राष्ट्रीय

साइबर:पुलिस ने करमाटांड़ थाना क्षेत्र के देवलबाड़ी गांव में छापेमारी कर तीन साइबर अपराधियों को किया गिरफ्तार

Khaskhabar/साइबर:पुलिस ने करमाटांड़ थाना क्षेत्र के देवलबाड़ी गांव में छापेमारी कर तीन अपराधियों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार साइबर अपराधियों में नारायण मंडल, विकास मंडल तथा जितेंद्र मंडल शामिल है। जबकि एक अन्य साइबर अपराधी अजय मंडल मौके से फरार होने में सफल हो गया। गिरफ्तार अपराधियों के पास से पुलिस ने 7 एंड्राइड मोबाइल, 14 सिम कार्ड के अलावा एक मोटरसाइकिल जप्त किया है।

Khaskhabar/साइबर:पुलिस ने करमाटांड़ थाना क्षेत्र के देवलबाड़ी गांव में छापेमारी
Posted by khaskhabar

गिरफ्तार साइबर अपराधियों के विरुद्ध साइबर थाना में कांड संख्या 60/20 दर्ज किया गया है। बताया गया है कि पुलिस अधीक्षक दीपक कुमार सिन्हा को गुप्त सूचना मिली थी कि करमाटांड़ थाना क्षेत्र के देवलबाड़ी गांव के बाहर से साइबर अपराधी लोगों को ठगने का प्रयास कर रहे है। सूचना मिलने के बाद एसपी ने साइबर थाना प्रभारी सुनील चौधरी के नेतृत्व में छापेमारी दल का गठन किया। गठित टीम ने छापेमारी कर तीनों अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया।

Khaskhabar/साइबर:पुलिस ने करमाटांड़ थाना क्षेत्र के देवलबाड़ी गांव में छापेमारी
Posted by khaskhabar

बताया जाता है कि गिरफ्तार नारायण मंडल पूर्व में भी साइबर ठगी के मामले में जेल जा चुका है। जबकि फरार साइबर अपराधी अजय मंडल शातिर ठग है। पुलिस को लंबे समय से अजय की तलाश है। वहीं दूसरी ओर गिरफ्तार विशाल मंडल का काशीटार गांव का रहने वाला है। वह ठगी के के लिए वहां गया था। हालांकि वहां उसका मामा घर भी है। जबकि नारायण मंडल करमाटांड़ थाना क्षेत्र के रामपुर माधोपुर गांव का रहने वाला है। जानकार सूत्र बताते हैं कि मौके पर विभिन्न गांव के युवक आपस में बैठकर लोगों को फंसाने का प्रयास कर रहे थे।

शुक्रवार को न्यायिक हिरासत में भेजा गया

वही दूसरी तरफ देश के विभिन्न राज्यों के सौ से अधिक लोगों से साइबर ठगी करने वाले साइबर अपराधी धनेश्वर मंडल को नाटकीय तरीके से नारायणपुर पुलिस ने मोहनपुर जाने के क्रम में गिरफ्तार किया। उक्त अपराधी नारायणपुर थाना क्षेत्र के मिर्गा ग्राम का निवासी है। इनके विरुद्ध वर्ष 2015 में साइबर ठगी का प्राथमिकी नारायणपुर थाने में दर्ज हुआ था। इस मामले में वह एक बार जेल भी जा चुका है। उसे शुक्रवार को न्यायिक हिरासत में जामताड़ा जेल भेजा गया।

यह भी पढ़े—पेपर मिलों के प्लास्टिक कचरे से नहीं होगा वायु प्रदूषण,उ.प्र. प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड

भागने का प्रयास किया पर दबोच लिया गया

पुलिस को खबर थी कि उक्त अपराधी पुन: साइबर ठगी कर रहा है। इसी जानकारी के आधार पर जामताड़ा साइबर थाना में इसी वर्ष कांड अंकित किया गया था। कांड में आरोपी के विरुद्ध न्यायालय का वारंट निकला था । पुलिस को उसकी तलाश थी । पुलिस को पुख्ता खबर थी कि वह अपने साथी के साथ ससुराल सिकरपोसनी बलेनो चार पहिया वाहन से निकला है। थाना प्रभारी अजीत कुमार के निर्देश पर पुलिस अधिकारी उपेंद्र सिंह ने वाहन जांच मोहनपुर में लगाया। वाहन रोकने पर वह भागने का प्रयास किया पर दबोच लिया गया।

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जाने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है |