राष्ट्रीय

यूपीए सरकार ने PM राहत कोष से राजीव गाँधी फाउंडेशन को दिए थे करोडो रूपए, जेपी नड्डा ने किया खुलासा

नई दिल्ली| कांग्रेस भाजपा के बीच चीन के मुद्दे पर हो रही बहस अब वंशवाद और भ्रष्टाचार तक पहुंच गयी है| भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए गाँधी परिवार पर निशाना साधा है | उन्होंने एक रिपोर्ट का खुलासा करते हुए बताया की यूपीए सरकार ने कार्यकाल के दौरान प्रधानमंत्री नेशनल रिलीफ फंड (पीएमएनआरएफ) का पैसा राजीव गांधी फाउंडेशन (आरजीएफ) को दिया गया था। सोनिया PMNRF के बोर्ड में भी थीं और राजीव गाँधी फाउंडेशन की अध्यक्ष भी थीं।

यूपीए सरकार
source – asiantimestv

रिलीफ फण्ड की रकम जरुरतमंदो के लिए होती है

जेपी नड्डा जी ने ट्वीट में बताया की रिलीफ फण्ड की रकम का इस्तेमाल जरुरतमंदो की मदद के लिए किया जाना चाहिए था बजाय उस पैसे को राजीव गांधी फाउंडेशन में ट्रांसफर करके यूपीए सरकार ने देश के साथ धोखा किया है|
नड्डा ने कहा है कि गांधी परिवार की दौलत की भूख की वजह से देश को बड़ा नुकसान हुआ है। अपने फायदे के लिए की गई इस बेरोकटोक लूट पर कांग्रेस के राजवंश को माफी मांगनी चाहिए।

जानिए राजीव गांधी फाउंडेशन के बारे में\

राजीव गांधी फाउंडेशन की शुरुवात पूर्व प्रधानमन्त्री राजीव गांधी के लक्ष्यों को पूरा करने के लिए 21 जून 1991 में सोनिया गांधी ने की थी | फाउंडेशन एजुकेशन, साइंस एंड टेक्नोलॉजी के प्रमोशन, शोषित (अंडरप्रिवलेज्ड) और दिव्यांगों के एम्पावरमेंट के लिए काम करती है एवं फाउंडेशन का ऑपरेशनल एक्सपेंस डोनेशन से मिले पैसे से होता है|

अभी भारत चीन सीमा विवाद के बाद कांग्रेस ने भाजपा पर कायर होने का इल्जाम लगाया था जिसके पलटवार में भाजपा प्रमुख ने कांग्रेस और चीन के सम्बन्धो पर सवाल खड़े कर दिए और फाउंडेशन को चीन से आये डोनेशन 3 लाख डॉलर के डोनेशन पर निशाना साधा|

यह भी पढ़े —- यूपी के कानपुर में भीषण सड़क हादसा, तेज रफ्तार ट्रक की टक्कर से टेंपो सवार दो बच्चों सहित पांच की मौत