राष्ट्रीय

मोदी सरकार से नाराज केजरीवाल आए राकेश टिकैत के समर्थन में,किसानों की मांगों को बताया वाजिब

Khaskhabar/राकेश टिकैत के समर्थन में केजरीवाल|गाजियाबाद प्रशासन द्वारा गाजीपुर बॉर्डर पर धरना स्थल को खाली करने का अल्टीमेटम दिए जाने के बावजूद किसानों का प्रदर्शन लगातार जारी है। सैकड़ों की तादाद में किसान शुक्रवार को भी दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे पर डटे हुए हैं और लगातार किसानों का आना जारी है। यहां एकत्रित लोगों की संख्या रातभर में ही बढ़ गई थी। भारतीय किसान यूनियन (बीकेयू) नेता राकेश टिकैत की अगुवाई में बीकेयू के सदस्य 28 नवंबर से ही प्रदर्शन कर रहे।

Khaskhabar/राकेश टिकैत के समर्थन में केजरीवाल|गाजियाबाद प्रशासन द्वारा गाजीपुर बॉर्डर पर धरना स्थल को खाली करने का अल्टीमेटम दिए जाने के बावजूद किसानों का प्रदर्शन लगातार जारी है। सैकड़ों की तादाद में किसान शुक्रवार को भी दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे पर डटे हुए हैं और लगातार किसानों का आना जारी है। यहां
Posted by khaskhabar

शांति से आंदोलन कर रहे किसान नेताओं पर झूठे केस करना सरासर ग़लत

टिकैत ने ट्वीट में किसानों के वास्ते प्रबंध करने को लेकर सीएम केजरीवाल को धन्यवाद दिया था। केजरीवाल ने लिखा कि, ‘राकेश जी, हम पूरी तरह से किसानों के साथ हैं। आपकी मांगें वाजिब हैं। किसानों के आंदोलन को बदनाम करना, किसानों को देशद्रोही कहना और इतने दिनों से शांति से आंदोलन कर रहे किसान नेताओं पर झूठे केस करना सरासर ग़लत है।’

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने आंदोलन कर रहे किसानों की मांगों को जायज़ तथा उन्हें बदनाम करने की कोशिश को पूरी तरह गलत करार देते हुए शुक्रवार को कहा कि उनकी आम आदमी पार्टी (आप) किसानों के जारी आंदोलन का पूरा समर्थन करती है। केजरीवाल किसान नेता राकेश टिकैत के के ट्वीट का उत्तर दे रहे थे।

दिल्ली सरकार के इंतजामों का जायजा लेने के लिए शुक्रवार को गाजीपुर बार्डर का दौरा

केजरीवाल ने लिखा, ‘‘राकेश जी, हम पूरी तरह से किसानों के साथ हैं। आपकी मांगें वाजिब हैं। किसानों के आंदोलन को बदनाम करना, किसानों को देशद्रोही कहना और इतने दिनों से शांति से आंदोलन कर रहे किसान नेताओं पर झूठे केस करना सरासर ग़लत है।’’ दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने आंदोलनकारी किसानों के लिए किये गये दिल्ली सरकार के इंतजामों का जायजा लेने के लिए शुक्रवार को गाजीपुर बार्डर का दौरा किया। ये किसान नये कृषि कानून वापस लेने की मांग कर रहे हैं।

यह भी पढ़े—दिल्ली में इजरायली दूतावास के पास IED ब्लास्ट, कई कारों से शीशे टूटे,जांच में जुटी पुलिस

BJP के आदेश पर पुलिस किसानों तक पानी जैसी मूलभूत सुविधाएं भी नहीं पहुंचने दे रही

वहीं सत्येंद्र जैन ने ट्वीट करते हुए कहा है कि ‘मुख्यमंत्री श्री अरविन्द केजरीवाल जी के आदेशानुसार दिल्ली सरकार ने किसानों के लिए पानी के टैंकर बॉर्डर पर भिजवा दिए हैं लेकिन BJP के आदेश पर पुलिस किसानों तक पानी जैसी मूलभूत सुविधाएं भी नहीं पहुंचने दे रही है | यह भाजपा की गंदी राजनीति के साथ-साथ मानव अधिकार का भी उल्लंघन है |’ बता दें कि दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने आंदोलनकारी किसानों के लिए किये गये दिल्ली सरकार के प्रबंधों का जायजा लेने के लिए शुक्रवार को गाजीपुर बार्डर का दौरा किया। ये किसान नये कृषि कानून रद्द करने की मांग कर रहे हैं।

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जानने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है|