राष्ट्रीय

शासनादेश जारी आंगनबाड़ी कार्यकत्री व सहायिका के 561 रिक्त पदों पर जल्द होगी नियुक्ति

Khaskhabar/ग्रामीण व शहरी क्षेत्र में रहने वाली बेरोजगार हाईस्कूल व पांचवीं पास महिलाओं के लिए अच्छी खबर है। यदि उनके गांव या मुहल्ले में आंगनबाड़ी कार्यकत्री व सहायिका के रिक्त पदों पर नियुक्ति को लेकर कार्यवाही शुरू हो गई है। इसके लिए बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग ने शासनादेश जारी कर दिया है। जिले में कार्यकत्री व सहायिका के 561 पद खाली हैं।

Khaskhabar/ग्रामीण व शहरी क्षेत्र में रहने वाली बेरोजगार हाईस्कूल व पांचवीं पास महिलाओं के लिए अच्छी खबर है। यदि उनके गांव या मुहल्ले में आंगनबाड़ी कार्यकत्री व सहायिका के रिक्त पदों पर नियुक्ति को लेकर कार्यवाही शुरू हो गई है। इसके लिए
Posted by khaskhabar

चयन के लिए निर्धारित पात्रता शर्त

ग्रामीण क्षेत्र में ग्राम सभा व शहरी क्षेत्र में संबंधित वार्ड की सहायिका, जो पांच वर्ष की सेवा पूरी कर चुकी हैं उन्हें वरीयता दी जाएगी। आंगनबाड़ी कार्यकत्री व सहायिका की नियुक्ति गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले परिवार के सदस्यों को प्रथम वरीयता दी जाएगी। सहायिका के उपलब्ध न होने पर निराश्रित महिला, तलाकशुदा को वरीयता मिलेगी।

गांव को कुपोषण मुक्त बनाने के लिए बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग आंगनबाड़ी केंद्रों का संचालन कर रहा है। केंद्र पर पंजीकृत लाभार्थियों तक पोषक आहार व अन्य जानकारियां उपलब्ध कराने के लिए 3095 आंगनबाड़ी केंद्र खोले गए हैं। इनमें 2795 आंगनबाड़ी केंद्र व 300 मिनी आंगनबाड़ी केंद्र हैं। जिले में आंगनबाड़ी कार्यकत्री के 279 व सहायिका क 282 पद रिक्त हैं। ऐसे में केंद्र का संचालन प्रभावित हो रहा है।

रिक्त पदों पर नियुक्ति को लेकर शासनादेश जारी

अपर मुख्य सचिव एस. राधा चौहान ने आंगनबाड़ी कार्यकत्री व सहायिका के रिक्त पदों पर नियुक्ति को लेकर शासनादेश जारी कर दिया है। कार्यकत्री के लिए हाईस्कूल व सहायिका के लिए कक्षा पांच पास होना अनिवार्य है। आवेदिका की न्यूनतम आयु 21 व अधिकतम 50 वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए। नियुक्ति को लेकर जिला स्तरीय चयन समिति बनाई गई है। डीपीओ मनोज कुमार ने शासनादेश जारी होने की पुष्टि की है।

आरक्षण की क्या होगी स्थिति

आंगनबाड़ी कार्यकत्री, सहायिका व मिनी आंगनबाड़ी कार्यकत्री के चयन अनुसूचित जाति व जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग, दिव्यांग, स्वतंत्रता संग्राम सेनानी के आश्रितों के अलावा आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लिए समय-समय पर जारी शासनादेश का पालन किया जाएगा।

यह भी पढ़े—बिटकॉइन समेत सभी क्रिप्टोकरेंसी पर लगेगी पाबंदी,Budget Session में विधेयक लायेगी सरकार!

समायोजन की बनी व्यवस्था

यदि किसी आंगनबाड़ी कार्यकत्री, मिनी आंगनबाड़ी कार्यकत्री या सहायिका की शादी के बाद उसके ससुराल के ग्रामसभा या शहरी वार्ड में पद रिक्त है तो उसका समायोजन किया जाएगा। पद से एक से अधिक होने पर डीएम निर्णय लेंगे। एक केंद्र पर एक ही परिवार की आंगनबाड़ी कार्यकत्री व सहायिका की नियुक्ति नहीं होगी।

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जानने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है|