राष्ट्रीय

मुस्लिम/ईसाई बन चुके दलित को आरक्षण का लाभ नहीं मिलेगा,नहीं लड़ सकेंगे चुनाव: कानून मंत्री

Khaskhabar/केंद्रीय मंत्री ने कहा कि इस्लाम या ईसाई धर्म में धर्मान्तरित होने वाले दलित उम्मीदवार अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित संसदीय या विधानसभा सीटों पर चुनाव लड़ने के लिए पात्र नहीं होंगे.कानून और न्याय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने गुरुवार को राज्यसभा में एक सवाल का जवाब देते हुए कहा कि इस्लाम या ईसाई धर्म में धर्मान्तरित होने वाले दलित उम्मीदवार अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित संसदीय या विधानसभा सीटों पर चुनाव लड़ने के लिए पात्र नहीं होंगे.

Khaskhabar/केंद्रीय मंत्री ने कहा कि इस्लाम या ईसाई धर्म में धर्मान्तरित होने वाले दलित उम्मीदवार अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित संसदीय या विधानसभा सीटों पर चुनाव लड़ने के लिए पात्र नहीं होंगे.कानून और न्याय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने गुरुवार को राज्यसभा में एक सवाल का जवाब देते हुए कहा कि इस्लाम या ईसाई धर्म में धर्मान्तरित
Posted by khaskhabar

ऐसे लोगों को आरक्षण से जुड़ा कोई लाभ भी नहीं मिल पाएगा

इसके अलावा ऐसे दलित लोगों को आरक्षण से जुड़ा कोई लाभ भी नहीं मिल पाएगा. उन्होंने अपने जवाब में कहा कि हिंदू, सिख और बौद्ध धर्म अपनाने वाले लोग अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित सीटों से चुनाव लड़ने और अन्य आरक्षण लाभ पाने के लिए पात्र होंगे. प्रसाद ने बीजेपी सदस्य जी वी एल नरसिम्हा राव के एक सवाल के जवाब में स्पष्ट किया.

मंत्री का यह कथन इस्लाम धर्म और ईसाई धर्म अपनाने वाले दलितों के बीच स्पष्ट अंतर रखता है

प्रसाद ने आरक्षित निर्वाचन क्षेत्रों से चुनाव लड़ने की पात्रता पर बोलते हुए कहा, “संविधान के पैरा 3 (अनुसूचित जाति) आदेश की रूपरेखा है कि कोई भी व्यक्ति जो हिंदू, सिख या बौद्ध धर्म से अलग धर्म को मानता है, उसे अनुसूचित जाति का सदस्य नहीं माना जाएगा.” मंत्री का यह कथन इस्लाम धर्म और ईसाई धर्म अपनाने वाले दलितों के बीच स्पष्ट अंतर रखता है कि वे हिंदू धर्म, सिख धर्म या बौद्ध धर्म को अपनाते हैं. केंद्रीय कानून मंत्री ने हालांकि स्पष्ट किया कि संसदीय या विधानसभा चुनाव लड़ने से इस्लाम या ईसाई धर्म में धर्मांतरण करने वाले एससी/एसटी को जनप्रतिनिधित्व कानून में किसी भी संशोधन में लाने का कोई प्रस्ताव नहीं था.

यह भी पढ़े—बजरंग दल कार्यकर्ता को श्रीराम का नारा लगाने मिली इतनी बड़ी सजा,घर में घुसे 25-30 लोग, पीठ में चाकू घोंप की हत्या

क़ानून मंत्री ने यह भी स्पष्ट किया कि संसदीय या लोकसभा चुनाव लड़ने वाले इस्लाम या ईसाई धर्म में परिवर्तित होने वाले अनुसूचित जाति/जनजाति के व्यक्ति को निषेध करने के लिए संशोधन का प्रस्ताव मौजूद नहीं।

रविशंकर प्रसाद ने गुरुवार को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स को लेकर चेतावनी जारी की

इन सभी के अलावा केंद्रीय सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने गुरुवार को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स को लेकर चेतावनी जारी की थी. उन्होंने कहा था कि फर्जी खबरें या भड़काऊ विषय सामग्रियों के फैलाए जाने पर उनके खिलाफ उचित कार्रवाई की जाएगी. संचार, इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री ने राज्यसभा में ट्विटर और फेसबुक जैसे प्लेटफॉर्म्स को देश में व्यापार के दौरान भारतीय नियमों का पालन करने के लिए कहा है. उन्होंने अपने दिए बयान में कहा, ”बोलने की स्वतंत्रता बेशक है, लेकिन अनुच्छेद 19ए कहता है कि इसमें कुछ प्रतिबंध भी हैं.”

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जाने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है|