स्वास्थ

हरियाणा के पोल्ट्री फार्मों में लाखों मुर्गियों की संदिग्ध मौत,बर्ड फ्लू की आशंका

Khaskhabar/हरियाणा में बर्ड फ्लू का खतरा मंडरा रहा है। पंचकूला के बरवाला के पोल्ट्री फॉर्म्स में पिछले कुछ दिनों में लगभग एक लाख मुर्गियों की मौत के बाद हड़कंप मच गया है। पंचकूला में मुर्गियों की मौत के बाद उनके सैंपल पशुपालन विभाग द्वारा लिए गए हैं। मुर्गियों की मौत से बर्ड फ्लू की आशंका जताई जा रही है। हालांकि इसकी पुष्टि रिपोर्ट आने के बाद ही होगी। 

Khaskhabar/हरियाणा में बर्ड फ्लू का खतरा मंडरा रहा है। पंचकूला के बरवाला के पोल्ट्री फॉर्म्स में पिछले कुछ दिनों में लगभग एक लाख मुर्गियों की मौत के बाद हड़कंप मच गया है। पंचकूला में मुर्गियों की मौत के बाद उनके सैंपल पशुपालन विभाग द्वारा लिए गए हैं। मुर्गियों की मौत से बर्ड फ्लू की आशंका जताई जा रही है। हालांकि इसकी पुष्टि रिपोर्ट आने के बाद ही होगी।
Posted by khaskhabar

मुर्गियों को हर साल लगाई जाने वाली रानीखेत वैक्सीन में गड़बड़ी

वहीं पोल्ट्री फार्म मालिकों को आशंका है कि मुर्गियों को हर साल लगाई जाने वाली रानीखेत वैक्सीन में गड़बड़ी से भी ऐसा हो सकता है। पंचकूला में करीब 80 लाख मुर्गियां हैं। पंचकूला के रायपुररानी-बरवाला क्षेत्र में लगभग डेढ़ सौ पोल्ट्री फार्म हैं। वहीं मुर्गियों की मौत के अलावा बरवाला क्षेत्र में कई जगह पर पक्षी भी मरे हुए पाए गए।

Khaskhabar/हरियाणा में बर्ड फ्लू का खतरा मंडरा रहा है। पंचकूला के बरवाला के पोल्ट्री फॉर्म्स में पिछले कुछ दिनों में लगभग एक लाख मुर्गियों की मौत के बाद हड़कंप मच गया है। पंचकूला में मुर्गियों की मौत के बाद उनके सैंपल पशुपालन विभाग द्वारा लिए गए हैं। मुर्गियों की मौत से बर्ड फ्लू की आशंका जताई जा रही है। हालांकि इसकी पुष्टि रिपोर्ट आने के बाद ही होगी।
Posted by khaskhabar

पशुपालन और डायरी विभाग की टीम द्वारा पोल्ट्री फार्मो में ब्लड और प्रेक्टिकल सैम्पल लिये गये है। ये सैम्पल डॉक्टर कोमल पशु चिकित्सक डीडीएलए लैब पंचकूला की देखरेख में लिये गये है। सभी सैम्पलों को विभिन्न लैब में जांच के लिए भेजा हैं। रिपोर्ट आने के बाद ही पता चलेगा कि आखिर कौन से वायरस के कारण मुर्गियां दम तोड़ रही हैं।

नए संक्रमण ने संचालकों की परेशानी बढ़ा दी है

काबिलेजिक्र है कि रायपुररानी और बरवाला क्षेत्र में पोल्ट्री फॉर्म व्यवसाय कोरोना काल में समस्या बना हुआ है अब किसी नए संक्रमण ने संचालकों की परेशानी बढ़ा दी है। क्षेत्र में 150 पोल्ट्री फॉर्म है जिसमें से गंभीर वायरस के फैलने के कारण पिछले 20 दिनों में लाखों मुर्गियां रातों-रात मर गई। और अभी तक पोल्ट्री फॉर्म संचालकों व प्रशासन द्वारा कारणों की कोई पुष्टि नहीं की गई है। उधर देश में बर्ड फ्लू की पुष्टि के बाद पंचकूला के साथ लगते चंडीगढ़ में अलर्ट घोषित कर पक्षियों पर नजर रखने की तैयारी की गई है।

यह भी पढ़े—21 साल की उम्र में मां बनने पर बोलीं रवीना टंडन,लोग कहते थे कोई मुझसे शादी नहीं करेगा

वेटरिनरी सर्जन डॉ. शरद खैरवाल ने बताया कि कई फार्मों में अचानक मुर्गियों के मरने की जानकारी मिलते ही विभाग की टीम द्वारा सैंपल लिया गया है। बिना किसी लैबोरेट्री रिपोर्ट के कारण बताना मुश्किल है। रिपोर्ट आने तक सभी फार्मर्स को उचित साफ-सफाई और फार्म में लेबर व बाहरी लोगों को एंट्री न देने संबंधी हिदायतें जारी कर दी हैं।

पिछले कुछ दिनों में रोजाना 5 से 6 मुर्गियों लगातार मर रही हैं

रोजाना इलाके में लोगों को 10 से 12 पक्षी मरे हुए पेड़ों के नीचे गिरे दिखाई देते हैं. बरवाला के हरिपुर गांव में नवीन पोल्ट्री फॉर्म के संचालक सीताराम और स्वर्ण सिंह ने बताया कि पिछले कुछ दिनों में रोजाना 5 से 6 मुर्गियों लगातार मर रही हैं. लगातार मुर्गियों की मौत को देखते हुए पशुपालन विभाग और स्वास्थ्य विभाग ने पोल्ट्री फॉर्म संचालकों से सैंपल लिए थे. अब रिपोर्ट के आने का इंतजार है. 

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जाने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है|