Free entry for women visiting historical monuments on Women's Day
राष्ट्रीय

महिला दिवस के मौके पर एएसआई ने महिलाओं को दिया तोहफा,सभी संरक्षित स्मारकों में मिलेगी फ्री एंट्री

Khaskhabar/महिला दिवस के मौके पर एएसआई ने महिलाओं को तोहफा दिया.महिलाओं के अदृश्य संघर्ष को सलाम करने के लिए 8 मार्च को अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के रूप में मनाया जाएगा। इस अवसर पर केंद्र सरकार ने महिलाओं को बड़ा तोहफा देने का ऐलान किया है। 8 मार्च को भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण ने सभी संरक्षित स्मारकों में महिलाओं को निशुल्क प्रवेश देने का फैसला किया गया है।

Khaskhabar/महिला दिवस के मौके पर एएसआई ने महिलाओं को  तोहफा दिया.महिलाओं के अदृश्य संघर्ष को सलाम करने के लिए 8 मार्च को अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के रूप में मनाया जाएगा। इस अवसर पर केंद्र सरकार ने महिलाओं को बड़ा
Posted by khaskhabar

8 मार्च को सभी केंद्र संरक्षित स्मारकों में मुफ्त प्रवेश की अनुमति

मौके को खास बनाने के लिए भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) ने शनिवार को एक आदेश जारी किया है. इसमें कहा गया है कि विदेशी और भारतीय दोनों महिला आगंतुकों को अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के मौके पर 8 मार्च को सभी केंद्र संरक्षित स्मारकों में मुफ्त प्रवेश की अनुमति दी जाएगी.

एएसआई के तहत 3,691 केंद्र संरक्षित स्मारक हैं. आदेश में कहा गया है, ‘एएसआई के महानिदेशक ने निर्देश दिया है कि अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर सभी महिला आगंतुकों (घरेलू और विदेशी दोनों) से सभी टिकटों पर केंद्रित संरक्षित स्मारकों/ पुरातात्विक स्थलों पर कोई शुल्क नहीं लिया जाएगा और प्राचीन स्मारक और पुरातत्व स्थल और अवशेष नियम, 1959 की दूसरी अनुसूची में 8 मार्च, 2021 को निर्दिष्ट है.’

1959 के नियम 6 के तहत प्रदत्त शक्तियों के अभ्यास में जारी किया गया

यह आदेश प्राचीन स्मारकों और पुरातात्विक स्थलों और अवशेष नियमों, 1959 के नियम 6 के तहत प्रदत्त शक्तियों के अभ्यास में जारी किया गया है. बता दें इन स्थलों में लाल किला, ताजमहल, हुमायूं का मकबरा, कुतुब मीनार आदि आते हैं.जिसमें ताजमहल, लाल किला, कुतुब मीनार, हुमायूं का मकबरा, सूर्य मंदिर, एलोरा की गुफाओं, खजुराहो और अजंता की गुफाओं जैसे स्थानों में महिलाओं की फ्री एंट्री रहेगी।

यह भी पढ़े—एलोन मस्क की कंपनी टेस्ला ने अपनी वेबसाइट पर लांच किया नया सोशल एंगेजमेंट प्लेटफॉर्म

मुख्य उद्देश्य महिलाओं के सम्मान और अधिकार के प्रति लोगों को जागरूक करना

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस का मुख्य उद्देश्य महिलाओं के सम्मान और अधिकार के प्रति लोगों को जागरूक करना है। इस दिन दफ्तरों, स्कूल, सरकारी संस्थानों आदि जगहों पर महिलाओं का सम्मान भी किया जाता है, ताकि वो इस दिन खास महसूस कर सके। इसके साथ ही देशभर के विभिन्न जगहों पर कार्यक्रम भी आयोजित किए जाते है।

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जाने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है|