राष्ट्रीय स्वास्थ

महाराष्ट्र में फिर लग सकता है लॉकडाउन,आज शाम 7 बजे राज्य के नाम सम्बोधन,संजय राउत ने विपक्ष को ठहराया जिम्मेदार

Khaskhabar/महाराष्ट्र में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए सीएम उद्धव ठाकरे आज शाम 7 बजे राज्य की जनता को संबोधित करेंगे। इसके साथ ही लोकल ट्रेन में सफर करने को लेकर कुछ ठोस फैसला लिया जा सकता है। हालाकि फिर से लॉकडाउन लगने की उम्मीद कम ही है। कोरोना से जुड़े नियमों को तोड़ने पर सख्त कदम के साथ जुर्माने की राशि भी बढ़ाया जा सकता है।

Khaskhabar/महाराष्ट्र में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए सीएम उद्धव ठाकरे आज शाम 7 बजे राज्य की जनता को संबोधित करेंगे। इसके साथ ही लोकल ट्रेन में सफर करने को लेकर कुछ ठोस फैसला लिया जा सकता है। हालाकि फिर से
Posted by Khaskhabar

बीएमसी कर रही कार्रवाई

महाराष्ट्र में लगातार मामले बढ़ रहे हैं। कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए बीएमसी ने मुहिम तेज कर दी है। राज्य में नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ बीएमसी सख्त कदम उठा रही है। बीते 3 दिनों में 1305 इमारतों को सील किया गया है। बिना मास्क के यात्रा करने वालों के खिलाफ 300 मार्शल नियुक्त किए गए हैं, जिससे कोरोना के बढ़ते मामलों पर नियंत्रण कर सके।

महाराष्ट्र में कोरोना से मरने वालों की संख्या सबसे अधिक

देश में कोरोना वायरस से कुल 1 लाख 56 हजार 302 लोगों ने जान गंवाई है। जिनमें से सबसे ज्यादा महाराष्ट्र में कुल 51 हजार 735 मौत हुई है। जबकि तमिलनाडु में 12 हजार 457, कर्नाटक में 12 हजार292, दिल्ली में 10 हजार 898, पश्चिम बंगाल में 10 हजार 246, उत्तर प्रदेश में 8714 और आंध्र प्रदेश में 7167 मौंते हुई है। महाराष्ट्र में 3 महीने बाद पहली बार 6000 हजार नए केस मिले हैंं।

संजय राउत ने विपक्ष को ठहराया जिम्मेदार

संजय राउत ने कहा विपक्ष ही कुछ सार्वजनिक स्थलों को खोलने की मांग कर रहा था.संक्रमण के मामलों में वृद्धि के बीच शिव सेना सांसद संजय राउत (Sanjay Raut) ने शनिवार को दावा किया कि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) सभी सार्वजनिक स्थलों को खोलने के पक्ष में नहीं थे. उन्होंने कहा कि यह विपक्ष ही था, जो प्रतिबंधों को हटाने की मांग कर रहा था. राउत ने कहा कि मुख्यमंत्री ने स्थिति की समीक्षा की थी और वह महामारी के मद्देनजर कुछ खास स्थलों से प्रतिबंधों को हटाने के इच्छुक नहीं थे. उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन सरकार ने विपक्षी पार्टियों की मांगों की वजह से कुछ स्थानों को खोला.’’

यह भी पढ़े—32 की उम्र में इस बीमारी से जूझ रही नेहा कक्कड़, कहा मेरे पास पैसा, परिवार-करियर सब लेकिन इस बीमारी ने मुझे तोड़ दिया

शुक्रवार को कोविड-19 के 6,000 से ज्यादा नए मामले सामने आए

वह प्रत्यक्ष तौर पर राज्य के धार्मिक स्थलों को खोलने के लिए भाजपा द्वारा पिछले साल किए गए विरोध प्रदर्शन का हवाला दे रहे थे. महाराष्ट्र में तीन महीने बाद पहली बार शुक्रवार को कोविड-19 के 6,000 से ज्यादा नए मामले सामने आए हैं. वहीं उनसे जब 23 वर्षीय एक महिला की ‘आत्महत्या’ के मामले में शिव सेना मंत्री संजय राठौड़ से जुड़े आरोपों के बारे में सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि जांच जारी है और मुख्यमंत्री राठौड़ के बारे में उचित निर्णय लेंगे.

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जाने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है|