Ram Mandir
राष्ट्रीय

राम मंदिर शिलान्यास से बुरी तरह से जला पाकिस्तान, इमरान के मंत्री ने दिया ये बेतुका बयान

अयोध्या में बन रहे राम मंदिर से पाकिस्तान देश काफी दुखी है और इस मसले पर इस देश के रेल मंत्री शेख रशीद ने विवादित बयान दिया है। इमरान खान सरकार के रेल मंत्री शेख रशीद ने बयान देते हुए मोदी सरकार की आलोचना की और इसे सांप्रदायिक करार दिया। रशीद ने एक बयान में कहा कि भारत अब राम नगर हो गया है। वहां सेक्युलरिज्म नहीं रहा। भारत में अब हिंदूवादी ताकतें हावी हो गई हैं। रशीद का ये बयान मंगलवार को आया है।

मोदी पर साधना चाहा निशाना

राम मंदिर

रशीद ने राम मंदिर के बहाने भारत के पीएम नरेंद्र मोदी पर निशाना साधना चाहा है। इन्होंने अपने बयान में कहा कि साफ तौर पर कहूं तो भारत अब सेक्युलर रहा ही नहीं। वहां अल्पसंख्यकों को दिक्कत हो रही है। भारत अब श्रीराम के हिंदुत्व में ढल चुका है। रशीद ने राम मंदिर और कश्मीर मुद्दे को जोड़ते हुए कहा कि ये संयोग ही है कि जिस दिन मोदी राम मंदिर का भूमि पूजन करेंगे। उसी दिन जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाए हुए एक साल हो रहा है। ‘पाकिस्तान के मुसलमान कश्मीरियों के साथ खड़े हैं। भारत उन्हें यह तय करने का मौका दे कि वे किसके साथ रहना चाहते हैं।’

राम मंदिर

गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने पिछले साल 5 अगस्त को ही अनुच्छेद 370 को जम्मू कश्मीर से हटाया था और एक साल बाद इसी दिन राम मंदिर का भूमि पूजन अयोध्या में किया गया है। जिससे की पाकिस्ता को मिर्ची लग गई है और पाक के मंत्री ऐसे बयान दे रहे हैं। हालांकि इस तरह का बयान देने से पहले रशीद को पहले अपने देश की स्थिति पर ध्यान देना चाहिए। पाकिस्तान में किस तरह से अल्पसंख्यकों को परेशान किया जाता है और जबरन उनका धर्म परिवर्तन किया जाता है। ये किसी से छुपा नहीं है। लेकिन अपने देश के अल्पसंख्यकों के हालत से ज्यादा रशीद को भारत में रह रहे अल्पसंख्यकों के लिए दुख हो रहा है।

यह भी पढ़े — Ayodhya: राम मंदिर भूमि पूजन में PM मोदी को ये खास भेंट,साथ ही अतिथियों को दिए जाएंगे 2-2 चांदी के सिक्के

जारी किया था नया मानचित्र

राम मंदिर

पाकिस्तान ने मंगलवार को एक नया ‘राजनीतिक मानचित्र’ भी जारी किया और इसके तहत पूरे जम्मू-कश्मीर और गुजरात के कुछ हिस्सों पर अपना अधिकार बताया था। पाक प्रधानमंत्री इमरान खान ने पाकिस्तान का नया राजनीतिक मानचित्र जारी करते हुए कहा था कि मंगलवार को इसे संघीय कैबिनेट ने मंजूरी दी है। हालांकि भारत ने इस मानचित्र को ‘हास्यास्पद’ बताया था और कहा था कि इस नक्शे की न तो कानूनी वैधता है न ही अंतरराष्ट्रीय विश्वसनीयता। भारत विदेश मंत्रालय की और से बयान जारी कर कहा गया था कि ‘हमने पाकिस्तान का एक तथा कथित ‘राजनीतिक मानचित्र’ देखा है। जो कि प्रधानमंत्री इमरान खान ने जारी किया है। ये एक राजनीतिक मूर्खता है। जिसमें भारत के राज्य गुजरात और केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर तथा लद्दाख पर दावा किया गया है।’ इन मूर्खतापूर्ण बातों की न तो कोई कानूनी वैधता है न ही अंतरराष्ट्रीय विश्वसनीयता।

गौरतलब है कि पाकिस्तान देश चीन के इशारों पर ये सब कर रहा है। पाकिस्तान से पहले चीन की इशारों पर नेपाल ने भी अपने देश का नक्शा जारी किया था और भारत के इलाकों पर अपने देश का हिस्सा बताया था।

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जाने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar
फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है|