बेलारूस
दुनिया

बेलारूस में विरोध प्रदर्शन में उतरे लाखो लोग, तानाशाह राष्ट्रपति को हटाने की उठी मांग

KhasKhabar|बेलारूस (Belarus) की राजधानी मिन्स्क (Minsk) में 10 हजार से ज्यादा महिलाओं ने रैली निकालकर विरोध प्रदर्शन किया. ये रैली पिछले काफी दिनों से चल रहे सरकार विरोधी प्रदर्शनों से जुड़ी हुई थी जिसे बेलारूस सरकारी सुरक्षाबलों की बर्बाद कार्रवाई का जवाब माना जा रहा है.

बेलारूस
Posted By – Khas Khabar

राष्ट्रपति लुकाशेंको के विरोध में सड़कों पर बजाए बर्तन
बेलारूस के राष्ट्रपति एलेक्जेंडर लुकाशेंको (Alexander Lukashenko) के खिलाफ चल रहे विरोध प्रदर्शन के 35वें दिन महिलाओं की रैली में बर्तन बजाए गए और लुकाशेंको गद्दी छोड़ो के नारे लगाए गए. बेलारूस में पिछले पांच सप्ताह से लगातार लुकाशेंको के खिलाफ प्रदर्शन चल रहा है. प्रदर्शनकारी उनसे सत्ता छोड़ने की मांग कर रहे हैं|

यह भी पढ़े — मलेशिया, सिंगापुर, इंडोनेशिया और वियतनाम जैसे आसियान देशों के रास्ते भारत नहीं आ पाएगा चीनी सामान

लुकाशेंको पर अवैध तरीके से सत्ता पर कब्जा बनाए रखने का आरोप
बेलारूस के राष्ट्रपति एलेक्जेंडर लुकाशेंको पिछले 26 सालों से सत्ता संभाल रहे हैं. इस साल उन्हें काफी विरोधों का सामना करना पड़ा और उन्हें अपनी प्रतिद्वंद्वी स्वेतलाना तिखानोव्स्काया (Svetlana Tikhanovskaya) से तगड़ी चुनौती मिली, लेकिन जब चुनाव के नतीजे अए तो उसमें लुकाशेंको को 80 फीसदी मत मिले और फिर से उन्हें विजेता घोषित कर दिया गया. लेकिन उसके विरोध में जनता सड़कों पर उतर आई और आरोप लगाया कि लुकाशेंको ने चुनावी प्रक्रिया में गड़बड़ी कर सत्ता हथिया ली. लुकाशेंको पर अपने विरोधियों को ‘निपटाने और कुचलने’ के आरोप लगाए गए|

बेलारूस
Posted By – Khas Khabar

9 अगस्त के चुनावी नतीजे से बाद फैली हिंसा
बेलारूस में 9 अगस्त को राष्ट्रपति पद के लिए चुनावी नतीजे आए, जिसे बेलारूस की जनता ने मानने से इनकार कर दिया. लोग सड़कों पर उतर आए और कई जगहों पर सरकारी सुरक्षा बलों से उनकी भिड़त भी हुई. इन नतीजों के आने के दौरान ही तिखोनोव्स्काया पड़ोसी देश लिथुआनिया (Lithuania) चली गई. विरोध प्रदर्शन कर रहे लोगों का मानना है कि तिखोनोव्स्काया ही असली विजेता हैं. तब से लेकर अबतक बेलारूस की सड़कों पर काफी खून बह चुका है. और अब तक 7000 से अधिक लोग गिरफ्तार कर जेलों में ठूंसे जा चुके हैं.

सोमवार को पुतिन से मिलेंगे लुकाशेंको
बेलारूस के राष्ट्रपति एलेक्जेंडर लुकाशेंको को रूस से समर्थन हासिल है. रूस ने कहा है कि अगर जरूरत पड़ी तो वो मिन्स्क में अपनी सेना भी भेज सकता है. इस बीच सोमवार को लुकाशेंको रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin) से मुलाकात करेंगे. नए चुनावी नतीजों के बाद शुरू हुए हंगामे के बाद दोनों नेताओं के बीच ये पहली मुलाकात होगी|

और ज्यादा खबरे पढ़ने और जाने के लिए ,अब आप हमे सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते है –
ट्विटर पर फॉलो करने के लिए टाइप करे – @khas_khabar एवं न्यूज़ पढ़ने के लिए #khas_khabar फेसबुक पर फॉलो करने के लाइव आप हमारे पेज @socialkhabarlive को फॉलो कर सकते है|