख्यमंत्री ने यह भी निर्देश दिए कि इन किसान कल्याण कार्यक्रम और सम्मेलनों में सामाजिक दूरी बनाए रखने संबंधी नियम का पालन अवश्य हो. सभी किसान मास्क का अनिवार्य रूप से उपयोग करें.उन्होंने कहा, ”मुख्यमंत्री चौहान के संबोधन के पश्चात प्रधानमंत्री मोदी वीडियो कॉन्फ्रेंस द्वारा किसानों को दोपहर लगभग दो बजे संबोधित करेंगे.” अधिकारी ने बताया कि नए कृषि कानूनों के लाभकारी प्रावधानों के संबंध में किसानों को विस्तार से इन सम्मेलनों में जानकारी प्रदान की जाएगी.

यह भी पढ़े—बिगबॉस की मेजबानी कर रहे कमल हासन लोगों का नहीं कर सकते भला,सीएम पलानीस्वामी का तंज

कई स्तर पर आयोजित हो रहा कार्यक्रम

बता दें कि किसानों के संबोधन का यह कार्यक्रम चार स्तरों ग्राम पंचायत, ब्लॉक स्तर, जिला एवं राज्य स्तर पर आयोजित किया जा रहा है। मुख्यमंत्री राज्य स्तर के कार्यक्रम को संबोधित करेंगे जिनमें करीब 20,000 किसान मौजूद रहेंगे। गत बुधार को पीएम मोदी अपने गुजरात दौरे पर थे। इस दौरान उन्होंने कच्छ में सिख किसानों से मुलाकात की। समझा जाता है कि इस मुलाकात में उन्होंने किसानों को नए कृषि कानून के फायदों से अवगत कराया। नए कानूनों पर पीएम कई बार किसानों संदेश दे चुके हैं कि ये कानून उनकी भलाई के लिए हैं और विपक्ष इन कानूनों के बारे में भ्रांतियां फैला रहा है।

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जाने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है |