राष्ट्रीय

31 जनवरी से दो फरवरी तक चलाया जाएगा विशेष पल्स पोलियो अभियान,राष्ट्रपति बच्चों को पोलियो ड्रॉप पिला करेंगे शुभारंभ

Khaskhabar/कोविड -19 के खिलाफ सबसे बड़े टीकाकरण अभियान के बीच, भारत 31 जनवरी से अपना राष्ट्रीय पोलियो प्रतिरक्षण कार्यक्रम भी शुरू करेगा। इस साल जो अभियान 17 जनवरी से शुरू होना था वो 31 जनवरी से शुरू होगा। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद 30 जनवरी को राष्ट्रपति भवन से 11:45 पर बच्चों को पोलियो ड्रोप पिलाकर राष्ट्रीय टीकाकरण दिवस का शुभारंभ करेंगे।

Khaskhabar/कोविड -19 के खिलाफ सबसे बड़े टीकाकरण अभियान के बीच, भारत 31 जनवरी से अपना राष्ट्रीय पोलियो प्रतिरक्षण कार्यक्रम भी शुरू करेगा। इस साल जो पोलियो अभियान 17 जनवरी से शुरू होना था वो 31 जनवरी से शुरू होगा।
Posted by khaskhabar

पल्स पोलियो टीकाकरण अभियान कार्यक्रम को लेकर एडीसी सतबीर सिंह कुंडू ने विभिन्न विभागों के अधिकारियों की बैठक ली। बैठक में एडीसी सतबीर सिंह कुंडू ने जिले में 31 जनवरी से दो फरवरी तक चलाए जाने वाले अभियान को सफल बनाने के लिए निर्देश दिए।

भारत को पोलियो से मुक्त घोषित किया जा चुका

उन्होंने कहा कि इस अभियान के सभी संबंधित विभाग आपसी तालमेल के साथ कार्य करें ताकि जिला में यह अभियान पूरी तरह सफल रहे। एडीसी ने कहा कि भारत को पोलियो से मुक्त घोषित किया जा चुका है, लेकिन कुछ पड़ोसी देशों में पोलियो की बीमारी रहने से संक्रमण का अंदेशा बना रहता है। इस अभियान के दौरान शून्य से पांच वर्ष आयु वर्ग के सभी बच्चों को दो बूंद जिदगी की खुराक अवश्य पिलाई जाए।

उन्होंने कहा कि पल्स अभियान के तहत 31 जनवरी को विभिन्न बूथों पर पोलियो की खुराक पिलाई जाएगी। जबकि पोलियो की खुराक से वंचित रहने वाले बच्चों को 1 व 2 फरवरी को टीमों द्वारा घर-घर जाकर खुराक पिलाई जाएगी। अभियान के तहत एक लाख 14 हजार 443 बच्चों को पोलियो की खुराक पिलाने का लक्ष्य रखा गया है, जिसके लिए 108 सुपरवाइजर तैनात किए गए हैं।

घर-घर जाकर पोलियो की खुराक पिलाई जाएगी

जिला आरसीएच अधिकारी डॉ. नरेश पालसिंह ने बताया की जिले के लगभग 1 लाख 98 हजार 425 बच्चों को खुराक पिलाई जाएगी, इसके लिए जिले में 1067 बूथ, 3100 वैक्सीनेशन टीमें, 164 सेक्टर सुपरवाइजर एवं लगभग 13000 पोलियो वाइल का उपयोग किया जाएगा।

यह भी पढ़े—मोदी सरकार से नाराज केजरीवाल आए राकेश टिकैत के समर्थन में,किसानों की मांगों को बताया वाजिब

प्रत्येक ब्लॉक पर एक-एक पर्यवेक्षक कार्य करेंगे

इसके अलावा जिला स्तरीय मॉनिटरिंग टीम का गठन किया गया हैं। जिसमें प्रत्येक ब्लॉक पर एक-एक पर्यवेक्षक कार्य करेंगे। साथ ही डब्ल्यूएचओ के मॉनिटर भी कार्यक्रम की मॉनिटरिंग करेंगे। सीएमएचओ डॉ. साजिद खान ने बताया कि जिले के विभिन्न चिकित्सा संस्थानों एवं पोलियो बूथ पर पोलियो की खुराक पिलाई जाएगी। जिला टास्क फोर्स एवं ब्लॉक टास्क फोर्स की बैठक का आयोजन कर सभी फील्ड स्टाफ को 0 से 5 वर्ष तक के हर बच्चे को खुराक पिलाने एवं मॉनिटरिंग टीम को दुर्गम क्षेत्रों में गहनता से विजिट करने के लिए पाबंद किया गया।

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जानने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है|