दिलीप सिंह
दुनिया

लंदन के महाराजा दिलीप सिंह के बेटे के मेन्शन का 150 करोड़ रूपए में सौदा, जानिए क्या उसका इतिहास

KhasKhabar|ब्रिटेन में भारत के इतिहास से जुडी एक अहम इमारत बिक रही है। महाराजा रणजीत सिंह के बेटे दिलीप सिंह के बेटे प्रिंस विक्टर अल्बर्ट जय दिलीप सिंह को राजघराने की ओर से रहने के लिए मिला मेंशन अब बिक रहा है। इसका सौदा 1.55 करोड़ पाउंड (करीब 150 करोड़ रुपये) में हुआ है।

दिलीप सिंह
Maharaja Duleep Singh In Londen.

दिलीप सिंह सिख साम्राज्य के आखिरी महाराजा थे, उनकी सल्तनत में लाहौर समेत पाकिस्तान का बहुत बड़ा इलाका भी शामिल था। 19 वीं सदी में जब उनका साम्राज्य ब्रिटिश उपनिवेश का हिस्सा बन गया तो वह इंग्लैंड चले गए। वहीं पर महारानी बैंबा मुलर से सन 1866 में प्रिंस विक्टर का जन्म हुआ, जिन्हें बाद में ब्रिटेन की तत्कालीन महारानी विक्टोरिया का संरक्षकत्व मिला।

यह भी पढ़े — प्रधानमंत्री आवास में नरेंद्र मोदी का मोर प्रेम,हाथों में दाने लेकर मोर को खिलाते दिखे

ब्रिटिश राजघराने में हुआ विवाह

प्रिंस जब बड़े हुए तो उनका विवाह ब्रिटिश राजघराने के नौवें अर्ल ऑफ कॉवेंट्री की बेटी एनी कॉवेंट्री से हुआ। इससे प्रिंस का ब्रिटिश समाज में ओहदा ऊंचा हो गया और वह ब्रिटेन के शाही परिवार के सदस्य समझे जाने लगे। तभी उन्हें रहने के लिए साउथ-वेस्ट केनसिंग्टन इलाके के द लिटिल बोल्टंस इलाके में यह शानदार मेंशन मिला और खर्च के लिए शाही खजाने से रकम तय हुई।

दिलीप सिंह
Posted By – Khas Khabar

यह मेंशन ऊंची छतों वाले अपने कमरों, बड़े लिविंग स्पेस और सामने स्थित शानदार बगीचे के लिए जाना जाता था। यह मेंशन कुछ समय के लिए ईस्ट इंडिया कंपनी की संपत्ति भी रहा लेकिन उसके बाद यह दिलीप सिंह परिवार के पास आ गया।

बता दें कि महाराजा दिलीप सिंह को 1849 में द्वितीय आंग्ल-सिख युद्ध के बाद उनकी पदवी के साथ पंजाब से हटा दिया गया था और बाद में निर्वासन में लंदन भेज दिया गया था। प्रिंस विक्टर अल्बर्ट जय दलीप सिंह महारानी बंबा मूलर से उनके सबसे बड़े बेटे थे। बंबा से उन्हें एक बेटी सोफिया दिलीप सिंह भी थी, जो ब्रिटिश इतिहास में एक प्रमुख महिला अधिकार कार्यकर्ता के रूप में प्रसिद्ध हुईं।

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जाने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar
फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है|